मोदी सरकार की आठ साल की उपलब्धियां दुर्ग में गिनाएंगे इस्पात राज्यमंत्री फग्गन सिंह कुलस्ते, बीडब्ल्यूयू-बीएमएस तकरार के चलते भिलाई से किनारा

सूचनाजी न्यूज, भिलाई। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आठ साल के कार्यकाल पर देशभर में कार्यक्रम हो रहे हैं। केंद्रीय मंत्रियों ने कमान संभाल रखी है। इस्पात राज्यमंत्री फग्गन सिंह कुलस्ते सोमवार को दुर्ग जिले में कदम रखेंगे। लेकिन भिलाई से दूरी रहेगी। बीएसपी वर्कर्स यूनियन और बीएमएस के बीच खींचतान की वजह से मंत्री ने भिलाई में ठहरने के बजाय सर्किट हाउस में रात गुजारने का फैसला किया है। बीएसपी के अधिकारी भी हैरान हैं कि इस्पात राज्य मंत्री जिले में आ रहे हैं, लेकिन बीएसपी से भी दूरी बना रखी है।

ये खबर भी पढ़ें:   आरआईएनएल, सेल, नगरनार, एनएमडीसी, मेकॉन का रणनीतिक विलय कर बनाएं एक मेगा स्टील पीएसयू

इस्पात राज्यमंत्री फग्गन सिंह कुलस्ते बतौर मुख्य अतिथि गरीब कल्याण जनसभा में शामिल होंगे। शहर में गरीब कल्याण संभागीय जनसभा दोपहर एक बजे पुरानी गंज मंडी में होगी। विशिष्ट अतिथि के रूप में राज्यसभा सदस्य व भाजपा की राष्ट्रीय कार्यसमिति सदस्य डा.सरोज पांडेय, सांसद विजय बघेल, सांसद राजनांदगांव संतोष पांडेय, सांसद कांकेर मोहन मंडावी भी शामिल होंगे। दुर्ग भाजपा जिलाध्यक्ष जितेंद्र वर्मा के मुताबिक कार्यक्रम में पूर्व मंत्री प्रेमप्रकाश पांडेय, प्रदेश मंत्री उषा टावरी, विधायक विद्यारतन भसीन,पूर्व मंत्री रमशीला साहू, पूर्व मंत्री दयालदास बघेल, प्रदेश भाजपा उपाध्यक्ष मोतीलाल साहू, जिला भाजपा प्रभारी पुरंदर मिश्रा भी शामिल होंगे।

ये खबर भी पढ़ें:   एक बार फिर केके सिंह जा रहे दिल्ली, डायरेक्टर पर्सनल बनते वापसी पर विराम, सेल चेयरमैन की कुर्सी पर हो सकते हैं विराजमान

खास यह कि जनसभा में मोदी सरकार की योजनाओं से लाभांवित होने वाले लाभार्थियों की मौजूदगी रहेगी। इसमें दुर्ग संभाग संगठन जिला दुर्ग, भिलाई, राजनांदगांव, बेमेतरा, बालोद, कवर्धा के कार्यकर्ता शामिल होंगे। कार्यक्रम की सफलता के लिए अलग-अलग स्तर पर प्रभारियों की नियुक्ति की गई है। इस कार्यक्रम के लिए भारतीय जनता पार्टी के समस्त मोर्चा प्रकोष्ठ के प्रदेश स्तरीय पदाधिकारी, जिले की टीम, जिला भाजपा कार्यकारिणी के अलावा मंडल अध्यक्षों के नेतृत्व में मंडल इकाई भी सक्रियता से जुटी है।

ये खबर भी पढ़ें:    SAIL Education News: बोकारो स्टील प्लांट में नवंबर तक इंजीनियरिंग, मैनेजमेंट, मेडिकल में कोई भी ले प्रशिक्षण, आवेदन, प्रशिक्षण प्रक्रिया और सर्टिफिकेट डिजिटलाइज्ड

बता दें कि बीएसपी वर्कर्स यूनियन की ओर से बीएसपी के करीब 500 कर्मचारियों को कोरोनो योद्धा के नाम पर सम्मानित करने का प्लान था। 13 जून को इस कार्यक्रम में इस्पात राज्यमंत्री शामिल होते, लेकिन बीएमएस की आपत्ति के बाद मंत्री ने कार्यक्रम से किनारा कर लिया है। इसके बाद सम्मान समारोह भी कैंसिल कर दिया गया।

ये खबर भी पढ़ें:    दुर्गापुर स्टील प्लांट में फिर आफत आई, एनडीआरएफ-सीआइएसएफ ने रस्सी के सहारे जान बचाई, देखिए तस्वीरें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!