रानी लक्ष्मीबाई के बलिदान दिवस पर हर किसी ने अर्पित किया श्रद्धासुमन

सूचनाजी न्यूज, भिलाई। 1857 की स्वतंत्रता संगाम सेनानी झांसी की रानी लक्ष्मीबाई का बलिदान दिवस शनिवार को मनाया गया। दुर्ग में केलाबाडी चौक पर बुन्देलखण्ड मित्र मंडल के तत्वावधान में बड़ी संख्या मे भिलाई-दुर्ग के निवासियों ने एकत्रित होकर श्रद्धापूर्वक बलिदान दिवस मनाया। श्रद्धासुमन अर्पित किया। मुख्य अतिथि के रूप दुर्ग विधायक अरूण बोरा, दुर्ग महापौर धीरज बाकलीवाल शामिल हुए।

ये खबर भी पढ़ें: महिला नेता का ठेकेदार ने पकड़ा हाथ, मामला पहुंचा थाने, बदतमीजी और श्रमिक नेताओं पर बीएसपी कार्रवाई के खिलाफ सीटू खोलने जा रहा मोर्चा

केलाबाडी के पार्षद खोकर, कार्यक्रम की प्रभारी व दुर्ग नगर निगम की एलडरमैन रत्ना नारमदेव, सेक्टर-10 भिलाई के पार्षद अभय कुमार सोनी, अध्यक्ष जीआर चौबे, महासचिव अरविंद कुमार पांडेय की उपस्थिति में महारानी लक्ष्मीबाई की मूर्ति पर माल्यार्पण किया गया। बलिदान दिवस पर राष्ट्रगीत एसएल नामदेव व अलमास खातून ने अपनी मधुर आवाज में गाया।

ये खबर भी पढ़ें:बीएसपी हादसे में 85% झुलसे मजदूर के दोनों पैर-हाथ की सड़ी और जली स्किन का हुआ ऑपरेशन, मरीज को चाहिए खून, कीजिए रक्तदान

सभी ने रानी लक्ष्मीबाई को बलिदान दिवस पर याद किया। रानी लक्ष्मीबाई अमर रहे के नारों से केलाबाडी चौक गूंज उठा। कार्यक्रम की शुरूआत रानी लक्ष्मीबाई की प्रतिमा पर माल्यार्पण से किया गया। इसके बाद बुन्देलखण्ड मित्र मंडल के सदस्यों ने सभी अतिथियों का पुष्प गुच्छ से स्वागत किया।

इसके बाद अतिथियों और वरिष्ठ सदस्यों ने अपने-अपने विचार रखें, जिसमे रानी लक्ष्मीबाई ने उन विषम परिस्थित में जब महिलाओं को बाहर निकलने तक की इजाजत नहीं हुआ करती थी। उस समय देश को आजाद कराने के लिए तलवार उठाई और अग्रेजों को लोहे के चने चबवा दिए।

ये खबर भी पढ़ें:बीएसपी के एक ईडी, 2 सीजीएम, 8 जीएम संग 31 अधिकारी होंगे इसी माह रिटायर, जानिए सबके नाम

मंच संचालन रमेश टेहनगुरिया ने किया। कार्यक्रम में एमएम शर्मा, एसडी नायक, टीआर शाक्या, प्रकाश चंद्र राय, राजेश कुमार शर्मा, पीके तिवारी, डीपी अहिरवार, आरके कोरी, रामजी कोरी, राजेश कुमार तिवारी, एचके शर्मा, पीएल स्वर्णकार, एमपी विश्वकर्मा, जाकिर अली, पीके सोनी, एनके रैदास, जालिम सिंह शर्मा, नरेश कुमार उपाध्याय, मीर आदि उपस्थित थे । धन्यवाद ज्ञापन महासचिव अरविंद कुमार पांडेय ने किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!