भिलाई टाउनशिप के गंदे पानी की समस्या समाधान के लिए टास्क फोर्स गठित, इस नंबर 9109169759 पर आप करें शिकायत

सूचनाजी न्यूज, भिलाई। भिलाई इस्पात संयंत्र ने भिलाई टाउनशिप के गंदे पानी की समस्या के समाधान के लिए टास्क फोर्स का गठन किया है। इस समिति के चेयरमेन, मुख्य महाप्रबंधक (इनवायरमेंट मैनेजमेंट) डीएल मोइत्रा हैं। इस समिति के सदस्यों में महाप्रबंधक (जल प्रबंधन विभाग) उत्पल दत्ता, महाप्रबंधक (नगर सेवाएं विभाग-टीईडी) एवं संयोजक संजय कुमार, उप महाप्रबंधक (ब्लास्ट फर्नेस-8) एसके दोकानिया, उप महाप्रबंधक (इनवायरमेंट मैनेजमेंट) विष्णु पाठक, उप महाप्रबंधक (नगर सेवाएं विभाग) रवि फुले, उप महाप्रबंधक (नगर सेवाएं विभाग-पीएचई) डीसी सिंह, सहायक महाप्रबंधक (नगर सेवाएं विभाग-पीएचई) सुनील झा, सहायक महाप्रबंधक (जल प्रबंधन विभाग) रिजवान खान, सहायक महाप्रबंधक (एसएमएस-3) कमल किशोर शामिल हैं।

ये खबर भी पढ़ें:फायर ब्रिगेड के कर्मचारियों का आरोप-सेक्टर-9 अस्पताल में 500-500 की होती है वसूली

यह टास्क फोर्स समिति गंदे पानी से संबंधित विभिन्न कारणों का विश्लेषण करेगी। तांदुला तथा महानदी रिवर प्रोजेक्ट (एमआरपी) से मिलने वाले रॉ-वाटर की खराब गुणवत्ता से उत्पन्न समस्या, मरोदा-2 रिजर्व वायर में पानी के क्वालिटी की जांच, वाटर ट्रीटमेंट प्लांट, मरोदा के वाटर ट्रीटमेंट प्रोसेस की जानकारी व अवलोकन, वर्तमान में चल रहे केमिकल डोजिंग प्रोसेस का अध्ययन, भिलाई टाउनशिप के जल वितरण प्रणाली का अध्ययन व जांच तथा इस समस्या के मूल कारणों की पहचान कर इसके समाधान हेतु सुझाव प्रदान करना है। यह समिति भिलाई टाउनशिप में गुणात्मक जल आपूर्ति हेतु अपनी प्रारंभिक जांच का प्रतिवेदन 3 दिन में प्रस्तुत करेगी और विस्तृत प्रतिवेदन जिसमें पानी की गुणवत्ता को बेहतर करने के उपाय भी शामिल होंगे। इसे 15 दिन के भीतर प्रस्तुत करेगी।

ये खबर भी पढ़ें:बीएमएस मांग रहा 50 ग्राम सोने का सिक्का, प्रचार के दौरान कर्मचारी बोले-कम से कम 10 ग्राम ही दिला दें…

टास्क फोर्स गठन के साथ ही टीम ने अपना कार्य प्रारंभ कर दिया है। सेक्टर-2 के एक निवास से जांच हेतु पानी का सैम्पल लिया गया। नगरवासियों की सुविधा हेतु नगर सेवाएं विभाग के पीएचई विभाग ने गंदे पानी के शिकायत हेतु मोबाइल नंबर जारी किया है। भिलाई टाउनशिप के लोग गंदे पानी की शिकायत मोबाइल नंबर-9109169759 पर कर सकते है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!