न्यूनतम वेतन 27 हजार करने पर सरकार मौन, 12 घंटे कार्य दिवस पर आमादा

सूचनाजी न्यूज, भिलाई। संयुक्त इंजीनियरिंग मजदूर संघ (एटक) का संगठनात्मक सम्मेलन रविवार को होगा। भिलाई स्टील मजदूर सभा (एटक) के महासचिव विनोद कुमार सोनी ने बताया कि शाम चार बजे से कर्मा भवन बैकुंठ धाम-भिलाई में संयुक्त इंजीनियरिंग मजदूर संघ (एटक) का संगठनात्मक सम्मेलन किया जाएगा।

ये खबर भी पढ़ें:बीएमएस का चला चुनावी तीर, कहा-प्रमोशन और लेंस की बैसाखी पर इंटक, प्रबंधन की करता है जासूसी

केन्द्र सरकार की मजदूर विरोधी नीतियों के कारण श्रमिक हितों में व वेतनवृद्धि में आ रही गिरावट, श्रमिकों के पेंशन व न्यूनतम वेतन 27000 करने पर सरकार का मौन रहना। केन्द्र सरकार सार्वजनिक क्षेत्र के उद्योगों का निजीकरण करने में अमादा है। और कौड़ी के दाम में बेचने के लिए एक पैर पर खड़ा है। श्रम कानूनों को शक्ति से लागू करने की बजाए, वर्तमान श्रम कानूनों को खत्म कर मालिक परस्त (कार्पोरेटपरस्त) व श्रमिक विरोधी 4 लेबर कोड लाया जा रहा है।

ये खबर भी पढ़ें:भिलाई टाउनशिप में दुकान बनाकर कर्मचारियों के बेरोजगार बच्चों को प्रबंधन करेगा आवंटित!

जिसमें 8 घंटे की जगह 12 घंटे कार्य दिवस का प्रस्ताव लाया जा रहा है। हायर एण्ड फायर की नीति को लागू करना अर्थात जब चाहे नौकरी में रख लो, जब चाहे नौकरी से निकाल दो। ऐसे गंभीर समय में संयुक्त इंजीनियरिंग मजदूर संघ (एटक) का संगठनात्मक सम्मेलन किया जाना समय की आवश्यकता है।

नगर सेवाएं विभाग को प्रदर्शनकारियों से बचाने वाले सीआइएसएफ जवान रामलु का ट्रांसफर, प्रबंधन ने किया सम्मानित

सम्मेलन में प्रमुख वक्ता राजू लाल श्रेष्ठ (केन्द्रीय महासचिव) संयुक्त इंजीनियरिंग मजदूर संघ (एटक), कमलजीत सिंह मान (सचिव) एसकेएमएस राजहरा माइंस, राजकुमार गुप्ता-संयोजक, छ.ग. श्रमिक संघ, विनोद कुमार सोनी-महासचिव, भिलाई स्टील मजदूर सभा (एटक) व श्रमिक अशोक कुमार-महासचिव एफएसएनएल श्रमिक संघ होंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!