सेल कार्मिकों की आवाजाही की कुंडली अगले महीने से रखेगा प्रबंधन, ट्रायल शुरू, कार-बाइक के लिए क्यूआर कोड का आदेश जारी, व्हीकल गेट पास ऐसे बनाएं ऑनलाइन…

कार्मिकों को बीएसपी होमपेज के ई-सहयोग में इस उद्देश्य के लिए बनाए गए मॉड्यूल में वाहन-वाहनों के विवरण की घोषणा करके आधिकारिक कर्तव्य करने के लिए उपयोग किए जाने वाले वाहन वाहनों के लिए अपने क्यूआर कोड आधारित वाहन पास का प्रिंट निकालना होगा।

सूचनाजी न्यूज, भिलाई। भिलाई स्टील प्लांट के एक-एक कर्मचारियों और अधिकारियों की प्लांट में आवाजाही की कुंडली को जुटाने का काम शुरू हो गया है। अगले महीने से इसे अनिवार्य रूप से लागू कर दिया जाएगा। फिलहाल, वाहनों के गेट पास को ऑनलाइन भरवाया जा रहा है, जो पहले मैनुअल होता था। कार्मिकों के सभी वाहनों के प्रवेश की अनुमति केवल वैध क्यूआर कोड आधारित वाहन क्षेत्र पास पर ही दी जाएगी। इसका आदेश एक जुलाई को जारी कर दिया गया है। इसका अगला चरण Radio-frequency identification (आरएफआईडी) है। इसके जरिए कार्मिकों की पूरी कुंडली को प्रबंधन एक क्लिक पर देख सकेगा। सीआइएसएफ ने इसका ट्रॉयल शुरू कर दिया है। बताया जा रहा है कि अगले महीने से इसे अनिवार्य कर दिया जाएगा।

ये खबर भी पढ़ें: JBCCI की बैठक बेनतीजा रहने पर भड़के सीटू, एचएमएस, बीएमएस और एटक, कोयला मंत्री प्रह्लाद जोशी से मांगा मुलाकात का समय

वाहन गेट पास के लिए यहां से लें क्यूआर कोड…

-कार्मिकों को बीएसपी होमपेज के ई-सहयोग में इस उद्देश्य के लिए बनाए गए मॉड्यूल में वाहन-वाहनों के विवरण की घोषणा करके आधिकारिक कर्तव्य करने के लिए उपयोग किए जाने वाले वाहन वाहनों के लिए अपने क्यूआर कोड आधारित वाहन पास का प्रिंट निकालना होगा।
-क्यूआर कोड आधारित वाहन क्षेत्र पास को कर्मचारी द्वारा कार की विंडस्क्रीन और दोपहिया वाहनों पर इस तरह चिपकाना होगा कि यह कार्य क्षेत्र/संयंत्र परिसर में प्रवेश करते समय सीआईएसएफ को स्पष्ट रूप से दिखाई दे। दोपहिया उपयोगकर्ताओं द्वारा गेट पर दिखाने के लिए क्यूआर कोड आधारित वाहन क्षेत्र पास की एक अतिरिक्त प्रति भी रखी जा सकती है।
-वाहन/वाहनों के घोषित विवरण की प्रामाणिकता की जिम्मेदारी कर्मचारी की होगी।
-नए वाहन के अधिग्रहण, या वाहन की बिक्री या वाहन के नुकसान/चोरी या कोई भी अन्य गतिविधि जिसके कारण कर्मचारी के पास किसी भी घोषित वाहन का स्वामित्व समाप्त हो जाता है, जैसा भी मामला हो, कर्मचारी द्वारा आवश्यक घोषणा ई-सहयोग में मॉड्यूल में दिया जाना होगाञ और एक नया क्यूआर कोड आधारित वाहन क्षेत्र पास कर्मचारी द्वारा मुद्रित किया जाना होगा और मॉड्यूल में घोषित सभी वाहनों पर चिपकाया जाना होगा।
-क्यूआर कोड आधारित वाहन क्षेत्र पास को सीआईएसएफ द्वारा किसी भी समय गेट और प्लांट परिसर के अंदर चेक किया जा सकता है।

ये खबर भी पढ़ें: पुरई गांव के तालाब में तैरने वाले बच्चे भी उतरे स्विमिंग पूल में, पानी में मिटी अमीरी-गरीबी, नेशनल चैंपियनशिप के लिए 200 बच्चे दिखा रहे प्रतिभा

जानिए वाहनों के क्यूआर कोड के मकसद और क्षेत्र

क्यूआर कोड का उद्देश्य: कार्य क्षेत्र-संयंत्र परिसर में अनधिकृत वाहनों के प्रवेश को प्रतिबंधित करने के लिए।
क्यूआर कोड का दायरा: भिलाई इस्पात संयंत्र के सभी कर्मचारी (खदानों में कार्यरत कर्मचारियों सहित) जो अपने नियमित बीएसपी गेट पास के साथ कार्य क्षेत्र-संयंत्र परिसर में प्रवेश करने के पात्र हैं।

ये खबर भी पढ़ें: CITU Election Campaign: भिलाई स्टील प्लांट में होती थी सीपीएफ लोन और आवास आवंटन में दलाली, जानिए कर्मियों ने क्या खोले राज…

बीएसपी कार्मिकों का अगस्त से सामना होगा आरएफआईडी से

Radio-frequency identification (आरएफआईडी) के लिए एक ऐसी तकनीक को संदर्भित करता है, जहां आरएफआईडी टैग या स्मार्ट लेबल में एन्कोड किए गए डिजिटल डेटा को रेडियो तरंगों के माध्यम पढ़ा जाता है। आरएफआईडी बारकोड के समान है, क्योंकि किसी टैग या लेबल से डेटा किसी डिवाइस द्वारा पढ़ा जाता है, जो डेटा को एक में संग्रहीत करता है डेटाबेस को स्टोर करता है। आरएफआईडी उन प्रौद्योगिकियों के समूह से संबंधित है जिन्हें स्वचालित पहचान और डेटा कैप्चर (एआईडीसी) कहा जाता है। एआईडीसी विधियां स्वचालित रूप से ऑब्जेक्ट्स की पहचान करती हैं, उनके बारे में डेटा एकत्र करती हैं और सीधे मानव हस्तक्षेप के बिना कंप्यूटर सिस्टम में डेटा पहुंचाती है।

ये खबर भी पढ़ें: मिशन 3000 एमटी के लिए पश्चिम मध्य रेलवे ने अगले 5 सालों का बनाया मास्टर प्लान

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!