बीएसपी कर्मचारियों ने बालकनी में बनाया खुद के खर्चे पर किचन और ऊपरी मंजिल पर गार्डन, सीपेज से टूटकर गिरा प्लास्टर, आप न करें ऐसी गलती

सूचनाजी न्यूज, भिलाई। भिलाई टाउनशिप के सेक्टर-1 सड़क नंबर-31 के आवास में प्लास्टर टूटकर गिरने की घटना ने कई सबक दे दिए हैं। टाउनशिप के रहवासियों को सीख लेनी चाहिए। बालकनी में खुद से निर्माण कराने और सीपेज पर ध्यान न देने की वजह से प्लास्टर टूटकर गिरा। आवासों के मेंटेनेंस को लेकर हर बार बीएसपी को कोसने वाले एक बार खुद के व्यवहार को भी देख लें, ताकि किसी को इस तरह तकलीफ न उठानी पड़े।

ये खबर भी पढ़ें:अगले तीन साल में देश में चलेगी 400 नई वंदेभारत ट्रेन, स्पेशल क्वालिटी का पहिया तैयार कर रहा दुर्गापुर स्टील प्लांट

वास्तव में यह घटना दो आवंटितों के गैर जिम्मेदाराना प्रयोग का नतीजा है। बताया जा रहा है कि निचली मंजिल के रहवासी ने ऊपर मंजिल के बालकनी के नीचे स्थित बरामदे को किचन बना रखा है। स्वयं के खर्चे पर अतिरिक्त निर्माण कर लिया। भूतल में रहने वाले कर्मचारी ने बरामदा के सीलिंग (अर्थात प्रथम तल बालकनी के नीचे का हिस्सा) पर स्वयं से प्लास्टर करवाया था।

ये खबर भी पढ़ें:नॉन एक्जीक्यूटिव प्रमोशन पॉलिसी पर रेल मिल के कर्मचारियों का फूंटा गुस्सा, जीएम इंचार्ज दफ्तर में हंगामा, नए पदनाम से चार्जमेन गायब

परंतु विडंबना यह है कि पहली मंजिल के क्वार्टर के निवासी अपने बालकनी को वाशिंग एरिया और किचन गार्डन के रूप में इस्तेमाल कर रहे हैं। किचन गार्डन में लगातार पानी देने के फलस्वरूप बालकनी से पानी का लगातार सीपेज हो रहा है, जिसके चलते बालकनी के फ्लोर पर लगे सरिया जंग खा कर और फूल गए थे। इस वजह से सरिया खराब हो चुके थे। जिसके कारण बालकनी के निचले हिस्से में भूतल एलाटी द्वारा किया गया यह प्लास्टर व कंक्रीट गिर पड़ा।

ये खबर भी पढ़ें:बायाेमेट्रिकस से अटेंडेंस शुरू होते ही बीएसपी वर्कर्स यूनियन उतरा सड़क पर, बीएसपी प्रबंधन होश में आओ के लगे नारे, एरियर्स की उठी मांग

शुक्र है कि प्लास्टर गिरने कि इस घटना से किसी को चोट नहीं पहुंची। मगर ऐसी घटना दोबारा या कहीं और न हो। इसके लिए के टाउनशिप के रहवासियों को स्वयं ध्यान देना आवश्यक है कि उनको अलॉट किए हुए क्वार्टर में या ऊपरी मंजिल में रहने वाले स्वयं से कुछ निर्माण न करें। साथ ही कोई ऐसा उपयोग ना करें, जिससे भवन के निर्माण को क्षति पहुंचे।

अगर कोई निर्माण कार्मिकों द्वारा पहले से कर लिया गया है, तो इस बात पर जरूर ध्यान रखें कि सीपेज के वजह से निर्माण किया गया जगह कमजोर न हो गया हो। कहीं यह निर्माण उनके नीचे रहने वाले रहवासियों के लिए कोई जोखिम उत्पन्न ना कर रहा हो। अतः टाउनशिप के रहवासी यह ध्यान दें कि उनके किसी अतिरिक्त निर्माण तथा लापरवाहीपूर्वक उपयोग से दूसरे की जान को जोखिम में न डाला जाए। जिससे इस प्रकार की घटनाओं से बचा जा सके।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!