अगले साल जर्मनी में होने वाले स्पेशल ओलम्पिक में दिव्यांग बच्चे भी दिखाएंगे अपना जलवा, 18 राज्यों के 75 बच्चों की तैयारी करा रहा सेल

मानसिक रूप से दिव्यांग बच्चों के लिए पहली बार बोकारो स्टील सिटी में बैडमिंटन के लिए चयन सह कोचिंग कैम्प का आयोजन बोकारो स्टील प्लांट के सीएसआर के तहत स्पेशल ओलंपिक भारत के सहयोग से आयोजित किया जा रहा है।


सूचनाजी न्यूज, भिलाई। जून 2023 में जर्मनी में होने वाले स्पेशल ओलम्पिक में भारत के दिव्यांग बच्चे भी भाग ले कर देश का नाम रोशन करेंगे। इसकी तैयारी 27 जून को बोकारो स्टील सिटी के सेक्टर-4 एफ स्थित बीएसएल के स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स में बैडमिंटन के लिए राष्ट्रीय चयन सह कोचिंग कैंप के उद्घाटन से हुई। मानसिक रूप से दिव्यांग बच्चों के लिए पहली बार बोकारो स्टील सिटी में बैडमिंटन के लिए चयन सह कोचिंग कैम्प का आयोजन बोकारो स्टील प्लांट के सीएसआर के तहत स्पेशल ओलंपिक भारत के सहयोग से आयोजित किया जा रहा है। कोचिंग कैंप का उद्घाटन बीएसएल के अधिशासी निदेशक (कार्मिक एवं प्रशासन) संजय कुमार द्वारा एयर कोमोडोर एवं एग्जीक्यूटिव डायरेक्टर (स्पेशल ओलम्पिक भारत) ललित कुमार शर्मा की उपस्थिति में किया गया।

ये खबर भी पढ़ें: जहां जूनियर मैनेजर बनकर आए, वहीं विभाग प्रमुख पद से रिटायर हुए जीए राव

इस दौरान स्पेशल ओलंपिक भारत (झारखंड) के असिस्टेंट एरिया डायरेक्टर सतवीर सिंह सहोटा, बीएसएल के मुख्य महाप्रबंधक प्रभारी (कार्मिक) पवन कुमार, मुख्य महाप्रबंधक प्रभारी (नगर प्रशासन) बीएस पोपली, मुख्य महाप्रबंधक (सीईडी) शालिग्राम सिंह, मुख्य महाप्रबंधक (सुरक्षा) मनोज कुमार, मुख्य महाप्रबंधक (कार्मिक) हरि मोहन झा सहित अन्य वरीय अधिकारी, एथलीट, 18 राज्यों से आए 75 दिव्यांग बच्चे उपस्थित थे।

ये खबर भी पढ़ें: पेंशन नहीं टेंशन का सर्कुलर सेल ने किया जारी, बदलाव कर्मचारियों के खिलाफ, ब्याज पर नहीं कर सकते क्लेम, घाटे में बंद होगा अंशदान

कार्यक्रम के आरम्भ में सतवीर सिंह सहोटा ने कार्यक्रम की रूपरेखा पर प्रकाश डाला। प्रतिभागियों ने अपने परिचय दिए। उपस्थित जनों को संबोधित करते हुए संजय कुमार ने कहा कि इन बच्चों को खेल-कूद के माध्यम से मुख्यधारा में लाने के इस अभियान का हिस्सा बनना सेल-बोकारो स्टील प्लांट के लिए गर्व की बात है। उन्होंने कहा कि बोकारो स्टील प्लांट स्पेशल ओलम्पिक भारत के साथ मिलकर इस मुहिम को आगे ले जाने की दिशा में कार्य करता रहेगा।

1 जुलाई तक चलने वाले इस कोचिंग कैम्प में उतराखंड, तमिलनाडू, राजस्थान, कर्नाटक,पंजाब, पांडिचेरी, ओडिशा, गुजरात, गोआ, हरियाणा, दिल्ली, छत्तीसगढ़, चंडीगढ़, केरल, झारखंड, आंध्रप्रदेश, महाराष्ट्र एवं हिमाचल प्रदेश के बच्चों का चयन किया जाएगा। बैडमिन्टन खेलने के विभिन्न नियमों एवं गुरों से अवगत कराया जाएगा। कोचिंग कैंप दो पालियों सुबह 8:30 बजे से 12:30 बजे तक तथा सायं 3:30 बजे से 6:30 बजे तक आयोजित की जाएगी।

ये खबर भी पढ़ें: सेल चेयरमैन पद के सभी दावेदार धुरंधर, हादसों में भी सबकी बराबर की हिस्सेदारी, अब होगा श्रेष्ठ में सर्वश्रेष्ठ का खिताब

बीएसएल के उप महाप्रबंधक (सीएसआर) सीआरके सुधांशु ने आरंभ में सभी का स्वागत किया तथा कार्यक्रम का संचालन उप प्रबंधक (सामग्री प्रबंधन) तनु प्रिया ने किया। उल्लेखनीय है कि बीएसएल अपने सीएसआर के माध्यम से स्वास्थ्य और खेल को बढ़ावा देने के क्षेत्रों में लंबे समय से काम कर रही है। बीएसएल अब दिव्यांग बच्चों के उत्थान हेतु क्षेत्र में भी लगातार काम करने और खेल के माध्यम से उन्हें मुख्य धारा से जोड़ने के मुहिम में शामिल हो रही है।

ये खबर भी पढ़ें: सेल में ई-1 से ई-7 ग्रेड के अधिकारियों को मिलेगा बंपर प्रमोशन, 30 को आएगा रिजल्ट, 2010 ई-0 बैच पर सबकी नजर

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!