चेयरमैन के सामने नेताजी ने निकाली भड़ास, कहा-एग्रीमेंट पर साइन करके गुनाह किया, गाली हम खा रहे, ईडी बोले-जून में होगी फुल एनजेसीएस बैठक

राजेंद्र सिंह बोले-वेज एग्रीमेंट पर साइन करके हम लोगों ने गुनाह कर दिया है क्या। साइन हम लोगों ने किया और फायदा अधिकारी वर्ग उठा रहा।

सूचनाजी न्यूज, भिलाई। ठेका मजदूरों के न्यूनतम वेतन पर भी कोई बात नहीं बन सकी है। नियमित कर्मचारियों के एरियर का मुद्दा भी लंबित है। वेतन समझौते पर एग्रीमेंट करने वाले एचएमएस नेता राजेंद्र सिंह पर कर्मचारी अपना गुस्सा उतार रहे हैं। इससे तिलमिलाए राजेंद्र सिंह एनजेसीएस सब-कमेटी मीटिंग के बाद सेल चेयरमैन सोमा के दफ्तर पहुंच गए।

एचएमएस के केंद्रीय नेता राजेंद्र सिंह ने कर्मचारी वर्ग के मौजूदा हालात से वाकिफ कराया। कहा-वेज एग्रीमेंट पर साइन करके हम लोगों ने गुनाह कर दिया है क्या। साइन हम लोगों ने किया और फायदा अधिकारी वर्ग उठा रहा। एग्जीक्यूटिव के सारे मसले हल होते जा रहे हैं। वहीं, कर्मचारियों के उलझते जा रहे। 39 माह का एरियर, नाइट शिफट एलाउंस, ट्रांसफर, निलंबन, पे-स्केल सब मामले उलझे हुए हैं। लोग हमको गाली दे रहे हैं।

ये खबर भी पढ़ें: बोकारो स्टील प्लांट ने अपनाया सीएनजी और पीएनजी, डायरेक्टर इंचार्ज के घर में पीएनजी का लगा पहला कनेक्शन

उन्होंने प्रबंधन से कहा कि इस आक्रोश को नजर अंदाज करने की भूल न की जाए। प्लांट स्तर पर विवाद होगा। फिर प्रबंधन बोलेगा कि प्लांट विरोधी हरकत की गई। इससे बचना है तो तत्काल मामले को हल कीजिए। चेयरमैन सोमा मंडल ने पहले सारी बातों को सुना, फिर एक-एक का जवाब दिया।

ये खबर भी पढ़ें: राउरकेला स्टील प्लांट के ब्लास्ट फर्नेस-5 ने जड़ा एक और ताज, 21 मिलियन टन हॉट मेटल का बनाया कीर्तिमान

राजेंद्र सिंह ने सूचनाजी.कॉम का बताया कि बैठक में मौजूद ईडी पीएंडए केके सिंह से चेयरमैन सोमा मंडल ने पूछा-आखिर देरी क्यों की जा रही है। ईडी की तरफ से जवाब दिया गया कि फुल एनजेसीएस की बैठक बुलानी पड़ेगी, तभी हल हो पाएगा। चेयरमैन ने जल्द बैठक बुलाने की बात कही। ईडी ने आश्वासन दिया कि पूरी उम्मीद है कि जून में बैठक बुलाकर मामले को हल कर लें

इधर-एटक नेताओं ने निलंबन व ट्रांसफर की मार झेल रहे कर्मियों की वापसी का उठाया मुद्दा

एनजेसीएस सब-कमेटी बैठक समाप्त होने के बाद एटक के राष्ट्रीय सचिव विद्यासागर गिरी और रामाश्रय प्रसाद सिंह ने सेल चेयरमैन सोमा मंडल से मुलाकात की। सेल की एतिहासिक उपलब्धियों पर सेल परिवार को बधाई दी। विभिन्न मुद्दों पर सेल चेयरमैन और एक्जीक्यूटिव डायरेक्टर केके सिंह के साथ चर्चा की।

ये खबर भी पढ़ें: वाह! चीन की चाल को सेल-बीएसपी ने किया चित, थाईलैंड, नेपाल, यूएई तक भेजा एक लाख टन से ज्यादा स्टील

एटक नेताओं ने सेल चेयरमैन से आग्रह किया कि जून हड़ताल में निलंबित किए गए बोकारो के चार श्रमिकों और स्थानांतरित किए गए लोगों को तत्काल उनके जगहों पर काम पर लिया जाए। इसके साथ ही सेल चेयरमैन के समक्ष एटक नेताओं ने प्रस्ताव रखा कि वेज रिवीजन के 39 माह के एरियर को एकमुश्त भुगतान किया जाए और पिछले एग्रीमेंट के लंबित एचआरए के मुद्दों सहित अन्य मुद्दों पर एनजेसीएस की लगातार बैठक बुलाकर फाइनल समझौता करने के लिए चेयरमैन निर्देश दें।

ये खबर भी पढ़ें: कैम्पस प्लेसमेंट ड्राइव में बोकारो (प्रा.) आईटीआई के 158 बच्चों को दिया गया ऑफर लेटर

सेल चेयरमैन के समक्ष ठेका मजदूरों का मुद्दा उठाया गया। खासकर बोकारो स्टील प्लांट के इंगोट मोल्ड फाउंड्री के अनुभवी ठेका मजदूरों को काम पर लेने, आरएमडी के चिड़िया माइंस, किरीबुरू मेघाताबुरु माइंस के साथ बेतिया एसपीयू के श्रमिकों को बोनस एवं एरियर का भुगतान आदि पर चर्चा की गई।

यूनियन का कहना है कि बैठक में बोकारो स्टील प्लांट में रिक्त अधिशासी निदेशक के पदों पर नियुक्ति सहित पर्सनल डिपार्टमेंट को बेहतर औद्योगिक संबंध बनाने में सक्रिय भूमिका अदा करने के संदर्भ में भी बातें रखी गई। सेल चेयरमैन और केके सिंह के साथ हुई चर्चा सकारात्मक रही।

ये खबर भी पढ़ें:टाउनशिप के कर्मचारियों को चाहिए सर्विसेस की तरह 80% इंसेंटिव और नॉन फाइनेंसियल मोटिवेशन स्कीम का गिफ्ट

यूनियन पदाधिकारियों का कहना है कि आने वाले दिनों में इस्पात उद्योग में ट्रेड यूनियनों की एकताबद्ध पहल कदमी की भूमिका के संदर्भ में कार्रवाई तय करने का कार्य करेगा। सेल चेयरमैन के समक्ष आरआईएनएल के कर्मचारियों की मांग भी उठाई गई। कहा गया है कि वहां के कर्मचारी चाहते हैं कि आरआइएनएल का सेल में विलय हो। एटक इस्पात मजदूरों के लंबित मुद्दों, इस्पात उद्योग और आरएमडी के मुद्दों पर आने वाले दिनों में सक्रिय पहल कदमी की शुरुआत सेल चेयरमैन से वार्ता के साथ की है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!