बीएसपी ने रिसाली में कब्जेदारों को खदेड़ा, दलालों और भू-माफियाओं की वसूली पर चोट रहेगी जारी

सूचनाजी न्यूज, भिलाई। भिलाई टाउनशिप के कब्जेदारों पर एक बार फिर युद्धस्तर पर बेदखली की कार्रवाई की गई। रिसाली सेक्टर के चार मकानों को खाली कराया गया है। इसके साथ ही कब्जेदारों को संदेश दिया गया है कि भू-माफियाओं और दलालों के खिलाफ कार्रवाई रुकने वाली नहीं है। जल्द ही बड़े पैमाने पर कार्रवाई की जाएगी, जिससे छोटे-बड़े सभी कब्जेदार बेदखल किए जाएंगे।

ये खबर भी पढ़ें: भारतीय रेल इंजनों पर बांग्लादेश फिदा, अधिकारियों संग रेलमंत्री पहुंचे बनारस रेल इंजन कारखाना

बीएसपी के इंफोर्समेंट डिपार्टमेंट द्वारा रिसाली सेक्टर के चार आवास कब्जामुक्त कराया गया। कब्जेदारों से आवास खाली करवाकर अलॉटी तथा रखरखाव कार्यालय को सौंपा गया। खाली कराए गए आवासों में 55A/000/RISALI, 115D/000/RISALI, 115F/000/RISALI, 23H/000/RISALI शामिल है। इंफोर्समेंट डिपार्टमेंट का कहना है कि भिलाई इस्पात संयंत्र द्वारा निष्पक्ष होकर कार्य किया जाता है। कोई भी अवैध कब्जेधारी को बख्शा नहीं जाता है। पूर्व विधायक को अवैध कब्जे के आवास से हटाया गया। दो फैक्ट्री संचालकों को को खदेड़ा गया। जिसका बाजार मूल्य लगभग 70 करोड़ रुपये है। फैक्ट्री को सील कर दिया गया है।

ये खबर भी पढ़ें: रुआबांधा बस्ती और बीएसपी आवासों के बीच खड़ी होगी एक किलोमीटर की दीवार

मरोदा, नेवई में एक फैक्ट्री तथा एक कॉलोनी जिसमे 18 आवास बनाया गया था, JCB लगाकर नेस्तनाबूद कर दिया गया है। इस क्षेत्र में 100 से अधिक अवैध निर्माण ढहा दिया गया। दलालों की अवैध वसूली बंद हो गई है। दलालों द्वारा आवासों का ताला तोड़कर मकानों को किराया में देकर अवैध वसूली किया जाता है, जिस पर लगाम लगाई जा रही है। विभिन्न बाजारों, सिविक सेन्टर, चाइना मार्किट, ठेले वालों को सरक्षण देने के नाम पर गुण्डा टैक्स वसूली किया जाता है।

ये खबर भी पढ़ें: सबकुछ सही रहा तो जून में यूनियन चुनाव, 20 दिन की मिलेगी मोहलत

इसके विरुद्ध वैधानिक कार्यवाही शुरू कर दिया गया है। चार दलालों के ऊपर विभिन्न थानों में FIR दर्ज करवाया गया है। तीन सौ से अधिक आवास खाली कराया गया है। सिविक सेन्टर में नशाखोरी के अड्डे को तोड़ दिया गया है। भू-माफ़ियायो से कई एकड़ जमीन कब्जा मुक्त किया गया है। बीएसपी का कहना है कि प्रवर्तन विभाग द्वारा कब्जेदारों क़ो नगर क्षेत्र से बाहर करने पर जनता द्वारा स्वागत किया जाता रहा है। कब्जेदारों में कई अपराधी प्रवृत्ति के लोग भी हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!