राज्यपाल अनुसुईया उइके और सीएम भूपेश बघेल रंगे आस्था के रंग में, शस्त्र पूजा कर की सुख-समृद्धि की कामना

0
Governor-Chief Minister performed the tradition of weapon worship on Vijay Dashmi
दशहरा का पर्व असत्य पर सत्य की जीत, अंधकार पर प्रकाश की जीत और अधर्म पर धर्म की जीत का पर्व है।
AD DESCRIPTION

राज्यपाल अनुसुईया उइके राजभवन में आयोजित शस्त्र पूजा और हवन में शामिल हुई और देश एवं प्रदेश की सुख-समृद्धि की कामना की।
सूचनाजी न्यूज, रायपुर।
विजयादशमी पर छत्तीसगढ़ की राज्यपाल अनुसूइया उइके और मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने विधि-विधान एवं मंत्रोच्चार के बीच की शस्त्र पूजा की। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने अपने निवास में विजयादशमी पर्व के पावन अवसर पर शस्त्र पूजा की। उन्होंने इस अवसर पर उपस्थित अधिकारियों-कर्मचारियों सहित प्रदेशवासियों को विजयादशमी पर्व की बधाई और शुभकामनाएं दीं।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि दशहरा का पर्व असत्य पर सत्य की जीत, अंधकार पर प्रकाश की जीत और अधर्म पर धर्म की जीत का पर्व है। यह पर्व हमें अपने अहंकार तथा बुराई को समाप्त कर अच्छाई तथा सत्य की राह पर चलने की सीख देता है। दूसरी ओर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने अपने पैतृक गांव कुरूदडीह में नयाखाई के मौके पर परिवारजनों सहित कुल देवता की पूजा अर्चना की। उन्होंने इस मौके पर प्रदेश के लोगों की ख़ुशहाली की कामना भी की।

दूसरी तरफ राज्यपाल सुश्री उइके ने विजयादशमी के अवसर पर विधिवत शस्त्र पूजा और हवन किया। राज्यपाल अनुसुईया उइके राजभवन में आयोजित शस्त्र पूजा और हवन में शामिल हुई और देश एवं प्रदेश की सुख-समृद्धि की कामना की। उन्होंने राजभवन परिसर में विधिवत् शस्त्र पूजा की। तत्पश्चात् उन्होंने मां भगवती की आरती कर हवन में आहूति भी दी। उन्होंने उपस्थित राजभवन सचिवालय के अधिकारी एवं कर्मचारियों को विजयादशमी और दशहरा पर्व की शुभकामनाएं दी।

AD DESCRIPTION AD DESCRIPTION

इस दौरान राज्यपाल ने विजयादशमी की आरती और हवन के लिए विशेष रूप से आमंत्रित गायत्री परिवार के सदस्यों को उपहार भेंट किया। राज्यपाल सुश्री उइके ने इस अवसर पर कहा कि असत्य पर सत्य की जीत का यह त्योहार हमें अहंकार और अधर्म का नाश करने की सीख देता है। हमें दशहरे के इस पावन पर्व पर सत्य की राह में चलने का संकल्प लेना चाहिए।

इस अवसर पर राज्यपाल के उप सचिव दीपक कुमार अग्रवाल, राज्यपाल के परिसहायद्वय विवेक शुक्ला एवं मेजर सिद्धार्थ सिंह, नियंत्रक हरवंश मिरी सहित राजभवन के सभी अधिकारी एवं कर्मचारी उपस्थित थे।

AD DESCRIPTION AD DESCRIPTION

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here