नॉन फाइनेंसियल अवॉर्ड पाकर बीएसपी कर्मचारियों से ज्यादा परिवार के सदस्य खुश, अप्रैल-मई और जून के अवॉर्ड की उठी मांग

सूचनाजी न्यूज, भिलाई। लक्ष्य से अधिक उत्पादन करने वाले कर्मचारियों और अधिकारियों को उपहार दिया जा रहा है। जैसे-जैसे यह उपहार घरों में पहुंच रहा है, वहां भी खुशियों का माहौल बन रहा है। नॉन फाइनेंसियल अवॉर्ड पाकर कर्मचारियों से ज्यादा परिवार के सदस्य खुश हो रहे हैं।

अवार्ड समारोह को लेकर जहां एक तरफ विवाद चल रहा है। दूसरी ओर कर्मचारी और उनके परिवार के सदस्य अपनी मस्ती में मस्त हैं। कई वर्षों बाद कर्मियों को मिले इस तरह के गिफ्ट से जहां कर्मी उत्साहित हैं, उनसे ज्यादा उनके परिवार के सदस्य उत्साहित हैं, क्यों कि पिछले 2 वर्षों में कोरोना काल के बाद से कर्मियों एवं उनके परिवार के सदस्य तनाव के माहौल में थे। अब उन्हें प्रबंधन की तरफ से गिफ्ट पाकर खुशी हो रही है।

एनजेसीएस सदस्य वंश बहादुर सिंह का कहना है कि इंटक यूनियन के प्रयास से भिलाई इस्पात संयंत्र प्रबंधन ने अक्टूबर 2021 से नॉन फाइनेंसियल अवार्ड के तहत कर्मियों व अधिकारियों को गिफ्ट देने की योजना बनाई।

प्रबंधन ने अक्टूबर-नवंबर-दिसंबर के लिए प्रोडक्शन टारगेट रखते हुए इस स्कीम को लागू किया, जिसमें प्रबंधन ने संयंत्र को पांच जोन में बांटते हुए अवार्ड की राशि सुनिश्चित की। जिस विभाग ने अपने निर्धारित लक्ष्य को जिस अनुपात में हासिल किया। उस विभाग के खाते में उतनी राशि अवार्ड के रूप में तय कर दी गई। यह राशि हर विभाग के लिए अलग-अलग है।

इसी के तहत मैकेनिकल डिपार्टमेंट एवं इंजीनियरिंग शॉप्स के मुख्य महाप्रबंधक ने अपने मातहत कर्मचारियों के लिए एक कमेटी गठित कर गिफ्ट देने का निर्णय लिया।
इंजीनियरिंग शॉप्स के कर्मियों को मिल्टन का टिफिन एवं थरमस दिया गया है।

वहीं, मैकेनिकल सर्विसेज के कर्मियों को मिल्टन का टिफिन एवं स्टील का हॉट एंड कूल बॉटल दिया गया। कर्मचारियों को इस बात की खुशी है कि विषम परिस्थितियों में भी भिलाई के कर्मियों ने जिस तरह सेल के उत्पादन को बरकरार रखा। प्रबंधन ने उनके मेहनत एवं जज्बे का सम्मान किया।

अप्रैल-मई और जून महीने का नान फाइनेंसियल मोटिवेशन स्कीम दिया जाए

स्टील इम्प्लाइज यूनियन इंटक ने अप्रैल, मई और जून के नॉन फाइनेंसियल मोटिवेशन स्कीम का अवॉर्ड देने की मांग की है। यूनियन प्रतिनिधि मंडल ने भिलाई इस्पात संयंत्र के औद्योगिक संबंध विभाग के वरिष्ठ प्रबंधक रोहित हरित को निदेशक प्रभारी भिलाई इस्पात संयंत्र के नाम से ज्ञापन सौंपा, जिसमें मांग की गई है कि जल्द से जल्द उत्पादन लक्ष्य आधारित अप्रैल मई जून का नान फाइनेंसियल मोटिवेशन स्कीम चालू किया जाए। इससे भिलाई इस्पात संयंत्र के उत्पादन और लाभ अर्जन में बढ़ोतरी होगी और कर्मचारियों का मनोबल बढ़ेगा। प्रतिनिधिमंडल में महासचिव एसके बघेल, अतिरिक्त महासचिव संजय साहू, वरिष्ठ सचिव जयंत बराठे, सचिव सुरेश श्याम कुमार एवं खुर्शीद कुरैशी उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!