भिलाई टाउनशिप की 19 किलोमीटर की सड़क होगी फोर लेन, चौड़ाई 15 मीटर तक

नगर सेवा विभाग प्रतिवर्ष अपने क्षेत्र की 20 किलोमीटर लंबी सड़कों का निर्माण एवं संधारण कार्य किया जा रहा है। सड़कों के संधारण और निर्माण में नगर सेवा विभाग काफी बड़ी राशि की बचत करता है।

सूचनाजी न्यूज, भिलाई। भिलाई टाउनशिप की सड़कों की सूरत बदलने जा रही है। 19 किलोमीटर की सड़क फोर लेन हो जाएगी। सड़क की चौड़ाई को सात मीटर से बढ़ाकर 15 मीटर किया जाएगा। इस तरह टाउनशिपवासियों को फोर लेन की सुविधा मिल जाएगी। टाउनशिप की कई ऐसी सड़कें हैं, जो बीएसपी स्थापना के बाद से पहली बार चौड़ी होने जा रही है। सड़क चौड़ीकरण के कार्य को करीब दो साल के भीतर पूर्ण करने का लक्ष्य रखा गया है।

ये खबर भी पढ़ें: Exclusive News: घरों की मस्त कराइएगा रंगाई-पोताई, सेल से 55 हजार तक वापस लीजिएगा मेरे भाई

भिलाई स्टील प्लांट के नगर सेवा विभाग के सड़क विभाग द्वारा ही अपने कुछ प्रमुख मार्गों का चौड़ीकरण करना आगामी दिनों में प्रस्तावित है। प्रस्तावित चौड़ीकरण की सड़कों में फारेस्ट एवेन्यू रोड (चोपड़ा पेट्रोल पंप से बोरिया गेट तक) को चौड़ा किया जाएगा। इसकी लंबाई करीब साढ़े चार किलोमीटर की है। इसी तरह गैरेज रोड सिक्स ट्री एवेन्यू रोड (32 बंगला से पावर हाउस रेलवे स्टेशन तक) सात किलोमीटर की सड़क चौड़ी हो जाएगी। रोड नंबर-2 (बोरिया गेट से श्रमवीर चौक तक) को भी संवारा जाएगा।

ये खबर भी पढ़ें: टाउनशिप में साढ़े 7 किमी लंबी नहर की सफाई जारी, ताकि घरों में पानी न घुसे अबकी बारी

रोड नंबर 04 (जवाहर उद्यान से सेल परिवार चौक सेन्ट्रल एवेन्यू) यानी 1.9 किलोमीटर की सड़क भी चौड़ी की जाएगी। रोड नंबर-06 (पंथी चौक फॉरेस्ट एवेन्यू से नेहरू नगर ओवर ब्रिज) तक करीब दो किलोमीटर तक को भी फोरलेन की सौगात मिल जाएगी। इसकी वर्तमान चौड़ाई सात मीटर है। चौड़ी होने के बाद 15 मीटर हो जाएगी। डिवाइडर भी बनाया जाएगा। वहीं, दो किलोमीटर लंबी रोड नंबर-07 (तालपुरी चौक से सेक्टर-08 चौक सिक्स ट्री एवं न्यू रोड) को भी चौड़ी की जाएगी।

ये खबर भी पढ़ें:SAIL ने 6000 करोड़ के प्रॉफिट पर दिया था 21 हजार बोनस, अबकी 12015 करोड़ का मुनाफा तो मिलेगा…

हर साल 20 किलोमीटर की सड़क की सुधरती है सेहत

भिलाई इस्पात संयंत्र के नगर सेवा विभाग द्वारा इस्पात नगरी भिलाई को स्वच्छ, और सुंदर बनाए रखने के लिए सतत रूप से प्रयास किया जाता है। इसमें सड़कों का निर्माण, मरम्मत और संधारण के साथ ही नालों, नालियों की सफाई, कचरा संग्रहण आदि किया जाता है। नगर सेवा विभाग प्रतिवर्ष अपने क्षेत्र की 20 किलोमीटर लंबी सड़कों का निर्माण एवं संधारण कार्य किया जा रहा है। सड़कों के संधारण और निर्माण में नगर सेवा विभाग काफी बड़ी राशि की बचत करता है।

ये खबर भी पढ़ें: SAIL चेयरमैन सोमा मंडल और डायरेक्टर इंचार्ज पर गंभीर आरोप लगाकर सड़कों पर बंट रहा पर्चा, बोकारो को इंदौर बनाने का दिखाया ख्वाब, बना नर्क…

टाउनशिप की सड़क की लंबाई 535 किलोमीटर, 600 टन लगता है डामर

भिलाई इस्पात संयंत्र की इस्पात नगरी में संपूर्ण सड़कों की कुल लंबाई लगभग 535 किलोमीटर है। सड़कों का संधारण कार्य करने के लिए प्रतिवर्ष 600 टन डामर की आवश्यकता होती है। संयंत्र के नगर सेवा विभाग द्वारा सड़कों के संधारण में डामर के स्थान पर संयंत्र के कोक ओवन विभाग से प्राप्त कोल टार का बखूबी उपयोग किया जा रहा है। इस कार्य में काफी बड़ी राशि की बचत होती है। संयंत्र के नगर सेवा विभाग द्वारा सड़कों के संधारण में कोक ओवन से प्राप्त सहायक उत्पाद के रूप में प्राप्त कोल टार का उपयोग किया जा रहा है। इससे न सिर्फ पैसों की बचत होती है, बल्कि पुनः डामरीकरण करने का खर्च भी बचता है।

ये खबर भी पढ़ें: मोजाम्बिक की धरती से सेल, कोल इंडिया, एनटीपीसी, आरआइएनएल और एनएमडीसी निकालेगा 8 एमटी और कोयला

बीएसपी कर रहा ढाई करोड़ की बचत

नगर सेवा विभाग इसी कोल टार का उपयोग सड़क निर्माण एवं मरम्मत कार्य के लिए करता है। वहीं राज्य शासन के अधीन विभाग एवं निकाय दूसरे स्थान पर “बिट्यूमेन” का उपयोग करता है, जिसका लागत मूल्य लगभग 65000 रुपये प्रति टन के लागत दर से खर्च होता है। इसकी तुलना में संयंत्र के सहायक उत्पाद कोल टार का लागत मूल्य काफी कम होता है। इससे लगभग 2.25 से 2.50 करोड़ों रुपए की बचत अनुमानित होती है।

ये खबर भी पढ़ें: सेल ने 6000 करोड़ के प्रॉफिट पर दिया था 21 हजार बोनस, अबकी 12015 करोड़ का मुनाफा तो मिलेगा…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!