पुरई गांव के तालाब में तैरने वाले बच्चे भी उतरे स्विमिंग पूल में, पानी में मिटी अमीरी-गरीबी, नेशनल चैंपियनशिप के लिए 200 बच्चे दिखा रहे प्रतिभा

छत्तीसगढ़ स्विमिंग एसोसिएशन के सेक्रेटरी एसआर जाखड़ के मुताबिक बेहतरीन खिलाड़ियों का चयन किया जाएगा। 200 गर्ल्स एंड ब्यायज के बीच से करीब एक दर्जन उत्कृष्ट खिलाड़ियों को चयनित करके नेशनल के लिए भेजा जाएगा।

अज़मत अली, भिलाई। भुवनेश्वर में नेशनल स्विमिंग चैंपियनशिप 16 जुलाई से शुरू होने जा रही है। देशभर के खिलाड़ी हिस्सा लेंगे। छत्तीसगढ़ की टीम भी स्विमिंग पूल में उतरेगी। गर्ल्स एंड ब्याजय की टीम नेशनल चैंपियनशिप जीतकर लौटे, इसलिए बेहतरीन खिलाड़ियों का चयन किया जा रहा है। छत्तीसगढ़ की टीम में शामिल होने की तमन्ना लिए प्रदेशभर से 200 बच्चे भिलाई में जुटे हुए हैं।

चयन प्रतियोगिता में वे बच्चे भी पानी में अटखेलियां कर रहे हैं जो गांव के तालाब में तैरते हैं। नेशनल क्वालीफाइ टाइम को तय समय से पहले हासिल करने का जज्बा बच्चों में दिख रहा है। रिसाली डीपीएस स्कूल के स्विमिंग पूल में चयन प्रतियोगिता हो रही है। विभिन्न स्कूलों के बच्चों के साथ दुर्ग जिले के पुरई गांव के तालाब में तैरने वाले बच्चे भी अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन कर रहे हैं। इनसे पहले पुरई गांव के बच्चों का चयन गांव के तालाब से स्पोर्ट्स अथॉरिटी ऑफ इंडिया-साइ ने किया था।

भिलाई स्टील प्लांट के खेल अधिकारी व छत्तीसगढ़ स्विमिंग एसोसिएशन के सेक्रेटरी एसआर जाखड़ के मुताबिक बेहतरीन खिलाड़ियों का चयन किया जाएगा। 200 गर्ल्स एंड ब्यायज के बीच करीब एक दर्जन उत्कृष्ट खिलाड़ियों को चयनित करके नेशनल के लिए भेजा जाएगा। राज्य स्तरीय स्विमिंग प्रतियोगिता डीपीएस रिसाली में चल रही है। स्विमिंग में करीब तीन दर्जन से ज्यादा इवेंट हैं। 1500 मीटर, 200 मीटर प्रेस स्टोक, 400 मीटर फ्री स्टाइल, 100 मीटर बैक स्टोक आदि केटेगरी में बच्चे अपनी कला दिखा रहे हैं। खास यह है कि इसमें पुरई गांव के बच्चे भी शामिल हुए हैं। गांव के तालाब में बच्चों को स्विमिंग सिखाने वाले ओम ओझा इन बच्चों को लेकर यहां पहुंचे हुए हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!