EPFO के फॉर्मूले पर बनेगी पेंशन, सोच-समझकर प्रस्तुत करें विकल्प

-सुप्रीम कोर्ट के 4 नवंबर के फैसले के बाद पेंशन को लेकर कवायद तेज।
-1 सितंबर 2014 के बाद रिटायर होने वाले या कार्यरत कर्मचारियों को उच्च पेंशन प्राप्त करने का मौका।
-संयुक्त विकल्प प्रस्तुत करने के लिए 4 महीने का समय यानी 3 मार्च 23 तक दिया गया है।
-ईपीएफ को समस्त तैयारियां करने और परिपत्र जारी करने 3 जनवरी 23 तक समय दिया गया है।
-रिटायर्ड कर्मचारियों को 16-11-1995 से अब तक की अंतर की राशि जमा करनी होगी।

सूचनाजी न्यूज, किरंदुल। एनएमडीसी रिटायर्ड इम्प्लॉयज वेलफेयर एसोसिएशन बचेली का वार्षिक अधिवेशन सम्पन्न हो गया है। इसमें पेंशन सहित तमाम विषयों पर चर्चा की गई। एनएमडीसी रिटायर्ड इम्प्लाइज वेलफेयर एसोसिएशन के महासचिव एलएम सिद्दीकी ने बताया कि सुप्रीम कोर्ट के 4 नवंबर के फैसले के बाद 1 सितंबर 2014 के बाद रिटायर होने वाले या कार्यरत कर्मचारियों को उच्च पेंशन प्राप्त करने के लिए “संयुक्त विकल्प” प्रस्तुत करने के लिए 4 महीने का समय यानी 3 मार्च 23 तक दिया गया है।

ये खबर भी पढ़ें: PF, ग्रेच्युटी और पेंशन पर क्या है TAX का नियम, पढ़ें जवाब

वहीं ईपीएफ को समस्त तैयारियां करने और परिपत्र जारी करने हेतु दो महीने यानी 3 जनवरी 23 तक समय दिया गया है। रिटायर्ड कर्मचारियों अथवा कर्मचारियों को 16-11-1995 से अब तक की अंतर की राशि जमा करनी होगी। उसके बाद ही ईपीएफओ (EPFO) द्वारा निर्धारित फॉर्मूले के आधार पर उनका पेंशन बनेगा। इसलिए फॉर्मूले के आधार पर बनने वाले पेंशन को दृष्टि में रख कर ही वे अपने द्वारा विकल्प प्रस्तुत करने अथवा नहीं करने का फैसला अपने स्वविवेक से करें।

ये खबर भी पढ़ें: WCL ने जीता कोल इंडिया अंतर कंपनी कबड्डी टूर्नामेंट 2022-23, SECL उप विजेता

रंगारंग कार्यक्रम और कवियित्री शगुन के मधुर गीतों और गजलों के बीच अधिवेशन हुआ। मुख्य अतिथि के रूप में अधिशासी निदेशक मजूमदार और विशेष अतिथि NMDC रिटायर्ड इम्प्लाइज वेलफेयर एसोसिएशन के महासचिव एलएम सिद्दीकी थे। अन्य विशिष्ट अतिथियों में धर्मेन्द्र आचार्य-डीजीएम पर्सनल, डीआर यादव-अध्यक्ष, किरंदुल एसोसिएशन, जफर अली-सचिव, किरंदुल एसोसिएशन, जोगेश्वर-अध्यक्ष, एसकेएमएस, पटनायक, छत्तीसगढ़ राज्य एसोसिएशन भी उपस्थित थे। संचालन अमृत यदु द्वारा किया गया।

ये खबर भी पढ़ें: क्या भत्ता, बोनस और बीमा आता है टैक्स के दायरे में, पढ़ें स्टोरी

Amazon(Puma Men Breakout IDP Sneakers)

एलएम सिद्दीकी ने रिटायर्ड कर्मचारियों से संबंधित मेडिकल और पेंशन पर प्रकाश डाला। एनएमडीसी द्वारा अपने रिटायर्ड कर्मचारियों को प्रदत्त मेडिकल सुविधा देश के किसी भी सेंटल पब्लिक सेक्टर की तुलना में सर्वाधिक बेहतर है। यहां तक कि चिकित्सा को इंश्योरेंस की परिधि में लाने के बाद भी, सुविधाएं कम नहीं हुई, बल्कि कई क्षेत्रों में बढ़ गई है।

ये खबर भी पढ़ें: Steel Authority Of India Limited (SAIL) Share Price फिर चढ़ा

उन्होंने कहा कि देश के विभिन्न हिस्सों में रहने वाले रिटायर्ड कर्मचारियों को अब इंश्योरेंस के तहत कैशलेस चिकित्सा सुविधा मिल रही है, जो पहले उपलब्ध नहीं थी। मास्टर हेल्थ चेकअप, ऑक्सीजन कंसंट्रेटर का क्रय, ओपीडी और पीसीटी चार्जेस में वृद्धि की गई है। रिटायर्ड कर्मचारियों के जीवित माता-पिता, अविवाहित पुत्री, विकलांग पुत्र सभी को चिकित्सा सुविधा दिया जा रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!