कामकाज छोड़ चुनावी प्रचार में मगन रहने वालों पर होगा एक्शन, ‘काम नहीं तो वेतन नहीं’

सूचनाजी न्यूज, भिलाई। यूनियन चुनाव से पहले भिलाई स्टील प्लांट प्रबंधन ने यूनियनों को काबू में रखने का बंदोबस्त कर लिया है। भिलाई इस्पात संयंत्र के प्रतिबंधित क्षेत्रों में बैठकें, प्रदर्शन आदि प्रतिबंधित करने की घोषणा कर दी है। दिशा-निर्देश जारी किए गए हैं। चुनावी प्रचार के दौरान किसी तरह की फोटोग्राफी पर रोक लगाई गई है। यूनियनों को मौखिक रूप से भी इससे अवगत करा दिया गया है ताकि किसी कार्रवाई की चपेट में न आना पड़े।

ये खबर भी पढ़ें: सेल चेयरमैन सोमा मंडल को चिट्‌ठी लिखकर कहा-सौतेली मां जैसा न करें व्यवहार…

इस बात की पुष्टि खुद यूनियन नेताओं ने सूचनाजी.कॉम से की है। ट्रेड यूनियन नेताओं का कहना है कि फोटोग्राफी पर रोक लगाई गई है। इसकी अवमानना को गंभीरता से लिया जाएगा तथा उन पर दंडात्मक कार्यवाही के अतिरिक्त ‘काम नहीं वेतन नहीं’ का सिद्धांत लागू होगा।

ये खबर भी पढ़ें: बीएसपी के प्रयासों से बदली भावेश की जिंदगी, एजुकेशन मेरिट में बनाया स्थान

बीएसपी के कार्मिक नियमन-एचआरआइएस की महाप्रबंधक अनुराधा सिंह की तरफ से सर्कुलर जारी किया गया है। प्रबंधन का कहना है कि कुछ मामले प्रबंधन की जानकारी में आए हैं, जहां दिशा-निर्देशों का पालन नहीं हो रहा है। ऐसे प्रकरण भी जानकारी में आए हैं, जहां कार्मिक अपने कार्यक्षेत्र को छोड़कर समूहों में विचरण करते पाए गए हैं।

ये खबर भी पढ़ें: सेल कर्मियों के मुद्दे हल न होने से भड़के कर्मचारी, दुर्गापुर स्टील प्लांट के ईडी पीएंडए का घेराव

उन्हें संयंत्र के भीतर एवं कार्यालय परिसर में प्रदर्शन करते भी देखा गया है। ऐसी अनुशासनहीनता न केवल कार्य को बाधित करती है, अपितु उत्पादन,उत्पादकता एवं कार्य की गुणवत्ता को भी प्रभावित करती है।

ये खबर भी पढ़ें: Bhilai Steel Plant Incident: स्टील मेल्टिंग शॉप-2 में ब्लास्ट से हॉट मेटल छिटका, जानिए तीन श्रमिक कितने प्रतिशत झुलसे

प्रबंधन ने यह सूचित किया था कि कोई भी व्यक्ति एवं कार्मिक जिन्हें प्रतिबंधित क्षेत्रों में प्रवेश हेतु अनुमति दी गई है, वे स्वयं शालीन एवं अनुशासित ढंग से आचरण करें तथा समूहों में एकत्र न हों तथा प्रदर्शन न करें। कार्मिकों द्वारा समय की पाबंदी का पालन एवं कार्यालयीन समय में अपनी पूरी उपलब्धता सुनिश्चित किया जाए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!