सीटू का दृष्टि पत्र: न किसी यूनियन पर वार, न पलटवार, आपसी एकता को बनाया हथियार…, दो कार्यकाल के कामों को बताया बिंदुवार

39 महीने का एरियर्स, नए पे-स्केल, शिक्षा, चिकित्सा, कर्मियों द्वारा आवास संधारण हेतु किए जाने वाले खर्चे की प्रतिपूर्ति से संबंधित सीटू द्वारा पूर्व में प्रस्तावित सुझाव को लागू करवाने का संकल्प लिया गया है।

सूचनाजी न्यूज, भिलाई। भिलाई इस्पात संयंत्र के मान्यता प्राप्त यूनियन चुनाव के लिए सीटू ने दृष्टि पत्र जारी किया है, जिसमें किसी भी यूनियन पर न तो कटाक्ष, ना ही आलोचना किया गया है। दृष्टि पत्र जारी करने के पश्चात सीटू महासचिव ने स्पष्ट किया कि कर्मियों से जुड़े विभिन्न मुद्दों पर सीटू द्वारा कोई घोषणा पत्र नहीं, बल्कि दृष्टि पत्र जारी किया गया है, जिसमें विभिन्न मुद्दों को लेकर सीटू की समझ एवं रुख का उल्लेख है।

ये खबर भी पढ़ें: सेल कार्मिकों की आवाजाही की कुंडली अगले महीने से रखेगा प्रबंधन, ट्रायल शुरू, कार-बाइक के लिए क्यूआर कोड का आदेश जारी, व्हीकल गेट पास ऐसे बनाएं ऑनलाइन…

दोनों मान्यता कार्यकाल के प्रमुख कार्यों का उल्लेख

दृष्टि पत्र में सीटू द्वारा अपने दो मान्यता कार्यकाल में किए गए कार्यों का उल्लेख है, जिसमें पहले मान्यता कार्यकाल में मान्यता मिलने के मात्र 7 माह के भीतर वेतन समझौता संपन्न कराने एवं सेल के किसी भी इकाई में पहली बार गैर कार्यपालकों को स्व-प्रमाण पत्र से मेडिकल लीव लेने की सुविधा शुरू करने का जिक्र है। इसके अलावा दूसरे मान्यता कार्यकाल में बहुप्रतीक्षित प्रधानमंत्री ट्राफी की राशि का उपहार वितरण, दो आकस्मिक अवकाश के बीच में साप्ताहिक अवकाश आने पर उसे आकस्मिक अवकाश के रूप में गणना नहीं करने, अनुकंपा नियुक्ति प्राप्त करने वाले अनफिट एवं प्रति माह बेसिक डीए लेने हेतु अनफिट के लिए अलग-अलग आवेदन प्रारूप बनवाकर उसे पारदर्शी बनाने, प्रशिक्षणार्थियों के अवकाश सुविधाओं में वृद्धि आदि का उल्लेख है।

ये खबर भी पढ़ें: JBCCI की बैठक बेनतीजा रहने पर भड़के सीटू, एचएमएस, बीएमएस और एटक, कोयला मंत्री प्रह्लाद जोशी से मांगा मुलाकात का समय

मान्यता में नहीं रहते हुए किए गए कार्य

दृष्टि पत्र में, मान्यता में नहीं रहते हुए भी ग्रेच्युटी को सीलिंग किए जाने, गैर कार्यपालक पदोन्नति नीति द्वारा कर्मियों को होने वाले नुकसान आदि के खिलाफ तथा प्रशिक्षण काल को सेवा काल में जोड़ने के लिए सीटू द्वारा किए जा रहे संघर्ष एवं प्रयासों का उल्लेख है।

ये खबर भी पढ़ें: पुरई गांव के तालाब में तैरने वाले बच्चे भी उतरे स्विमिंग पूल में, पानी में मिटी अमीरी-गरीबी, नेशनल चैंपियनशिप के लिए 200 बच्चे दिखा रहे प्रतिभा

39 माह के एरियर्स सहित सभी लंबित मुद्दों के निराकरण का संकल्प

यूनियन द्वारा 39 महीने का एरियर्स, नए पे-स्केल को शीघ्र लागू करवाने, सभी लंबित मुद्दों के निराकरण सहित स्थानीय स्तर पर शिक्षा, चिकित्सा, व्यवस्था में सुधार तथा आवास व्यवस्था को बेहतर बनाने हेतु वेलकम स्कीम के बदले कर्मियों द्वारा आवास संधारण हेतु किए जाने वाले खर्चे की प्रतिपूर्ति से संबंधित सीटू द्वारा पूर्व में प्रस्तावित सुझाव को लागू करवाने का संकल्प लिया गया है।

ये खबर भी पढ़ें: CITU Election Campaign: भिलाई स्टील प्लांट में होती थी सीपीएफ लोन और आवास आवंटन में दलाली, जानिए कर्मियों ने क्या खोले राज…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!