सेल के स्टील प्लांट में दोबारा गैस रिसाव, दो दर्जन कार्मिकों की बची जान, कार्यस्थल पर थी 150 पीपीएम गैस

सूचनाजी न्यूज, बोकारो। बोकारो स्टील प्लांट के स्टील मेल्टिंग शॉप-1 के कन्वर्टर नंबर-1 में दोबारा गैस रिसाव की घटना हुई है। शनिवार शाम को गैस रिसाव के बाद मरम्मत किया गया था। उत्पादन भी बहाल हो गया था। सोमवार दोपहर करीब 12.30 बजे दोबारा गैस रिसाव हो गया। इस बार कार्यस्थल खतरनाक पैमाने पर था। 150 पीपीएम गैस पाई गई। अधिक मात्रा में पीपीएम मिलते ही सेंसर ने अलर्ट करना शुरू कर दिया। आवाज सुनते ही अधिकारियों और कर्मचारियों ने एरिया को खाली कर दिया। भगदड़ की स्थिति बनी रही। आमतौर पर 50 पीपीएम तक सामान्य स्थिति मानी जाती है। 100 पीपीएम होने पर कार्य स्थल को छोड़ने का आदेश दिया जाता है। लेकिन यहां 150 पीपीएम तक पाया गया। इसकी जानकारी लगते ही कार्मिकों के होश उड़ गए। गनिमत था कि सेंसर ने सबको अलर्ट कर दिया, अन्यथा कार्यस्थल पर मौजूद करीब दो दर्जन कार्मिकों की जान बचाना मुश्किल हो जाता।

आपात सेवा के तहत वहां लीकेज को बंद करने के लिए टीम जुट गई। फायर ब्रिगेड और एम्बुलेंस भी मौके पर पहुंची हुई है। बोकारो स्टील प्लांट के कर्मचारियों ने सूचनाजी.कॉम को बताया कि शनिवार शाम सात बजे एसएमएस-1 के कन्वर्टर-1 में कई दिनों मेंटेनेंस कार्य चल रहा था। रिलाइनिंग के जॉब की वजह से उत्पादन बंद किया गया था, तभी गैस रिसाव हुआ था। मरम्मत कार्य के बाद रविवार रात उत्पादन बहाल कर दिया गया था। कुछ खामी आने पर सोमवार सुबह से इसे बंद कर फिर से मेंटेनेंस का कार्य चल रहा था। इसी बीच दोपहर में गैस रिसाव हो गया। अचानक से सेंसर ने इंडिकेट करना शुरू कर दिया। गंधहीन, स्वादहीन और रंगहीन गैस किसी को समझ में ही नहीं आई। इंडिकेटर की आवाज सुनते ही भगदड़ मच गई। आनन-फानन में वहां से सबको हटाया गया। इसके बाद एनर्जी मैनेजमेंट डिपार्टमेंट की टीम ने मोर्चा संभाला।

खबर अपडेट की जा रही है…।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!