खामियों से चरमराया 40 साल पुराना एसएमएस-2, इंटक पहुंचा सीजीएम के पास, जवाब मिला-हम और आप मिलकर बेहतर करेंगे प्लांट को

इंटक के जनसंवाद कार्यक्रम में कर्मचारियों ने अव्यवस्था की उजागर। कर्मियों ने जल्द एनजेसीएस की बैठक बुलाकर वेतन समझौते को पूर्ण की मांग की।

सूचनाजी न्यूज, भिलाई। स्टील इम्प्लाइज यूनियन इंटक की टीम ने एसएमएस-2 में जनसंवाद कार्यक्रम के अंतर्गत कर्मचारियों से चर्चा की। अतिरिक्त महासचिव संजय साहू ने इंटक यूनियन के द्वारा 2 साल की मान्यता में कोविड-19 के संक्रमण के उपरांत श्रमिक हित में किए गए कार्यों की जानकारी दी, जिसमें सेल पेंशन स्कीम, 50 लाख का दुर्घटना बीमा, सीपीएफ में टॉप-अप लोन की व्यवस्था एवं बेसिक और डीए का 12 गुना टेंपरेरी लोन किया गया। टाउनशिप एवं मेडिकल को बेहतर बनाने के लिए लगातार इंटक यूनियन का प्रयास जारी है।

ये खबर भी पढ़ें: सेल में गलत हुआ वेज एग्रीमेंट, फिर से चर्चा कर प्रबंधन सुधारे खामियां

कर्मचारियों ने कहा एसएमएस-2 में लगातार दुर्घटना घट रही है, उसमें ज्यादातर दुर्घटना सुरक्षित कार्यप्रणाली की जानकारी के अभाव में हो रही है। ठेका श्रमिकों द्वारा किए जा रहे कार्य में सुरक्षा का अभाव है। उन्हें सही तरीके से गुणवत्ता युक्त सुरक्षा के समान नहीं मिल रहा है। वेतन भी ठेकेदार द्वारा कम दिया जा रहा है। ठेका श्रमिकों को कार्य के सुरक्षा की पूर्ण जानकारी नहीं होना भी एक कारण है।

ये खबर भी पढ़ें: डायरेक्टर पर्सनल केके सिंह के चार्ज संभालते ही घोषित होगी एनजेसीएस बैठक की तारीख, सेल प्रबंधन इंतजार में…

हाउस कीपिंग ने बढ़ाई मुसीबत

कर्मचारियों ने कहा कि एसएमएस-2 विभाग 40 साल पुराना हो गया है। बल्ब की कमी होने के कारण पर्याप्त मात्रा में प्रकाश की व्यवस्था नहीं है। पूरे कालम एवं स्ट्रक्चर में जंग लग गए हैं या काले हो गए हैं, उसमें नए सिरे से पुताई की आवश्यकता है, जिससे संयंत्र को आगे चलाने के लिए सुरक्षित रखा जा सके। हाउसकीपिंग की काफी समस्या है। काफी जगहों पर फ्लोर टूटे हुए हैं। धूल एवं स्क्रैप भी काफी जगहों पर रखा है, जिससे चलने में काफी परेशानी होती है। इसको व्यवस्थित तरीके से रखने के लिए मैनपावर की आवश्यकता है।

ये खबर भी पढ़ें: सेल ने हॉट मेटल, क्रूड स्टील और सेलेबल स्टील प्रोडक्शन में लगाई छलांग

सीजीएम बोले-आप और हम मिलकर बनाएं संयंत्र को बेहतर

अतिरिक्त महासचिव संजय साहू ने सभी विषयों की जानकारी लेकर टीम के साथ मुख्य महाप्रबंधक एसएमएस-2 सुशांत कुमार घोषाल से मिलकर इन सभी विषयों को अवगत कराया। जल्द ही इनका निराकरण करने की मांग की। मुख्य महाप्रबंधक सुशांत कुमार घोषाल ने कहा कि आप और हम मिलकर एसएमएस-2 को बेहतर संयंत्र बनाएंगे। इन सभी विषयों और संसाधन के लिए उच्च प्रबंधन से चर्चा कर सुधार कार्य किया जाएगा। सुरक्षा में जीरो टॉलरेंस लेकर कार्य करते हुए उत्पादन लक्ष्य को प्राप्त करेंगे। बैठक में इंटक यूनियन से उप महासचिव पीवी राव, वरिष्ठ सचिव संतोष साव, सचिव दीपक पांडे, ताम्रध्वज सिन्हा, उपसचिव केडी कुरैशी, राजेंद्र वर्मा, सुदीप धर दीवान, नरेंद्र परगनिहा उपस्थित थे।

ये खबर भी पढ़ें: पहले पता करें चक्रवृद्धि ब्याज सबसे ज्यादा कौन सी क्रेडिट सोसाइटी दे रही, फिर बनें सदस्य

कर्मचारियों को 39 माह का एरियर और चाहिए ये भी

कर्मचारियों का कहना है कि जल्द से जल्द एनजेसीएस की बैठक बुलाकर 39 महीने का एरियर, नए वेतनमान को जल्द लागू करने, वेतन समझौता को पूर्ण किया जाए। वेतन समझौता में देरी के कारण कर्मचारियों को आर्थिक नुकसान हो रहा है। सेल प्रबंधन एनजेसीएस की बैठक न कर कर्मचारियों के आक्रोश को बढ़ा रही है। प्रबंधन का यह दोहरा मापदंड संयंत्र के लिए ठीक नहीं है।

ये खबर भी पढ़ें: भिलाई स्टील प्लांट के बार एंड रॉड मिल में लगी भीषण आग, इलेक्ट्रिकल इक्यूपमेंट बाइपास कर छह घंटे में सरिया उत्पादन बहाल

ईएल और एचपीएल को रखने की सीमा को असीमित किया जाए

कर्मचारियों ने कहा कि इंटक यूनियन इन 2 सालों में बहुत सारे श्रमिक हित में कार्य किए। उन्होंने मांग की है कि ईएल और एचपीएल रखने की सीमा ईएल 200 दिन एवं वर्तमान वर्ष की छुट्टी और एचपीएल में 320 दिन को बढ़ाकर असीमित कर दिया जाए। इससे कर्मचारियों को आवश्यकता पड़ने पर छुट्टी ले सकें। इंटक यूनियन इस विषय को चार्टर आप डिमांड में रखा है, भविष्य में इसे लागू करने की प्रयास करेगी।

ये खबर भी पढ़ें: अभियान चलाकर 350 मकानों से खदेड़े गए कब्जेदार, 100 को बेदखली का नोटिस, सिविक सेंटर में कब्जामुक्त जमीन की फेंसिंग शुरू

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!