वेदव्यास संगीत नृत्योत्सव में कथक, सम्बलपुरी और बिहारी लोक नृत्य ने सबको झुमाया

0
Ved Vyas Sangeet Dance Festival 1
भंज कला केंद्र के द्वारा भंज भवन मुक्ताकाश मंच में आयोजित वेदव्यास संगीत नृत्योत्सव की दूसरी शाम को मनमोहक शास्त्रीय और लोक नृत्यों ने दर्शकों को मंत्रमुग्ध कर दिया
AD DESCRIPTION

-भंज कला केंद्र के कलाकारों द्वारा गुरु डॉ. अनिल कुमार दत्त के निर्देशन में गिटार वादन।
-पुणे की अंतरराष्ट्रीय ख्याति प्राप्त कथक नृत्यांगना प्रेरणा देशपांडे न् शास्त्रीय नृत्य प्रस्तुत किया।
-पश्चिमी ओडिशा का लोकप्रिय डालखाई लोक नृत्य खूब पसंद किया गया।

सूचनाजी न्यूज, भिलाई। वेदव्यास संगीत नृत्योत्सव की दूसरी शाम भी यादगार रही। कथक शास्त्रीय नृत्य, सम्बलपूरी और बिहार लोक नृत्य ने मंत्रमुग्ध किया। भंज कला केंद्र के द्वारा भंज भवन मुक्ताकाश मंच में आयोजित वेदव्यास संगीत नृत्योत्सव की दूसरी शाम को मनमोहक शास्त्रीय और लोक नृत्यों ने दर्शकों को मंत्रमुग्ध कर दिया।

ये खबर भी पढ़े … 11 राज्यों की 141 कोयला खदानों की अब तक की सबसे बड़ी नीलामी

AD DESCRIPTION AD DESCRIPTION

सुंदरगढ़ के सांसद औ जुएल ओराम मुख्य अतिथि के रूप में उपस्थित थे। भारतीय स्टेट बैंक के रीजीओनाल-मेनेजर, अजय कुमार नाइक इस कार्यक्रम में सम्मानित अतिथि थे। गौरतलब है कि 5 दिनों तक चलने वाले इस राष्ट्रीय स्तर के शास्त्रीय संगीत, शास्त्रीय नृत्य, लोक नृत्य और आदिवासी नृत्य महोत्सव में देश के विभिन्न हिस्सों से लोकप्रिय कलाकार अपनी बेहतरीन प्रस्तुति दे रहे हैं।

ये खबर भी पढ़े … बीएसपी आफिसर्स एसोसिएशन ने ईडी संग जूनियर अधिकारियों को दी विदाई, सबने अपनी-अपनी कहानी सुनाई

ओराम ने अपने भाषण में इस तरह के भव्य सांस्कृतिक उत्सव के आयोजन के लिए भंज कला केंद्र की सराहना की। उन्होंने वादा किया कि सरकार कला, साहित्य और संस्कृति के विकास के लिए सभी आवश्यक प्रोत्साहन देना जारी रखेगी। श्री नायक ने इस महोत्सव की रजत जयंती पर बधाई दी और कहा कि भारतीय स्टेट बैंक हमेशा लोगों को उत्कृष्ट सेवाएं प्रदान करने के साथ-साथ उनकी भावनाओं में खुद को शामिल करने के लिए प्रतिबद्ध है।

ये खबर भी पढ़े … दुर्ग, भिलाई, रिसाली व चरोदा में मवेशियों से छुटकारा पाने कलेक्टर ने बनाया रोस्टर, कॉलोनी-मार्केट में बनेगा एसोसिएशन 

