दुर्गापुर स्टील प्लांट ने सरकारी अस्पताल की ओपीडी में मरीजों के बैठने का किया बेहतर इंतजाम

सूचनाजी न्यूज, दुर्गापुर। दुर्गापुर स्टील प्लांट ने राज्य सरकार के सब-डिविजन हॉस्पिटल में मरीजों और उनके परिजनों के बैठने की अब बेहतर व्यवस्था कर कर दी गई है। प्रतीक्षालय बनाया गया है, जहां मरीजों के बैठने का इंतजाम है। इसका उद्घाटन डायरेक्टर इंचार्ज बीपी सिंह ने किया है।

दुर्गापुर स्टील प्लांट ने सीएसआर गतिविधि के तहत अस्पताल में ओपीडी रोगियों को उचित और आरामदायक बैठने की व्यवस्था प्रदान करने के लिए प्रतीक्षा नामक एक नई बैठने की व्यवस्था की है। नवनिर्मित प्रतीक्षा का उद्घाटन प्रभारी निदेशक (बर्नपुर एवं दुर्गापुर इस्पात संयंत्र) द्वारा शनिवार को किया गया। डीएसपी एवं एएसपी के वरिष्ठ अधिकारियों अस्पताल कर्मचारियों की उपस्थिति में उद्घाटन किया गया।

ये खबर भी पढ़ें: भिलाई स्टील प्लांट के डीजीएम के बेटे रोहित ने बढ़ाया छत्तीसगढ़ का मान, अंतरराष्ट्रीय स्तर पर बढ़ाएगा भारत की शान

सेल-डीएसपी द्वारा निर्मित नई बैठने की व्यवस्था दुर्गापुर स्टील प्लांट की कॉर्पोरेट छवि को बढ़ाने में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाने के लिए तैयार है, जिसका उद्देश्य समाज के समग्र विकास में योगदान देने के व्यापक लक्ष्य को पूरा करना है।

ये खबर भी पढ़ें: कम्युनिकेशन गैप खत्म करने सभी यूनियन नेताओं के साथ हर महीने बैठेंगे जीएम, सीजीएम, ईडी और डायरेक्टर इंचार्ज

ज्ञात हो कि एक जिम्मेदार कॉरपोरेट के रूप में दुर्गापुर स्टील प्लांट ने बड़े पैमाने पर समाज की बेहतरी में योगदान देने के लिए सीएसआर योजनाओं के तहत विभिन्न परियोजनाओं को शुरू किया है और कार्यान्वित किया है।

ये खबर भी पढ़ें: Exclusive News: मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ के बंटवारे में एटक का रजिस्ट्रेशन पेपर गायब, अब खुला राज

सेल द्वारा कार्यान्वित विभिन्न सीएसआर परियोजनाओं में निवेदिता केंद्र में स्वामी विवेकानंद वाणी प्रचार समिति के माध्यम से हर साल लगभग 26000 से अधिक लाभार्थियों को मुफ्त चिकित्सा उपचार प्रदान किया जाता है। नियमित रूप से मुफ्त स्वास्थ्य जांच का आयोजन भी किया जाता है। डीएसपी के मॉडल स्टील गांवों और डीएसपी के आसपास के परिधीय क्षेत्रों में शिविर, समय-समय पर डीएसपी महिला समाज द्वारा मुफ्त मातृ एवं शिशु देखभाल शिविर, डीएसपी महिला समाज के माध्यम से आवश्यकता के अनुसार मुफ्त दवाओं या चश्मे का वितरण भी किया जाता है।

ये खबर भी पढ़ें: सेल के इस स्टील प्लांट में प्रबंधन ने खोली गाड़ी रिपेयर और पंक्चर की दुकान

इसके अलावा मुफ्त नेत्र उपचार शिविर, मुफ्त चिकित्सा जांच और लायंस आई केयर सेंटर, दुर्गापुर और अन्य के माध्यम से हर साल लगभग 250 से अधिक लाभार्थियों को मोतियाबिंद ऑपरेशन कराया जाता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!