बीएसपी आवास को छह साल से कब्जेदार ने किया था काबिज, आवंटन पत्र लेकर भटकता रहा कर्मी, अब मकान सील

सूचनाजी न्यूज, भिलाई। भिलाई स्टील प्लांट की ओर से कब्जेदारों के खिलाफ बेदखली की कार्रवाई गुरुवार को भी जारी रही। खुर्सीपार के जोन-1 के सड़क-5 आवास-2B में पिछले छह वर्षों से काबिज कब्जेदार को बेदख़ल कर दिया गया। इस आवास को बीएसपी कर्मी को आवंटित किया गया था, लेकिन कब्जे की वजह से वह घुस नहीं पा रहा था।

संपदा न्यायालय से पारित डिक्री के अनुपालन में कार्यपालक मजिस्ट्रेट तथा छावनी पुलिस बल की उपस्थिति में प्रवर्तन अनुभाग, आवास अनुभाग, भूमि अनुभाग की टीम द्वारा आवास को खाली कराकर सील कर दिया गया है। इसकी चाबी संपदा न्यालय को सौंप दी गई है। यह आवास बीएसपी कर्मी को अलॉट हो चुका था।

तो क्या इस्पात मंत्री को सौंपा ज्ञापन डस्टबिन में ही गया, कर्मचारी बने बेवकूफ, ये है पूरा मामला

प्रवर्तन विभाग द्वारा कुछ दिन पूर्व खुर्सीपार में ही 21000 स्क्वायर फीट तथा 9000 स्क्वायर फ़ीट भूमि को पारित डिक्री के आधार पर सील किया गया था। रिसाली सेक्टर में आपरेशन नसीब के तहत अब तक 70 से अधिक आवसों को कब्जेदारों से मुक्त कराकर अलॉटी तथा रखरखाव कार्यालय को सौंपा गया है।

मोदी सरकार की उद्योग नीतियों पर भड़का बीएमएस, निजीकरण और विनिवेश के खिलाफ लाखों कर्मी घेरेंगे संसद

बीएसपी का कहना है कि प्रवर्तन अनुभाग द्वारा कब्जेदारों के विरुद्ध अभियान जारी रहेगा। इस अभियान से भू-माफिया और दलालों में हड़कंप मच हुआ है। कब्जेदारों और अवैध उगाही करने वाले दलालों के विरुद्ध वैधानिक कार्यवाही तथा लगातार एफआइआर की कार्रवाई भी की जा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!