63 साल से राष्ट्र सेवा करने वाली बीएसपी की कोक ओवन बैटरी-2 को मिला नया जीवनदान, उत्पादन फिर शुरू

0
Commissioning of COB#02 2
कोल्ड रिपेयर के बाद कोक ओवन बैटरी-02 की कमीशनिंग। सेल-बीएसपी के निदेशक प्रभारी ने किया उद्घाटन। प्रदूषण को रोकने के लिए बैटरी
AD DESCRIPTION

के कोक ओवन बैटरी क्रमांक-02 को 22 दिसम्बर 1959 से उत्पादन प्रक्रिया में शामिल किया गया था, जिसने लगभग 63 वर्षों का जीवनकाल पूर्ण किया है।

सूचनाजी न्यूज, भिलाई। सेल-भिलाई इस्पात संयंत्र के कोक ओवन बैटरी क्रमांक-02 को 22 दिसम्बर 1959 से उत्पादन प्रक्रिया में शामिल किया गया था, जिसने लगभग 63 वर्षों का जीवनकाल पूर्ण किया है। कोल्ड रिपेयर के बाद बैटरी का उद्घाटन शनिवार को सेल-भिलाई इस्पात संयंत्र के निदेशक प्रभारी अनिर्बान दासगुप्ता द्वारा किया गया।

ये खबर भी पढ़े… BSP QR Code: भिलाई स्टील प्लांट में ट्रायल सफल, सभी गेट पर एक साथ अनिवार्य, गाड़ियों पर लगाएं क्यूआर कोड, वरना नहीं जा सकेंगे ड्यूटी

AD DESCRIPTION AD DESCRIPTION

इस अवसर पर भिलाई इस्पात संयंत्र के संयंत्र के कार्यपालक निदेशक (सामग्री प्रबंधन) एके भट्टा, कार्यपालक निदेशक (वर्क्स) अंजनी कुमार सहित मुख्य महाप्रबंधकगणों एवं अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थिति थे। बैटरी की कोल्ड रिपेयर फरवरी 2020 में प्रारंभ की गई थी, जिसे कोविड महामारी की चुनौतियों के बावजूद 33 महीनों में पूर्ण कर लिया गया। इस महत्वपूर्ण कार्य में 19000 मीट्रिक टन रिफ्रेक्टरी कार्य, 4000 मीट्रिक टन के स्ट्रक्चरल कार्य, अन्य यांत्रिक, विद्युत और सिविल मरम्मत के साथ-साथ बैटरी के मशीनों में सुधारात्मक कार्य के साथ-साथ बैटरी के पुरानी संरचना को हटाने तथा नये संरचना को स्थापित करने जैसे कार्य शामिल थे।

ये खबर भी पढ़े… SAIL Bonus Meeting Update: सेल प्रबंधन के बोनस फॉर्मूले पर चर्चा से पहले ही खारिज, अगली बार के लिए बनेगा फॉमूला, 45 हजार पर बात फंसी

पर्यावरण संरक्षण उपाय के रूप में निरंतर उत्सर्जन निगरानी प्रणाली के साथ वायु प्रदूषण को रोकने के लिए बैटरी, हाई प्रेशर लिकर एस्पिरेशन सिस्टम, जीरो लीक ओवन डोर आदि उपकरणों से लैस है।

ये खबर भी पढ़े…बीएसपी में बाहरी ठेकेदारों को 2200 रुपए प्रति मजदूर और स्थानीय को 500 रुपए में ठेका, ठेकेदारों की कार रोकने पर हंगामा शुरू

इस मरम्मत कार्य को टीम कोक ओवन द्वारा कैपिटल रिपेयर ग्रुप के मेकेनिकल एवं रिफ्रेक्टरी समूह, मेकेनिकल एवं इलेक्ट्रिकल मेंटेनेंस, हीटिंग एवं रेगुलेशन ग्रुप और संबंधित विभागों जैसे इंस्ट्रुमेंटेशन, सिविल आदि के साथ मिलकर पूर्ण किया है।

सेल-भिलाई इस्पात संयंत्र के निदेशक प्रभारी अनिर्बान दासगुप्ता द्वारा टीम के विभिन्न कार्यों एवं उपलब्धियों तथा रणनीतिक योजना व क्रियान्वयन की काफी सराहना की गई। इसके साथ ही इस प्रकार की जटिल व चुनौतीपूर्ण मरम्मत कार्यों के दौरान सुनिश्चित की गई सुरक्षा के लिए भी विशेष रूप से प्रशंसा की।

ये खबर भी पढ़े…BSP की उत्पादन क्षमता 21 हजार टन, प्रोडक्शन हो रहा 14 हजार टन, कर्मियों को इंसेंटिव और कंपनी को प्रॉफिट में नुकसान, इंटक बोला-सेल बोनस फॉर्मूले का होगा विरोध

AD DESCRIPTION AD DESCRIPTION

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here