गिटार, कथक और शास्त्री संगीत ने किया माहित

प्रारंभ में भंज कला केंद्र के कलाकारों द्वारा गुरु डॉ. अनिल कुमार दत्त के निर्देशन में गिटार वादन ने वातावरण को जीवंत कर दिया। बाद में, पुणे की अंतरराष्ट्रीय ख्याति प्राप्त कथक नृत्यांगना प्रेरणा देशपांडे, जिन्होंने दुनिया के विभिन्न देशों मे नृत्य प्रदर्शन कर के अनेक सम्मान प्राप्त की है अपनी संस्था के कलाकारों के साथ शास्त्रीय नृत्य प्रस्तुत किया। मधुर शास्त्रीय नृत्य से दर्शक मंत्रमुग्ध हो गए। उन्होंने गणेश वंदना की एक प्रस्तुति दी और बाद में तीन तालों और मधुर शास्त्रीय संगीत पर आधारित तराना की प्रदर्शन की। तबले पर प्रख्यात तबला वादक ईशान परांजपे ने उनकी सहायता की।

ये खबर भी पढ़े … विधायक देवेंद्र ने छावनी में की सौगातों की बौछार, क्रिकेट पिच, सड़क, नाला और बनेगा द्वार

Amazon(Amazon Brand – House & Shields Men Sweatshirt)

ये खबर भी पढ़े … सेल बोर्ड के सदस्यों ने राउरकेला स्टील प्लांट में डाला डेरा, जानिए क्या है माजरा, देखें फोटो

पश्चिमी ओडिशा का लोकप्रिय डालखाई लोक नृत्य

बाद में, पश्चिमी ओडिशा का लोकप्रिय डालखाई लोक नृत्य, नृत्य गुरु आलोक पांडा और साथी कलाकारों द्वारा किया गया, जिसमें उन्होंने प्रकृति की पूजा, भाइयों के लिए बहनों की व्रत और पूजा एवं पश्चिमी ओडिशा के लोकगीत के साथ लोकनृत्य प्रस्तुत किया।

ये खबर भी पढ़े … भारत का पहला पानी में तैरता वित्तीय साक्षरता शिविर, डल झील में निवेशक दीदी कर रही मदद

बिहार लोक गाथा, झिझिया और जिनजतिन लोकनृत्य का प्रदर्शन

अंत में बिहार संगीतम नृत्य संस्थान बिहार पटना द्वारा मधुर लोक गीतों की धुन पर बिहार लोक गाथा, झिझिया और जिनजतिन लोकनृत्य का प्रदर्शन किया गया।

ये खबर भी पढ़े …बीएसएल जनरल हॉस्पिटल के चीफ मेडिकल ऑफिसर बिभूति की पत्नी और दोनों बेटे भी हैं डाक्टर, कार्यभार संभालते ही सक्रिय

डॉ. रामहरी दास को ‘व्यासधिब्यास’ अवॉर्ड

इस अवसर पर ओडिशा के महान ओडिशा गायक, गुरू डॉ. रामहरी दास को संगीत में उनके समर्पित योगदान के लिए आजीवन साधना सम्मान ‘व्यासधिब्यास’ से सम्मानित किया गया। इस अवसर पर कलाकारों को भी सम्मानित किया गया। भंज कला केंद्र के अध्यक्ष शुभ शंकर रायचौधुरी ने स्वागत भाषण दिया।

ये खबर भी पढ़े …बाप रे…! दुर्ग जिला अस्पताल के 38 डाक्टर और 70 नर्स गैर हाजिर, संभागायुक्त के छापेमारी से खुला राज

अध्यक्षता संस्थान के महासचिव राधाकृष्ण महापात्रा ने की, जबकि उपाध्यक्ष अलॉय बेहरा ने धन्यवाद प्रस्ताव दिया। सांस्कृतिक कार्यक्रम का संचालन शशांक पटनायक एवं कोएना दस्तीदार ने किया। असीम बेहरा, आलोक बेहरा, विवेकानंद परिदा, ज्योतिरमैया आचार्य, पंचानन मल्लिक, सुब्रत सतपथी, संतोस रथ, गजेंद्र मुर्मू, रसानंद महंत, डेज़ी सरंगी प्रमुख कार्यक्रम का संचालन किया।

ये खबर भी पढ़े …सेल-आरएसपी ने अप्रैल-अक्टूबर के बीच उत्पादन में रचे कीर्तिमान, डायरेक्टर इंचार्ज ने बढ़ाया मान

AD DESCRIPTION AD DESCRIPTION

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here