मानव संसाधन को अधिक कार्यशील बनाने और कर्मियों में तेजी से कार्य करने की क्षमता विकसित करेगा कोल इंडिया

कोल इंडिया लिमिटेड के निदेशक (कार्मिक एवं औद्योगिक संबंध) विनय रंजन ने सहभागियों को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से संबोधित किया।

सूचनाजी न्यज, नागपुर। वेस्टर्न कोलफील्ड्स लिमिटेड-वेकोलि में कोल इंडिया लिमिटेड के एचआर विजन (HR Vision 2025) पर मंथन किया गया। कोल इंडिया का उत्पादन बढ़ाने और देश की आवश्यकताओं को पूरा करने पर चर्चा की गई। नई टेक्नोलॉजी और प्लानिंग पर विस्तार से विशेषज्ञों ने सवालों का जवाब दिया। समयानुसार मानव संसाधन के क्षेत्र में आए परिवर्तन को कार्यप्रणाली में समाहित करने एवं देश की कोयला आवश्यकताओं को पूर्ण करने के उद्देश्य से मानव संसाधन के समुचित संयोजन के लिए कोल इंडिया लिमिटेड द्वारा ‘एचआर विज़न 2025’ बनाया जा रहा है। इस विज़न के प्रारूप पर वेकोलि में शनिवार को कार्यशाला का आयोजन किया गया। इस कार्यशाला में सभी क्षेत्रों के कार्मिक विभाग के अधिकारियों ने भाग लिया।

ये खबर भी पढ़ें: महिला नेता का ठेकेदार ने पकड़ा हाथ, मामला पहुंचा थाने, बदतमीजी और श्रमिक नेताओं पर बीएसपी कार्रवाई के खिलाफ सीटू खोलने जा रहा मोर्चा

कार्यशाला के दौरान कोल इंडिया लिमिटेड के निदेशक (कार्मिक एवं औद्योगिक संबंध) विनय रंजन ने सहभागियों को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से संबोधित किया। उन्होंने अपने संबोधन में कहा की ‘एचआर विज़न 2025’ सभी का साझा विज़न होगा। बदलते परिपेक्ष में ‘एचआर विज़न 2025’ को महत्वपूर्ण बताते हुए उन्होंने सभी से इस विज़न के बनने के उपरांत इसका कार्यान्वयन सुनिश्चित करने को कहा।

ये खबर भी पढ़ें: बीएसपी हादसे में 85% झुलसे मजदूर के दोनों पैर-हाथ की सड़ी और जली स्किन का हुआ ऑपरेशन, मरीज को चाहिए खून, कीजिए रक्तदान

इस कार्यशाला के उद्घाटन समारोह में वेकोलि के निदेशक (कार्मिक) डॉ. संजय कुमार मुख्य अतिथि के रुप में उपस्थित रहे। अपने उद्बोधन में उन्होंने कंपनी के मानव संसाधन को अधिक कार्यशील बनाने एवं कर्मियों में तेजी से कार्य करने की क्षमता विकसित करने पर जोर दिया। उन्होंने ‘एचआर विज़न 2025’ में वर्तमान आवश्यकताओं को समाहित करने के साथ ही भविष्य की आवश्यकताओं के अनुरूप सिद्धांतों के समावेश का आग्रह किया। उन्होंने कार्यशाला की सफलता के लिए अपनी शुभकामनाएं दी।

ये खबर भी पढ़ें:Rourkela Steel Plant: सेल-सुरभि के मंच पर इस्को और बोकारो के कलाकारों ने दिखाई बंगाल-झारखंड की सांस्कृतिक विरासत, देखें तस्वीरें

इस कार्यशाला में चार्ल्स जस्टर-महाप्रबंधक (कार्मिक), नॉर्दर्न कोलफील्ड्स लिमिटेड, मुख्य वक्ता एवं समन्वयक के तौर पर उपस्थित रहे। उन्होंने मानव संसाधन के विभिन्न पहलुओं पर विस्तार से बात की एवं इस संबंध में सब के सुझाव लिए। इस दौरान उपस्थित अधिकारियों को 10 टीमों में बांटा गया, जिन्होंने इस ‘एचआर विज़न 2025’ के विभिन्न पहलुओं पर अपना प्रेजेंटेशन दिया। उपस्थित अधिकारियों के पारस्परिक विचार-विमर्श एवं संवाद के दौरान आए सुझावों पर विस्तार से चर्चा हुई एवं उपयुक्त सुझावों का ‘एचआर विज़न 2025’ के प्रारूप में समावेश किया गया।

ये खबर भी पढ़ें: बीएमएस ने बर्नपुर की दोनों कमेटी की भंग, बीरेंद्र होंगे इस्पात कर्मचारी संघ और विनोद राय ठेका संघ के नए अध्यक्ष

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!