भिलाई स्टील प्लांट में स्थानीय के अलावा कर्मचारियों के बच्चों को मिले नौकरी में 50 फीसद आरक्षण

स्टील इम्प्लाइज यूनियन इंटक की कार्यकारिणी बैठक में आरक्षण की मांग उठी। एरियर के लिए पूर्ण एनजेसीएस बैठक बुलाने की मांग।

सूचनाजी न्यूज, भिलाई। भिलाई स्टील प्लांट में होने वाली भर्ती में स्थानीय बेरोजगारों खासकर बीएसपी कर्मचारियों के बच्चों को 50 फीसद आरक्षण देने की मांग उठी है। स्थानीय युवाओं को नौकरी देने की मांग लंबे समय से उठ रही है। इस बार बीएसपी कर्मचारियों के बच्चों के लिए 50 प्रतिशत आरक्षण मांग कर नया मुद्दा खड़ा कर दिया गया है।

स्टील इम्प्लाइज यूनियन इंटक की कार्यकारिणी बैठक में आरक्षण की मांग उठी। इंटक यूनियन ने सेल प्रबंधन एवं भिलाई इस्पात संयंत्र से मांग किया है कि भिलाई इस्पात संयंत्र में स्थाई पद एवं संयंत्र के अंदर आउट सोर्स के तहत किए जाने वाले कार्य में योग्यता के अनुसार 50% पद पर बीएसपी कर्मचारियों के बच्चों एवं स्थानीय लोगों और अप्रेंटिसशिप किए गए लोगों की भर्ती किया जाए।

ये खबर भी पढ़ें:रूस-यूक्रेन वार घटा रहा था बीएसपी का इस्पात उत्पादन, चार माह बाद चेकोस्लोवाकिया से आया हॉट ब्लास्ट वॉल्व, अब बढ़ेगा प्रोडक्शन

महासचिव एसके बघेल ने बताया कि वेतन समझौते को जल्द पूर्ण कराने के लिए इंटक यूनियन लगातार प्रयास कर रही है। नया वेतनमान एवं उन 39 महीने का एरियर की राशि दिलवाने के लिए पूर्ण एनजेसीएस बैठक बुलाने की मांग सेल प्रबंधन से की गई है।

ये खबर भी पढ़ें:Director’s Trophy Tournament 2022: आईआईटी बीएचयू, एनआइटी रायपुर और आईआईएम ने जीते लीग मैच


कर्मचारी हो रहे अनुपस्थित

-उपाध्यक्ष मदनलाल सिन्हा ने कहा कि ऑनलाइन अटेंडेंस सिस्टम में सेल्फ कम्यूटेड लीव भरने के समय टाइम ऑफिस द्वारा लोगों की उपस्थिति देर से दर्ज करने के कारण कर्मचारियों का अनुपस्थित हो जा रहा है। इसमें जल्द सुधार किया जाए। उप महासचिव चंद्रशेखर सिंह ने कहा कि उत्पादन लक्ष्य आधारित नान फाइनेंशियल मोटिवेशन स्कीम को 3 महीने के लिए जल्द चालू किया जाए। डीआर स्कीम भी जल्द चालू किया जाए।

-सचिव श्यामसुंदर साहू ने कहा कि ईएफबीएस के तहत रहने वाले कर्मचारियों को लाइसेंस की सुविधा प्रदान की जाए।
-वरिष्ठ सचिव शिव शंकर सिंह ने कहा कि 2007 से चली आ रही इंसेंटिव स्कीम को तुरंत रिवाइज किया जाए। 10500 रुपए का इंसेंटिव स्कीम को जल्द लागू किया जाए।
-चंद्रशेखर सोनी ने कहा कि कोविड-19 के संक्रमण के दौरान प्राइवेट अस्पताल में कराए गए इलाज के बिल को स्वास्थ्य कारणों से कर्मचारी समय पर जमा नहीं कर पाए, उसे पास कराया जाए।
-सचिव रेशम राठौर ने कहा-नाइट शिफ्ट एलाउंस एवं अन्य एलाउंस को जल्द तय किया जाए।
-कर्मचारियों से जुड़े मुद्दे दोनों समय पानी एवं कूलर रेनकोट जैसे अति आवश्यक चीजों पर प्रबंधन से बार-बार मांग करना पड़ता है, सेल प्रबंधन को स्वयं समय पर करना चाहिए।

ये खबर भी पढ़ें:  Gama Pehlwan 144th Birth Anniversary: आधा लीटर घी और छह देशी चिकन डकार जाते थे गामा पहलवान, अमृतसर में जन्म और लाहौर में हुआ था इंतकाल

संजय साहू बोले-यूनियन ने कराया ये काम

अतिरिक्त महासचिव संजय साहू ने कहा कि इंटक यूनियन द्वारा टाउनशिप में कर्मचारियों को इच्छा अनुसार मकान की व्यवस्था के लिए प्रयास कर रही है, जिसमें दो आवासों को जोड़कर एक आवास बनाना। आवासों की पात्रता को एक ग्रेड कम कर कर्मचारियों के लिए उपलब्ध कराना। सब्जेक्ट-टू-वेकेशन चालू कराना, बड़े आवासों को डी-ग्रेड कराकर कर्मचारियों को आवंटन कराना, आवास मरम्मत एवं रोड संधारण के लिए भिलाई इस्पात संयंत्र प्रबंधन से अधिक से अधिक बजट उपलब्ध कराना, यह सब इंटक यूनियन के प्रयास से ही संभव हो पाया है।

ये खबर भी पढ़ें: 15 साल में सेल में बढ़ी 137% लेबर प्रोडक्टिविटी, इकाइयों में बर्नपुर सबसे छोटी, लेकिन आंकड़े में टॉप पर, बोकारो दूसरे, बीएसपी तीसरे, राउरकेला चौथे और दुर्गापुर 5वें स्थान पर

प्लेटमिल के अनिल सोनी ने ली सदस्यता

प्लेट मिल के सीटू यूनियन के अनिल कुमार सोनी ने इंटक की सदस्यता हासिल कर ली है। महासचिव एसके बघेल ने इंटक गमछा पहनाकर स्वागत किया। उन्होंने कहा कि इंटक यूनियन के एक-एक प्रतिनिधि को अपने विभाग में कर्मचारियों की परेशानियों को दूर करने के लिए प्रयत्न करना चाहिए और अगर विषय बड़ा हो तो उसे अपने उच्च पदाधिकारियों तक अवगत कराना है, जिससे कर्मचारियों की समस्या दूर हो सके। उसे उचित सुविधा प्रदान हो सके।

ये खबर भी पढ़ें:1600 कर्मचारियों को भारतीय रेलवे दे रहा पांच से सात दिन की छुट्‌टी व स्पेशल पास, जानिए पूरा मामला

कार्यकारिणी की बैठक में पीयूष कर, मदन सिन्हा, एसके खिचरिया, पीवी राव, वंश बहादुर सिंह, शेखर शर्मा, तुरिंदर सिंह, अनिमेष पसीने, विपिन बिहारी मिश्रा, जयंत बराठे, सीपी वर्मा, आरके त्रिपाठी, सुरेश श्याम कुमार, धनेश प्रसाद राममूर्ति, किशोर प्रधान, देवीदीन सिन्हा, जीआर सुमन, आर. दिनेश, आनंद बघेल, राजकुमार, ताम्रध्वज सिन्हा, प्रदीप विश्वास, राधेश्याम, मनोहर लाल, गोविंद राठौर, तरुण सैमुअल, गणेश राम सोनी आदि उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!