सेक्टर-1 से 6 तक 30 जून को घरों में नहीं आएगा पानी, कर लीजिए इंतजाम

सूचनाजी न्यूज, भिलाई। भिलाई टाउनशिप के सेक्टर-1 से लेकर 6 तक 30 जून को पानी की सप्लाई ठप रहेगी। पहले 29 जून को पानी सप्लाई बाधित रहने की सूचना आई थी। मेंटेनेंस का काम बढ़ते ही बीएसपी ने शेड्यूल बदल दिया है। 29 जून को भी मरम्मत कार्य किया गया, इसलिए टंकियों में पानी नहीं भरा जा सका। यही वजह है कि 30 जून को जलापूर्ति बाधित रहेगी। इसलिए आप घरों में पानी का इंतजाम कर लीजिए।

भिलाई इस्पात संयंत्र के जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकी विभाग, नगर सेवा विभाग के द्वारा बीएसएनएल चौक सेक्टर-4 के पास 250 मिमी. व्यास पाइप लाइन में लीकेज का सुधार कार्य मंगलवार को किया गया। यह कार्य अधूरा होने की वजह से 29 जून को भी जारी रहेगा। इस कार्य के लिए इस्टर्न ग्रिड को पूर्णतया बंद किया गया है। अतः सेक्टर-01 से सेक्टर-06 तक 30 जून गुरुवार को नियमित पानी सप्लाई आंशिक रूप से बाधित रहने की संभावना है। बीएसपी ने इन क्षेत्रों के नागरिकों से अपील किया है कि जलप्रदाय के कार्य में होने वाली असुविधा से बचने के लिए पानी का इंतजाम घरों में कर लें।

ये खबर भी पढ़ें: सेल में आधा-अधूरा वेतन समझौता और ठेका मजदूरों का हो रहा शोषण, दुर्गापुर स्टील प्लांट के कर्मी उतरे सड़क पर

भिलाई इस्पात संयंत्र के नगर सेवा विभाग के जनस्वास्थ्य अभियांत्रिकी विभाग ने इस्पात नगरी की सिवरेज और पेयजल सिस्टम को व्यवस्थित बनाए रखने के लिए जनहित में एक अपील जारी कर आम नागरिकों से अनुरोध किया है। 10 मुख्य बिन्दुओं पर आम जनता का ध्यान आकर्षित किया गया है। भिलाई इस्पात संयंत्र का कहना है कि जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकी विभाग नगर वासियों के आवासों में स्थित सीवर सिस्टम की सफाई एवं अनुरक्षण के साथ-साथ पेयजल प्रदाय के लिए मौजूद पाइप लाइन सिस्टम का अनुरक्षण हेतु निरन्तर प्रयासरत है। इस कार्य को सुचारू रूप से संपादित करने के लिए इस्पात नगरी के नागरिकों से सहयोग अपेक्षित है। सभी नागरिकों से अपील की गई है कि वे निम्नलिखित बातों पर ध्यान दें और कार्यवाही करें, ताकि नगर का सीवर सिस्टम एवं पेयजल सिस्टम सुव्यस्थित रूप से चलता रहे तथा आवासधारियों को कोई परेशानी नहीं उठाना पड़े।

ये खबर भी पढ़ें: हाउस, एजुकेशन और मेडिकल के लिए लीजिए सेल सीपीएफ टॉप-अप लोन, तीसरे दिन खाते में आएगा पैसा, 5 साल में 60 इंस्टॉलमेंट में करें जमा, बचें सूदखोरों से
बीएसपी के आवासों में रहने वाले इन बातों का रखें ध्यान
-आवासों के पीछे स्थित सीवर सिस्टम, पेयजल का पाइप सिस्टम सर्विस लाइन पर किसी प्रकार का अतिरिक्त निर्माण अथवा बॉउंड्री वाल न बनाएं। इसके साथ ही आवासों के समीप स्थित मैनहोल एवं इंस्पेक्शन चेंबर पर किसी भी प्रकार का अतिरिक्त निर्माण ना करें तथा उस जगह का पक्कीकरण (सीमेंटिंग अथवा पेवर्स) न लगाएं। आवासों के आस-पास स्थित बरसाती नालों को अनाधिकृत रूप से न घेरें, अन्यथा बरसात का पानी मैनहोल में जाने से मैनहोल जाम हो जाएगा, जिससे घर में पानी घुसने की आशंका बन जाती है।
-आवासों के समीप स्थित मैनहोल एवं इंस्पेक्शन चेंबर को तोड़कर अतिरिक्त पाइप लाइन नहीं लगाएं। ऐसा करने पर मैनहोल क्षतिग्रस्त हो जाएगा तथा मैनहोल जाम भी हो सकता है। आवासों के समीप स्थित मैनहोल के साथ किसी प्रकार की छेड़छाड़ ना करें अन्यथा सभी को परेशानी का सामना करना पड़ेगा।

ये खबर भी पढ़ें: सेल कर्मियों को जनवरी 2017 से 2026 तक मिलेगा 3% सालाना इंक्रीमेंट, बढ़ेगा और बेसिक

-आवासों के समीप स्थित मैनहोल एवं इंस्पेक्शन चेंबर के पास किसी भी तरह का पेड़ पौधा ना लगाएं, जिससे मैनहोल क्षतिग्रस्त हो सकता है और बिजली की लाइन के नीचे भी पेड़ न लगाएं। आवासों के समीप स्थित पेयजल प्रणाली के पाइप के साथ किसी भी प्रकार का छेड़छाड़ ना करें अन्यथा गंदे पानी कि समस्या उत्पन्न हो सकती है। आवासों के समीप स्थित पेयजल प्रणाली के सुचारू रूप से संचालन के लिए वाल्व चैंबर बने होते हैं जिससे किसी प्रकार का छेड़छाड़ ना करें अन्यथा आपको परेशानी होगी।
-बैकलेन में सीवरेज एवं पेयजल की पाइप लाइन के ऊपर किसी भी प्रकार का अस्थायी/स्थायी निर्माण न करें। सफाई कर्मी के साथ-साथ अन्य कर्मियों को सीवरेज एवं पेयजल संधारण कार्य करने में इससे बाधा होती है। घर के सामने कच्ची अथवा पक्की नाली के ऊपर किसी भी प्रकार का निर्माण न करें।
-सेल-भिलाई इस्पात संयंत्र द्वारा जनहित में यह अपील जारी किया गया है। इसके साथ ही शहर की स्वच्छता और सुंदरता को बनाये रखने में नगर सेवा विभाग के कार्मिकों को पूरा सहयोग प्रदान करने का अनुरोध किया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!