300 कर्मचारियों व अधिकारियों को जून में मिलेगा 60 ग्राम चांदी का सिक्का, एक-एक कर्मी के नाम होगा पक्का बिल

भिलाई के पारख ज्वलेर्स से संपर्क किया गया है। वहां 4200 रुपए में 60 ग्राम चांदी के सिक्के पर सहमति बनी है।

अज़मत अली, भिलाई। स्टील अथॉरिटी ऑफ इंडिया लिमिटेड-सेल के भिलाई स्टील प्लांट के कर्मचारियों और अधिकारियों को 60 ग्राम चांदी का सिक्का मिलेगा। एक-एक कार्मिकों को जून में सिक्का उपहार के रूप में भेंट किया जएगा। बकायदा चांदी के सिक्के की खरीदी का पक्का बिल भी सौंपा जाएगा ताकि किसी तरह कोई विवाद न हो सके।

ये खबर भी पढ़ें:भिलाई स्टील प्लांट में स्थानीय के अलावा कर्मचारियों के बच्चों को मिले नौकरी में 50 फीसद आरक्षण

बीएसपी के बॉर एंड रॉड मिल में नॉन फाइनेंशियल स्कीम के तहत चांदी का सिक्का बांटने पर मुहर लग चुकी है। स्कीम के तहत एक-एक कार्मिकों हिस्से में करीब 4300 रुपए की राशि तय की गई है। भिलाई के पारख ज्वलेर्स से संपर्क किया गया है। वहां 4200 रुपए में 60 ग्राम चांदी के सिक्के पर सहमति बनी है। एक माह पहले 60 ग्राम सिक्के का भाव 4400 रुपए था, वर्तमान में 4200 रुपए है।

ये खबर भी पढ़ें:रूस-यूक्रेन वार घटा रहा था बीएसपी का इस्पात उत्पादन, चार माह बाद चेकोस्लोवाकिया से आया हॉट ब्लास्ट वॉल्व, अब बढ़ेगा प्रोडक्शन

ऑर्डर देने के 15 दिन के भीतर सप्लाई होने की उम्मीद है। सोमवार को विभागीय कमेटी बैठक करके ऑर्डर देने की प्रक्रिया शुरू कराएगी। फाइनेंस डिपार्टमेंट के जरिए ही ऑर्डर दिया जाएगा। कुल खरीदी में करीब सौ से डेढ़ सौ रुपए की बचत होगी। इस राशि का उपहार ठेका मजदूरों के बीच बांटा जाएगा। ठेका मजदूरों को दिए जाने वाले उपहार में अधिकारियों की तरफ से अतिरिक्त राशि मिलाने की बात तय हुई है।

ये खबर भी पढ़ें:Director’s Trophy Tournament 2022: आईआईटी बीएचयू, एनआइटी रायपुर और आईआईएम ने जीते लीग मैच

नॉन फाइनेंसियल मोटिवेशन स्कीम के तहत ठेका मजदूरों को भी उपहार दिया जाएगा। अब तक इस योजना के तहत ठेका मजदूरों को कहीं भी उपहार नहीं दिया गया है। कर्मचारियों और अधिकारियों ने बड़ा दिल दिखाते हुए ठेका मजदूरों को भी अपनी खुशी में शामिल किया है।

उत्पादन लक्ष्य हासिल करने पर मिलता है उपहार

भिलाई स्टील प्लांट उत्पादन लक्ष्य को हासिल करने वाले विभागों को नॉन फाइनेंसियल स्कीम के तहत अवॉर्ड देने की योजना शुरू की है। बॉर रॉड मिल-बीआरएम ने सबसे ज्यादा उत्पादन रिकॉर्ड तोड़ा है। आयेदिन कीर्तिमान रचे जा रहे हैं। बंपर उत्पादन का फल कार्मिकों को मिलने जा रहा है। प्रति कार्मिक करीब 4300 रुपए अवॉर्ड की राशि तय की गई है।

ये खबर भी पढ़ें:  Gama Pehlwan 144th Birth Anniversary: आधा लीटर घी और छह देशी चिकन डकार जाते थे गामा पहलवान, अमृतसर में जन्म और लाहौर में हुआ था इंतकाल

बेहतर उपहार का चुना विकल्प


बीएसपी के किसी भी विभाग में यह राशि सबसे अधिक है। राशि की घोषणा होते ही अधिकारी और कर्मचारी वर्ग ने आपस में मंथन किया। गिफ्ट के रूप में बर्तन, कंबल, लैपटॉप बैग आदि के बजाय चांदी के सिक्के पर सहमति बनी। ऐसा इसलिए किया गया है कि चांदी का सिक्का घरों में कैश के रूप में रहेगा।

ये खबर भी पढ़ें:15 साल में सेल में बढ़ी 137% लेबर प्रोडक्टिविटी, इकाइयों में बर्नपुर सबसे छोटी, लेकिन आंकड़े में टॉप पर, बोकारो दूसरे, बीएसपी तीसरे, राउरकेला चौथे और दुर्गापुर 5वें स्थान पर

पिछली बार 1100 रुपए का मिला था उपहार

कार्मिकों की टीम ने चांदी का बाजार भाव और क्वालिटी भी जांच ली है। बीआरएम के 300 अधिकारी और कर्मचारियों को करीब 60 ग्राम चांदी का सिक्का उपहार में दिया जाएगा। गिफ्ट को तय करने के लिए बनी कमेटी में जीएम-ऑपरेशन त्रिपाठी और जीएम-मैकेनिकल एसके बेहरा व कर्मचारी वर्ग से श्रावण पांडेय और नीरज चंद्राकर शामिल हैं। बताया जा रहा है कि बीआरएम में पिछली बार प्रति कर्मचारी 1100 रुपए की राशि तय की गई थी। इससे स्टील के बर्तन उपहार में दिए गए थे।

ये खबर भी पढ़ें:1600 कर्मचारियों को भारतीय रेलवे दे रहा पांच से सात दिन की छुट्‌टी व स्पेशल पास, जानिए पूरा मामला

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!