Bhilai Steel Plant: टीएंडडी के 192 कर्मचारियों को मिला प्रमोशन, जानिए किस पॉलिसी से मिली तरक्की, इंटक ले रहा श्रेय

सूचनाजी न्यूज, भिलाई। भिलाई स्टील प्लांट के ट्रांसपोर्ट एंड डिपार्टमेंट-टीएंडडी के 192 कर्मचारियों को प्रमोशन का तोहफा मिला है। यह प्रमोशन नॉन एक्जीक्यूटिव प्रमोशन पॉलिसी से दिया गया है। इसका श्रेय स्टील इम्प्लाइज यूनियन इंटक ने लिया है। इंटक का कहना है कि इस पॉलिसी की वजह से कर्मचारियों को लाभ हुआ है। कार्यकारिणी की बैठक यूनियन ऑफिस में हुई, जिसमें 30 जुलाई को मान्यता प्राप्त यूनियन के लिए होने वाले चुनाव की रूपरेखा बनाई गई। 19 जुलाई को एनजेसीएस की बैठक में वेतन समझौता को पूर्ण कराने एवं 39 महीने का एरियर, एवं जनवरी 2017 से जून 2022 तक 66 महीने का नया वेतनमान का एरियर एवं नया वेतनमान लागू करने और रात्रि भत्ता 500 रुपया प्रतिदिन एवं अन्य भक्तों का निराकरण कराने का संकल्प लिया गया।

ये खबर भी पढ़ें: सांसद विजय बघेल के खिलाफ बीएसपी आफिसर्स एसोसिएशन ने खोला मोर्चा, कहा-अधिकारी-कर्मचारी करें बहिष्कार, पूछा-खुद की संपत्ति पर कब्जा करने वालों का सांसद कराएंगे व्यवस्थापन

अतिरिक्त महासचिव संजय साहू ने कहा कि भिलाई इस्पात संयंत्र के टीएंडडी विभाग में काफी दिनों से लंबित नॉन एक्जीक्यूटिव प्रमोशन पॉलिसी को लागू किया गया। काफी दिनों से कर्मचारियों का पदोन्नति रुका हुआ था और अधिकतर कर्मचारी ईसी (एक्सटेंडेड क्लस्टर) में थे। 15-20 सालों से प्रमोशन नहीं हो रहा था। एनईपीपी आने से कुल 877 कर्मचारियों में से 192 कर्मचारियों को पदोन्नति मिली। यह पदोन्नति दिसंबर 2020-21 में ए से बी कलस्टर में 26, बी से सी कलस्टर 135 एवं सी से डी कलस्टर में 31 लोगों को पदोन्नति मिली। इससे कर्मचारियों में काफी खुशी है। अब सेवाकाल में कम से कम तीन प्रमोशन होगा। उन्होंने इंटक यूनियन ऑफिस आकर धन्यवाद दिया। आगे डी कलस्टर में पदनाम में थोड़ा सुधार कराने की मांग की।

ये खबर भी पढ़ें: इस्को की तर्ज पर किरायेदार बसाने वाले कर्मचारियों और अधिकारियों से एक-एक लाख की वसूली शुरू होते बीएसपी के 10 फीसद मकान हो जाएंगे खाली

महासचिव एसके बघेल ने कहा कि आने वाले समय में नॉन एक्जीक्यूटिव प्रमोशन पॉलिसी के पदनाम में सुधार कर सम्मानजनक पदनाम दिलाया जाएगा। 2003 के बाद भर्ती हुए कर्मचारियों का प्रशिक्षण अवधि वह जल्द पदोन्नति अवधि में जोड़ने के लिए सर्कुलर निकलेगा। इसके लिए इंटक यूनियन लगातार प्रयास कर रही है और जल्द ही इसके परिणाम आने वाले हैं और एनजेसीएस का भी नतीजा जल्द निकलेगा।

दो साल के कार्यकाल की उपलब्धियां बताएंगे कर्मियों को

अतिरिक्त महासचिव संजय साहू ने कहा सभी कार्यकारिणी से अपील है कि इंटक यूनियन के 2 साल के मान्यता में कोविड-19 संक्रमण के उपरांत किए गए कार्यों को लेकर कर्मचारियों के बीच जाना है। अपने-अपने क्षे। में सभी कर्मचारियों से संपर्क संवाद और समाधान पर ध्यान केंद्रित करना है। उप महासचिव पीवी राव ने कहा कि कर्मचारियों के लिए इंटक यूनियन द्वारा किए गए कार्यों को अपने विभाग के कर्मचारियों तक पहुंचाना है और आने वाले समय में किए जाने वाले कार्यों का उल्लेख कर्मचारियों के साथ चर्चा कर किया जाए, जिससे इंटक यूनियन द्वारा भविष्य में किए जाने वाले कार्यों को कर्मचारियों के बीच ले जाया जाए, जिससे ज्यादा से ज्यादा वोटों से

ये खबर भी पढ़ें: सीटू का दृष्टि पत्र: न किसी यूनियन पर वार, न पलटवार, आपसी एकता को बनाया हथियार…, दो कार्यकाल के कामों को बताया बिंदुवार

पुन: इंटक यूनियन को विजयी बनाया जा सके।

बैठक में पीयूषकर, आरसी अग्रवाल, पूरण वर्मा, मदन सिन्हा, एसके खिचरिया, वंश बहादुर सिंह, तुरिंदर सिंह, अनिमेष पसीने, दीनानाथ सिंह, जेआर सुमन, जयंत बराठे, सीपी वर्मा, के. राजशेखर, शिव शंकर सिंह, धनेश प्रसाद, सुरेश कुमार, आरके त्रिपाठी, एसबी सिंह, गुरुदेव साहू, रेशम राठौर, आर. दिनेश, खुर्शीद कुरैशी, विजय विश्वकर्मा, तरुण सेमुवाल, गणेश सोनी, चंद्रशेखर सोनी, मनोहर लाल, किशोर प्रधान, राजन मैथ्यू, मलय मुखर्जी, उमापति मिश्रा, अरविंद सिंह, रमन मूर्ति, राजकुमार नायर, राजकुमार, ताम्रध्वज सिन्हा, अर्जुन कुमार, जय के सूर्यवंशी, गुलाब दास, आरिफ मंजर, संतोष ठाकुर, प्रकाश मोहले, शरद, सरोज राठौर, मुकेश तिवारी आदि उपस्थित थे।

ये खबर भी पढ़ें: सेल कार्मिकों की आवाजाही की कुंडली अगले महीने से रखेगा प्रबंधन, ट्रायल शुरू, कार-बाइक के लिए क्यूआर कोड का आदेश जारी, व्हीकल गेट पास ऐसे बनाएं ऑनलाइन…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!