Exclusive News: घरों की मस्त कराइएगा रंगाई-पोताई, सेल से 55 हजार तक वापस लीजिएगा मेरे भाई

अलग-अलग कैटेगरी के हिसाब से बीएसपी प्रबंधन रंगाई-पोताई का पूरा खर्च सैलरी के साथ वापस करेगा। मान्यता प्राप्त यूनियन इंटक बोला-हमारी मांग पर प्रबंधन अमल करने जा रहा है।

अज़मत अली, भिलाई। स्टील अथॉरिटी ऑफ इंडिया लिमिटेड-सेल के कर्मचारियों और अधिकारियों के लिए अच्छी खबर है। सेल के आवासों में रहने वाले कार्मिकों को अब साफ-सुथरा मकान नसीब हो सकेगा। मेंटेनेंस आफिस या नगर सेवाएं विभाग का चक्कर नहीं लगाना पड़ेगा। किसी की जी-हुजूरी करने की नौबत नहीं आएगी। कंपनी अब खुद इस काम से पीछे हटने जा रही है। हर कर्मचारी और अधिकारी को अधिकार होगा कि वह अपने मन-पसंद का रंग चुन सकें और पोताई करा सकें। घरों में रंग-रोगन किसी भी व्यक्ति से कराया जा सकेगा। आवास की रंगाई पर आने वाले 50 हजार रुपए तक के खर्च का भुगतान सेल प्रबंधन करेगा।

इस स्कीम की शुरुआत भिलाई स्टील प्लांट से होने जा रही है। जल्द ही सर्कुलर जारी कर दिया जाएगा। कर्मचारियों की सुविधा को देखते हुए प्रबंधन ने यह फैसला लिया है। इसे मूर्तरूप देने की कवायद चल रही है। किसी दिन भी इसे अमल में लाने का आदेश जारी कर दिया जाएगा।

ठेकेदारों की मनमानी और भ्रष्टाचार से बचने के लिए बीएसपी प्रबंधन ने कार्मिकों को ही अधिकार देने का फैसला कर लिया है। रंग-रोगन की क्वालिटी को लेकर अक्सर सवाल उठते थे। नियमों की वजह से अतिरिक्त निर्माण पर रंगाई नहीं हो पाती थी। वहीं, बाहरी दीवार पर भी रंगाई न होने से अक्सर तनाव की स्थिति बनती थी। इन सब झंझट से बचने का रास्ता निकाला गया है।

30 साल बाद अब होगी नियमित रंगाई

मान्यता प्राप्त यूनियन इंटक के अतिरिक्त महासचिव संजय साहू ने सूचनाजी.कॉम को बताया कि 30 साल से नियमित रंगाई का कार्य बंद है। आवासों में हर साल रंगाई 30 साल पहले तक हुआ करती थी। अब आवश्यकता और शिकायत होने पर ही रंगाई का कार्य किया जाता था। यूनियन ने मेंटेनेंस एलाउंस की मांग की थी, जिसे प्रबंधन ने स्वाकार कर लिया है। लेकिन इसका रूप बदल दिया है। अब रंगाई का खर्च कर्मचारी या अधिकारी के सैलरी के साथ वापस कर दिया जाएगा। वहीं, वेलकम स्कीम बंद होने से आवासों की हालत बहुत खराब हो चुकी है। अब रेगुलर रंग-रोगन हो सकेगा।

जानिए रंगाई के लिए किसे-कितनी राशि मिलेगी

15 हजार तक: 1बीएचके टाइप आवास
25 हजार तक: 2 बीएचके टाइप आवास
45 हजार तक: 3 बीएचके टाइप आवास
55 हजार तक: बीएसपी के बंगले के लिए

थर्ड पार्टी को नहीं मिलेगा पैसा, ये भी जानिए

-बीएसपी के कर्मचारियों और अधिकारियों को ही इस योजना का लाभ मिलेगा। थर्ड पार्टी में आवंटित आवास में रहने वालों को लाभ नहीं दिया जाएगा।
-जिस कार्मिक का रिटायरमेंट एक साल से कम बचा होगा, उन्हें योजना का लाभ नहीं मिलेगा।
-एक बार रंग-रोगन होने पर करीब चार साल बाद दोबारा मौका मिलेगा।
-शादी समारोह या अन्य मांगलिक कार्यक्रम के दौरान घरों में रंगाई-पोताई की मांग अधिक होती है। ऐसे लोगों को फायदा होगा।
-कार्मिकों को अपने खर्च पर पहले रंगाई करानी होगी। इसके बाद प्रबंधन आवास के पैमाने के हिसाब से सैलरी में रकम जोड़कर वापस कर देगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!