सेल और आरआइएनएल के कर्मचारियों के लिए बोकारो स्टील प्लांट के कर्मियों ने निकाला जुलूस, किया प्रदर्शन

सूचनाजी न्यूज, बोकारो। ऑल इंडिया स्टील वर्कर्स फेडरेशन के आह्वान पर सेल और विशाखापट्टनम स्टील प्लांट व खदानों में एक साथ एक दिन वेज रिवीजन करने, 39 माह का एरियर भुगतान और अन्य मांगों को लेकर बोकारो इस्पात कामगार यूनियन एटक ने प्रदर्शन किया। नया मोड़ से जुलूस निकालकर एडीएम बिल्डिंग पर जोरदार प्रदर्शन किया।प्रदर्शनकारियों को संबोधित करते हुए यूनियन के महामंत्री रामाश्रय प्रसाद सिंह, विधासागार गिरि ने कहा कि सेल तथा राष्ट्रीय इस्पात निगम लिमिटेड विशाखापट्टनम के कर्मियों के लंबित मुद्दों, आधा-अधूरा वेतन समझौता, 39 माह का बकाया एरियर, पे स्केल फाइनल होने के बावजूद अभी तक लागू नहीं किया गया है।

इसी तरह नाइट शिफ्ट एलाउंस के साथ अन्य एलाउंस पर फैसला नहीं होना, ठेका मजदूरों के सवाल पर सेल प्रबंधन के सौतेले व्यवहार का आरोप लगाया गया है। साथ ही साथ विशाखापट्टनम स्टील प्लांट में अभी तक एमओयू को लागू नहीं करना दुर्भाग्यपूर्ण है। लगभग 9 महीने बीत जाने के बाद भी हमारा वेज रिवीजन अधूरा है, जबकि एमओयू पर हस्ताक्षर होते ही अधिकारियों का रिवीजन तुरंत हो गया। उन्हें सारी सुविधाएं मिल गई। मगर इस मजदूर विरोधी प्रबंधन की हरकतों की वजह से कमेटी की बैठक के बाद पे-स्केल फाइनल होने के बावजूद इसका लाभ मजदूरों को नहीं मिल रहा है।

उन्होंने चेतावनी दिया कि प्रबंधन 30 जून 2021 जैसी हड़ताल करने के लिए मजदूरों को विवश ना करें। ग्रेच्युटी पर लिया गया एक तरफा फैसला प्रबंधन अविलंब वापस करें। कर्मियों के ट्रेनिंग पीरियड को सर्विस पीरियड में जोड़ा जाए। चार कर्मियों के सस्पेंशन तथा स्थानांतरण को अविलंब वापस लिया जाए। ठेका मजदूरों को एस-1 ग्रेड के बराबर न्यूनतम वेतन पर फैसला कर मजदूरों को भुगतान किया जाए।

गेटपास को हथियार बनाने का परिचालन पर अंकुश लगे तथा ठेकेदार बदले मजदूर वही रहें कि नीति लागू की जाए। प्रदर्शन के दौरान बृजेश कुमार, सत्येंद्र कुमार, नरेंद्र कुमार, बीके लहरी, एमए अंसारी, कृष्णा राम, राजीव रंजन, एसबी सिंह, अजय कुमार, रजक, एचजी राय, आरएस डे, भारत भूषण, रफत उल्लाह, आरआर दास, एम बिंदानी, एसके निषाद, के तिर्की, प्राण सिंह, पप्पू, गौरी कुमार, उदय प्रताप, आनंद, दिलीप, ओम प्रकाश आदि मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!