बीएसपी की जमीन पर कब्जा कर काट रहे चिकन-मटन, आए लपेटे में

0
occupying BSP land
भिलाई इस्पात संयंत्र द्वारा कब्जेदारों0 और भूमाफ़ियाओं के विरुद्ध गुरुवार को एक बड़ी कार्यवाही की गई।
AD DESCRIPTION

-भिलाई स्टील प्लांट के इंफोर्समेंट डिपार्टमेंट ने कार्रवाई की।
-हायर सेकेंडरी स्कूल रुआबांधा परिसर में कचर फेंकने का आरोप।

-संपदा न्यायालय ने बेदखली के लिए प्रवर्तन अनुभाग को अधिकृत किया।
-20 अक्टूबर को टीम कार्रवाई करने टीम पहुंची थी, लेकिन वापस लौट गई थी।

सूचनाजी न्यूज, भिलाई। भिलाई स्टील प्लांट की जमीन से कब्जेदारों को खदेड़ने का सिलसिला फिर शुरू हो गया है। काफी दिनों की शांति के बाद रुआबांधा में बीएसपी के इंफोर्समेंट डिपार्टमेंट ने कार्रवाई की। बीएसपी की जमीन पर कब्जा कर चिकन-मटन बेचने वालों पर कार्रवाई की गई।

AD DESCRIPTION AD DESCRIPTION

संपदा न्यायालय के से पारित डिक्री आदेश के तहत कार्यवाही की गई। कब्जेदार शकील अहमद, प्यारू और वंदना पौराणिक ने हायर सेकेंडरी स्कूल रुआबांधा के सामने बीएसपी भूमि पर किए अवैध कब्जा/निर्माण किया था। संपदा न्यायालय ने बेदखली के लिए प्रवर्तन अनुभाग को अधिकृत किया गया है।

संपदा न्यायालय के आदेश के अनुपालन में 20/10/2022 को टीम द्वारा कार्यवाही हेतु कार्यपालक मजिस्ट्रेट, पुलिस बल तथा नगर पालिक निगम टीम के साथ स्थल पर गई थी, किन्तु कब्जेदारों ने दीपावली त्यौहार का हवाला देते हुए 10 दिनों का समय मांगा गया था।

इसी तारतम्य में गुरुवार को प्रवर्तन अनुभाग की टीम द्वारा कब्जाधारियों के विरूद्ध बेदखली कार्यवाही की गई। कोतवाली का पुलिस बल, कार्यपालक दण्डाधिकारी सत्येन्द्र शुक्ल की उपस्थिति में कार्रवाई की गई।

निर्माण को सील किया गया

उक्त डिक्री आदेश के तहत 03 अवैध कब्जाधारियों द्वारा उक्त भूमि पर किए कब्जा/ निर्माण को यथावत स्थिति में सील किया गया। अन्य कब्जाधारी मोहम्मद कुरैशी द्वारा किए कब्जा/निर्माण का प्रकरण उच्च न्यायालय मे विचाराधीन होने के कारण इस पर कार्यवाही नहीं किया गया है। उपरोक्त कार्यवाही के दौरान किसी भी प्रकार के सामानों की जब्ती नहीं बनायी गयी। कार्यवाही का पंचनामा रिपोर्ट तैयार किया गया।

भारी पुलिस बल मौजूद रहा

उक्त बीएसपी भूमि पर किए अवैध कब्जा को हटाने की कार्यवाही भूमि द्वारा चिन्हांकन के पश्चात की गयी। कुछ कब्जेदारों ने विरोध की कोशिश की, किंतु भारी पुलिसबल की उपस्थिति और प्रवर्तन विभाग के अधिकारियो के सामने एक नहीं चली।

70 से ज्यादा अधिकारी-कर्मचारी शामिल

उपरोक्त कार्यवाही में प्रवर्तन अनुभाग, भूमि अनुभाग व नागर सेवाएं के 70 अधिकारी कार्मिक कार्यवाही में उपस्थित थे। इंफोर्समेंट डिपार्टमेंट का कहना है कि भूमाफ़ियाओं और कब्जेदारों के विरुद्ध कार्यवाही निरंतर जारी रहेगी।

AD DESCRIPTION AD DESCRIPTION

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here