कोल इंडिया के 500 कर्मचारियों की नौकरी बचाने एचएमएस, सीटू, बीएमएस, इंटक और एटक आया साथ, 21 के बाद आंदोलन की शुरुआत

सूचनाजी न्यूज, नागपुर। वेस्टर्न कोलफील्ड्स लिमिटेड-डब्ल्यूसीएल के करीब 500 कर्मचारियों को नौकरी से निकालने का विवाद गहराता जा रहा है। कोयला श्रमिक सभा के बाद अब इंटक, सीटू,बीएमएस और एटक आंदोलन में साथ हो गया है। पांचों यूनियनों ने संयुक्त रूप से कर्मचारियों का समर्थन किया है। पदाधिकारियों ने डब्ल्यूसीएल के सीएमडी से मुलाकात की। पूरे मामले पर मंथन के बाद निलंबन के बाबत जारी सर्कुलर को वापस लेने की मांग की गई है।

सीएमडी ने 21 मई तक का समय मांगा है। इस बीच पूरे पक्षों की जांच-पड़ताल के बाद दोबारा यूनियन पदाधिकारियों के साथ बैठक होगी। इधर-यूनियन पदाधिकारियों ने प्रबंधन को 21 मई तक का समय दिया है। साथ ही चेतावनी दी गई है कि अगर, सर्कुलर वापस नहीं लिया जाता है तो संयुक्त रूप से आंदोलन शुरू होगा। उत्पादन प्रक्रिया ठप होने पर पूरी जिम्मेदारी प्रबंधन की होगी।

कोल इंडिया के करीब 500 कर्मचारी होंगे निलंबित, अनिश्चितकालीन हड़ताल की तैयारी में एचएमएस

कोयला श्रमिक सभा-एचएमएस के अध्यक्ष शिव कुमार यादव ने सूचनाजी.कॉम को बताया कि वेकोलि में मेडिकल अनफिट पश्चात आश्रित रोजगार गृहीताओं को कारण बताओ नोटिस पर पांचों संगठन एकमत हो गए हैं। एचएमएस कार्यालय में संयुक्त रूप से बीएमएस, एटक, सीटू और इंटक के पदाधिकारियो की बैठक हुई थी। इसके बाद पांचों संगठन ने वेकोलि के सीएमडी मनोज कुमार और निदेशक (कार्मिक) से वार्ता की।

सीएमडी से पूरे मामले की सच्चाई जानने और अविलंब आदेश को वापस लेने की मांग की गई है। आश्रितों को कोल इंडिया के नियम और प्रावधानों के तहत ही नौकरी दी गई है, जबकि मेडिकल बोर्ड गलत बताया जा रहा है। नौकरी और प्रक्रिया को गलत बताकर प्रताड़ित करने का दांव खेला जा रहा है, जबकि नियम के तहत बोर्ड हुआ और आश्रितों के रोजगार दिया गया है।

मोदी सरकार की उद्योग नीतियों पर भड़का बीएमएस, निजीकरण और विनिवेश के खिलाफ लाखों कर्मी घेरेंगे संसद

इसलिए आश्रितों के साथ किसी तरह का अन्याय नहीं होने दिया जाएगा। पांचों यूनियनों ने एक साथ आंदोलन करने का मन बना लिया है। किसी की नौकरी जाने नहीं दी जाएगी। सीएमडी ने 21 तक का समय मांगा है। इसके बाद मिलकर बात करेंगे। फिर आगे की रणनीति तय की जाएगी। बैठक में कोयला श्रमिक सभा (एचएमएस) से शिव कुमार यादव, आरएन शर्मा, बीएमएस से सुनील मिश्रा, जयंत आसोले, आशीष मूर्ति, इंटक से एसक्यू. जमा, केके सिंह, एटक से मसके जी और सीटू से एचएस बेग शामिल हुए।

Pension Fund: कोल इंडिया के तर्ज पर सेल भी जोड़े प्रति टन 10 रुपए स्टील का भाव, कर्मचारियों-अधिकारियों को मिलेगा फायदाhttps://suchnaji.com/to-increase-pension-fund-on-the-lines-of-coal-india-the-price-of-steel-will-also-be-added-by-rs-10-per-ton-employees-and-officers-will-get-benefit/

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!