भिलाई टाउनशिप में कब्जे की राजनीति अब पड़ेगी भारी, कानूनी कार्रवाई में नाम होगा सार्वजनिक अबकी बारी

सूचनाजी न्यूज, भिलाई। भिलाई टाउनशिप में कब्जेदारों के खिलाफ चल रही कार्रवाई को अब और मजबूती मिलने जा रही है। कब्जे की राजनीति करने और संरक्षण देने वालों को कानूनी कार्रवाई के जद में लाने की तैयारी है ताकि सार्वजनिक रूप से इनका नाम कोर्ट के पेपर में शामिल हो जाए। इस तरह सियासी कॅरियर पर बड़ी चोट पहुंचाने का दांव बीएसपी के अधिकारी और कर्मचारी खेलने जा रहे हैं।

ये खबर भी पढ़ें: Social Media Comments: तो क्या कंपनी को सेल प्रबंधन समझता है बाप की जागीर…

भिलाई स्टील प्लांट के आफिसर्स एसोसिएशन ने घोषणा कर दी है कि टाउनशिप में कब्जेदारों को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। बीएसपी आवासों में जबरन रहने वालों के खिलाफ बेदखली की कार्रवाई युद्धस्तर पर चल रही है, जिसे और तेज किया जाएगा। ओए ने यह भी तय कर लिया है कि कब्जेदारों के खिलाफ कोर्ट भी जाएंगे। इसका मकसद यह है कि कब्जे को संरक्षण देने वालों का नाम कोर्ट तक पहुंचाया जाए ताकि सार्वजनिक रूप से भिलाईवासियों के सामने ऐसे लोगों का चेहरा बेनकाब हो सके। वहीं, सियासी कॅरियर पर भी चोट पहुंचाई जा सकेगी।

ये खबर भी पढ़ें: सेल में ई-1 से ई-7 ग्रेड के अधिकारियों को मिलेगा बंपर प्रमोशन, 30 को आएगा रिजल्ट, 2010 ई-0 बैच पर सबकी नजर

इधर-भिलाई स्टील प्लांट के संयुक्त यूनियन के एक सदस्य ने सूचनाजी.कॉम को बताया कि इस बार कब्जेदारों को टाउनशिप से उखाड़ फेंकने की जंग में अधिकारी और कर्मचारी एक साथ हो चुके हैं। रणनीति तय की जा चुकी है। नगर सेवाएं विभाग के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ बैठकें हो चुकी है। आफिसर्स एसोसिएशन जैसे ही कानूनी कार्रवाई शुरू करेगा। पीछे से कर्मचारियों की तरफ से भी याचिका दायर की जाएगी। इसमें तस्वीर और नाम के साथ कब्जे की राजनीति करने वालों का जिक्र किया जाएगा। इससे संरक्षण देने वालों को भिलाई स्टील प्लांट के कर्मचारी अपने वोट बैंक के माध्यम से समय पर हिसाब बराबर कर लेंगे।

ये खबर भी पढ़ें: कोल इंडिया नौ और वाशरीज करेगा चालू, स्टील सेक्टर को 15 मीट्रिक टन वॉश किए हुए कोकिंग कोल की होगी सप्लाई, सेल को फायदा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!