बीएसपी के ईडी एके भट्‌टा ने एमएम और एस मुखोपाध्याय ने प्रोजेक्ट का पदभार संभाला

सूचनाजी न्यूज, भिलाई। एस मुखोपाध्याय ने सेल-भिलाई इस्पात संयंत्र के कार्यपालक निदेशक (परियोजना) का कार्यभार संभाल लिया है। 15 जून को कार्यपालक निदेशक के पद पर पदोन्नत होने से पहले, मुखोपाध्याय सेल के बोकारो इस्पात संयंत्र (बीएसएल) में मुख्य महाप्रबंधक (मेंटेनेंस) पदस्थ थे। इंस्ट्रुमेंटेशन में विशेषज्ञता के साथ बी टेक डिग्री हासिल करने के पश्चात श्री मुखोपाध्याय जुलाई 1989 में बोकारो इस्पात संयंत्र में प्रबंधन प्रशिक्षु (तकनीकी) के रूप में सेल में शामिल हुए थे। मुखोपाध्याय ने बोकारो इस्पात संयंत्र के इंस्ट्रुमेंटेशन और ऑटोमेशन विभाग में तीन दशकों से अधिक समय तक अपनी सेवाएं प्रदान की है। 1999 में प्रबंधक, इंस्ट्रुमेंटेशन एंड ऑटोमेशन और उसके बाद सतत प्रगति करते हुए में श्री मुखोपाध्याय 2012 में उप महाप्रबंधक (इंस्ट्रुमेंटेशन एंड ऑटोमेशन) बने।

ये खबर भी पढ़ें: अग्निपथ योजना के खिलाफ भिलाई में प्रदर्शन, बेरोजगार चौक पर खड़े होकर बेरोजगारी पर सरकार को कोसा

उन्हें 2018 में महाप्रबंधक (इंस्ट्रुमेंटेशन एंड ऑटोमेशन) और फिर सितंबर 2019 में मुख्य महाप्रबंधक (इंस्ट्रुमेंटेशन एंड ऑटोमेशन) के रूप में पदोन्नत किया गया था। अप्रैल 2021 में श्री मुखोपाध्याय को मुख्य महाप्रबंधक (मेंटेनेंस) के रूप में सेल के बोकारो इस्पात संयंत्र के पूरे मेंटेनेंस क्षेत्र की जिम्मेदारी दी गई। मुखोपाध्याय को इंस्ट्रुमेंटेशन एंड ऑटोमेशन के साथ इस्पात बनाने की तकनीक का लंबा अनुभव है।

ये खबर भी पढ़ें: Rourkela Steel Plant: हॉट स्ट्रिप मिल-2 ने रचा कीर्तिमान, दुनिया का बेहतरीन मिल बनने की राह पर…

वहीं, बीएसपी के ईडी प्रोजेक्ट एके भट्‌टा को ईडी एमएम की जिम्मेदारी सौंपी गई है, जिसे उन्होंने संभाल लिया है। बता दें कि एक भट्‌टा बीएसपी से ही प्रामोट होकर ईडी बने और यहीं दो सालों से प्रोजेक्ट की कमान संभाले हुए थे। सेल प्रबंधन ने एके भट्‌टा का कार्यक्षेत्र बदलकर मेटेरियल मैनेजमेंट डिपार्टमेंट कर दिया है। इनके स्थान पर बोकारो से एस मुखोपाध्याय आए हैं।

ये खबर भी पढ़ें: सेल के कर्मचारी रात गुजारते हैं मौत के बेड पर…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!