बीएसपी में ठेका मजदूरों की आवाज बना सीटू, जमीनी संघर्ष का रिजल्ट ठेका मजदूरों को पूरी हाजिरी से मिल रहा: योगेश सोनी

0
citu theka union
हिंदुस्तान इस्पात ठेका श्रमिक यूनियन सीटू के महासचिव योगेश कुमार सोनी ने कहा कि प्रबंधन का सहयोग मिला।ठेका मजदूरों को न्याय मिल रहा है।
AD DESCRIPTION

भिलाई इस्पात संयत्र के भूतपूर्व सीइओ एम. रवि सहित पूर्व कार्यपालक निदेशक कार्मिक व प्रशासन एसके दुबे व केके सिंह से मुलाकात व चर्चा कर व बार-बार पत्र सौंपकर मांग की जाती रही है।

सूचनाजी न्यूज, भिलाई। भिलाई स्टील प्लांट के ठेका मजदूरों का शोषण रोकने के लिए जमीनी संघर्ष भी किया गया है। हिंदुस्तान इस्पात ठेका श्रमिक यूनियन सीटू के नेताओं को कार्रवाई से भी गुजरना पड़ा। मुसीबतों का सामना किया। लगातार आवाज उठाते रहे, जिसका अब फल दिख रहा है। ठेका मजदूरों को न्याय मिल रहा है। ऑनलाइन अटेंडेंस होते ही 14 प्रतिशत ठेका मजदूरों की संख्या बढ़ गई, जिसे पहले दबाया जाता था। पेमेंट का खेल होता था।

ये खबर भी पढ़े …BSP में ऑनलाइन अटेंडेंस फीड होते ही 14 प्रतिशत से ज्यादा बढ़ी ठेका मजदूरों की संख्या, अब बायोमेट्रिक की तैयारी

AD DESCRIPTION AD DESCRIPTION

सीटू ठेका यूनियन के महाचिव योगेश कुमार सोनी का कहना है कि भिलाई इस्पात संयंत्र में ठेका श्रमिकों पर हो रहे शोषण, वेतन भुगतान, पीएफ़ में धांधली, हाजिरी पर गड़बड़ी जैसी समस्याओं को लेकर लगातार जमीनी संघर्ष कर श्रमिकों की आवाज बुलंद की गई है। आज रोजाना अटेंडेंस सिस्टम व निकट भविष्य में बायोमेट्रिक सिस्टम लागू किये जाने से कुछ हद तक श्रमिकों के वेतन सहित अन्य मामलों में धांधली पर रोक लगाई जा सकेगी, जिसके लिए यूनियन लगतांर संघर्ष के साथ-साथ भिलाई इस्पात संयत्र के भूतपूर्व सीइओ एम. रवि सहित पूर्व कार्यपालक निदेशक कार्मिक व प्रशासन एसके दुबे व केके सिंह से मुलाकात व चर्चा कर व बार-बार पत्र सौंपकर मांग की जाती रही है।

ये खबर भी पढ़े …BSP-रेलवे, ED वर्क्स और CGM के बीच दीवार खड़ी कर दी बरसात के पानी ने, देखिए वीडियो

योगेश कुमार सोनी ने कहा कि प्रबंधन भी ठेका श्रमिकों पर हो रहे शोषण को गम्भीरता से लेते हुए कड़े कदम उठाए। धीरे-धीरे सिस्टम में बदलाव ला रही है, जिसका सकारात्मक परिणाम आने शुरू हो गए हैं। यूनियन व प्रबंधन के प्रयासों से आज श्रमिकों के शोषण पर लगाम लगाने में कुछ हद तक सफलता मिलती दिख रही है। आने वाले समय में श्रमिकों को जीने योग्य वेतन व शोषण विहीन भिलाई इस्पात संयंत्र के सपने को साकार करने के लिए यूनियन संकल्पित है।

ये खबर भी पढ़े …SAIL-राउरकेला स्टील प्लांट में हादसा, प्रशिक्षु समेत कर्मचारी झुलसा

AD DESCRIPTION AD DESCRIPTION

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here