सेल के खिलाफ कोर्ट केस का असर, LTC-LLTC की रिकवरी अब आधी से भी कम…

0
sail ltc lltc
राउरकेला इस्पात कारखाना कर्मचारी संघ-RIKKS का दावा है कि इस माह के पे-स्लिप में LTC/LLTC का जो रिकवरी हो रहा था। वह अब आधा से भी कम हो गया है।
AD DESCRIPTION

राउरकेला इस्पात कारखाना कर्मचारी संघ अध्यक्ष हिमांशु शेखर बल का कहना है कि दायर किए गए केस के चलते ऐसा संभव हो सका है।

सूचनाजी न्यूज, राउरकेला। स्टील अथॉरिटी ऑफ इंडिया लिमिटेड-सेल के कर्मचारियों के लिए अच्छी खबर है। एलटीसी-एलएलटीसी (LTC/LLTC) को लेकर मिल रहे तनाव से अब काफी हद तक राहत मिल गई है। कटौती कम हो गई है। राउरकेला इस्पात कारखाना कर्मचारी संघ-RIKKS का दावा है कि इस माह के पे-स्लिप में LTC/LLTC का जो रिकवरी हो रहा था। वह अब आधा से भी कम हो गया है।

ये खबर भी पढ़ें…Berlin Special Olympics-2023: भारतीय टीम के 250 खिलाड़ियों और 14 खेलों का पूरा खर्च उठाएगा सेल-बोकारो स्टील प्लांट

AD DESCRIPTION AD DESCRIPTION

राउरकेला इस्पात कारखाना कर्मचारी संघ अध्यक्ष हिमांशु शेखर बल का कहना है कि दायर किए गए केस के चलते ऐसा संभव हो सका है। 3000 से लेकर 12000 तक कि जो बचत हुआ, उसका श्रेय RIKKS को जाता है। 2017 में RSP में लेबर वेलफेयर फंड के नाम पर जो 20 रुपया महीना काटा जाता था। वह भी केस के चलते ही बंद हो गया।

ये खबर भी पढ़ें…बीएसपी पावर एंड ब्लोइंग स्टेशन के सीनियर डिप्लोमा इंजीनियर्स के विदाई समारोह में अधिकारी-कर्मचारी भावुक, बुना रिश्तों का ताना-बाना

उन्होंने कहा कि जो केस चल रहा है, उसमें भी विजय मज़दूरों की होगी। जो मज़दूर केस को लेकर आलोचना करते हैं, उनको सोचना चाहिए कि केस उन्हीं के फायदे के लिए किया गया है। कम से कम जो लड़ रहा है, उसका हौसला बढ़ाओ। अगर वह भी नहीं होता है तो चुप चाप बैठ जाओ, क्यों कि आप के हिस्से की लड़ाई कोई और लड़ रहा है।

ये खबर भी पढ़ें…क्या आप जानते हैं बाघों के गर्भ से पोस्टमार्टम तक की ये बातें, व्हाइट टाइगर से जुड़े हर सवालों का जवाब पढ़ें टाइगर मैन डाक्टर जीके दुबे की ज़ुबानी

हिमांशु बल का कहना है कि कर्मचारियों के हक की लड़ाई को जारी रखा जाएगा। हर मुद्दों पर एकजुटता बहुत जरूरी है। वर्तमान में बोनस को लेकर जो माहौल बना हुआ है, उसमें कर्मचारियों की एकता ही पूरी ताकत है। अपने हक की आवाज को उठाने के लिए यूनियन के बंधन को तोड़ दीजिए और सब एकजुट होकर मोर्चा संभालिए।

ये खबर भी पढ़ें….JSPL News: जिंदल स्टील एंड पॉवर रायगढ़ की 9 टीमों ने क्वालिटी सर्कल में जीते गोल्ड, अब इंडोनेशिया में कमाल करने की बारी

AD DESCRIPTION AD DESCRIPTION

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here