दुर्गापुर स्टील प्लांट में बोनस आंदोलन चलाने वाले 3 यूनियन के 4 नेताओ पर गिरी गाज, सातों यूनियन ने प्रबंधन को ललकारा, 6 को बड़ा प्रदर्शन

0
Chargesheet to union leaders for protesting at Durgapur Steel Plant
दुर्गापुर स्टील प्लांट की सात यूनियन के बैनर तले 6 अक्टूबर को ईडी पीएंडए दफ्तर के बाहर होगा प्रदर्शन। यूनियनों ने तैयारी की।
AD DESCRIPTION

बोनस आंदोलन में दरार डालने की कोशिश, संयुक्त आंदोलन में सिर्फ सीटू, एचएमएस, बीएमएस को ही चार्जशीट दिए जाने पर सवाल उठा।

सूचनाजी न्जूज, दुर्गापुर। सेल बोनस का विवाद थमा नहीं था कि एक नया बवाल सामने आ गया है। दुर्गापुर स्टील प्लांट में विरोध-प्रदर्शन की शुरुआत हुई, जो सेल की सभी इकाइयों तक पहुंच चुकी है। इससे बौखलाए प्रबंधन ने चार यूनियन के नेताओं के चार्जशीट थमा दिया है। विभागीय कार्रवाई की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। संयुक्त रूप से आंदोलन करने वाले सीटू, एचएमएस और बीएमएस के नेताओं को ही चार्जशीट दी गई है।

Breaking News: भिलाई स्टील प्लांट के प्लेट मिल ने तोड़ा 8 साल पुराना रिकॉर्ड, एक दिन 5900 टन रोलिंग

AD DESCRIPTION AD DESCRIPTION

इंटक और तृणमूल ट्रेड यूनियन को छोड़ दिया गया है। यूनियन नेताओं ने प्रबंधन के इस दांव को समझ लिया और संयुक्त मीटिंग कर एक साथ लड़ने का दम भर दिया है। इंटक कार्यालय में मीटिंग करके तय किया कि बोनस की लड़ाई संयुक्त रूप से शुरू हुई और अंत तक रहेगी। प्रबंधन यूनियन के बीच दरार डालने की कोशिश कर रहा है।

ये खबर भी पढ़ें…दुनिया की सबसे लंबी रेल पटरी उत्पादन में भिलाई स्टील प्लांट के यूआरएम ने तोड़े सारे रिकॉर्ड

किस यूनियन को चार्जशीट दिया गया और किसे छोड़ा गया, यह विषय नहीं है। विषय यह है कि कर्मचारियों की आवाज उठाने वालों पर कार्रवाई की गई है, इसलिए सभी यूनियन एकजुट हैं। ईडी पीएंडए से मिलकर नाराजगी जाहिर की जा चुकी है। 6 अक्टूबर को ईडी पीएंडए कार्यालय के बाहर बड़े पैमाने पर विरोध-प्रदर्शन किया जाएगा।

ये खबर भी पढ़ें…वाराणसी में जहां स्वामी विवेकानंद ठहरे थे, वहीं 51 कन्याओं का पूजन, देखिए फोटो और वीडियो…

दुर्गापुर स्टील प्लांट प्रबंधन की ओर से सीटू के सुमंतो चटर्जी, राणा मजूमदार, बीएमएस के मानस चटर्जी और एचएमएस के गौतम चटर्जी को चार्जशीट दिया गया है। प्रबंधन का आरोप है कि इन नेताओं ने सड़क जाम कराया। उत्पादन प्रक्रिया में बाधा उत्पन्न की। रास्ता जाम किया।

ये खबर भी पढ़ें…सेल चेयरमैन सोमा मंडल आ रहीं भिलाई, हो सकती है कुछ भलाई

ड्यूटी जाने वालों को रोका। वहीं, इंटक और तृणमूल ट्रेड यूनियन ने भी स्पष्ट कर दिया है कि हम सब संयुक्त रूप से प्रबंधन के इस फैसले के खिलाफ मोर्चा चलाते रहेंगे। सात यूनियन के 14 नेता ईडी पीएंडए से मिलकर चार्जशीट को वापस लेने और बोनस भुगतान कराने की मांग करेंगे।

ये खबर भी पढ़ें…विरोध-प्रदर्शन की चिंगारी SAIL से निकलकर पहुंची RINL, दशहरा से पहले कर्मचारियों को चाहिए 45 हजार बोनस

AD DESCRIPTION AD DESCRIPTION

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here