Rathyatra 2022: महाप्रभु जगन्नाथ के रथ को लेकर भक्तों ने शुरू की यात्रा, प्रेम प्रकाश पांडेय ने छेरा-पंहरा की निभाई रस्म

छेरा-पंहरा सम्पन्न भगवान बलभद्र, माता सुभद्रा और महाप्रभु जगन्नाथ के विग्रह को पंहडी करते हुए काष्ठ निर्मित सुन्दर व भव्य रथ पर लाया गया।

सूचनाजी न्यूज, भिलाई। जगन्नाथ समिति के तत्वाधान में सेक्टर-4, बोरिया मार्केट स्थित जगन्नाथ मंदिर से भगवान श्री जगन्नाथ स्वामी की रथयात्रा निकाली गयी। रथ सेक्टर-4 के जगन्नाथ मंदिर से निकलकर सेन्ट्रल एवेन्यू होते हुए सेक्टर-10 के भव्य गुण्डिचा मंडप में पहुंची। छेरा-पंहरा सम्पन्न भगवान बलभद्र, माता सुभद्रा और महाप्रभु जगन्नाथ के विग्रह को पंहडी करते हुए काष्ठ निर्मित सुन्दर व भव्य रथ पर लाया गया। इस वर्ष रथयात्रा के दौरान रथ के समक्ष परम्परा अनुसार छेरा-पंहरा कार्यक्रम, मुख्य अतिथि छत्तीसगढ़ के पूर्व राजस्व, उच्च व तकनीकी शिक्षा मंत्री प्रेम प्रकाश पांडेय द्वारा सम्पन्न किया गया।

पुरी में यह परम्परा पुरी के महाराज सम्पन्न करते है। छेरा-पंहरा के पश्चात भक्त जनों ने ‘जय जगन्नाथ’ के उद्घोष के साथ रथ खींचना प्रारंभ किया। इस अवसर पर समिति के अध्यक्ष विरेन्द्र सतपथी व महासचिव सत्यवान नायक सहित समिति के पदाधिकारी बसंत प्रधान, डी त्रिनाथ, अनाम नाहक, वृंदावन स्वांई, भीम स्वांई, त्रिनाथ साहू, सुषांत सतपथी, बीसी बिस्वाल, प्रकाश दास, कालू बेहरा, निरंजन महाराणा, रंजन महापात्र, एस सी पात्रो, बीस केशन साहू, कवि बिस्वाल, रमेश कुमार नायक, सीमांचल बेहरा, सुदर्शन शांती, संतोष दलाई, प्रकाश स्वांई, एस दलाई,वी के होता, शत्रुघ्न डाकुआ विशेष रुप में उपस्थित थे।

भक्ति के धुन में नाचते-गाते भक्त

उड़ीसा के दुलदुली कलाकारों ने अपने वाद्य यंत्र व नृत्य से लोगों का मन मोह लिया। झांझ, मंजीरे, ढ़ोल, मृदंग बजाते कीर्तन दल तथा भक्ति संगीत के धुन में नाचते-गाते भक्त जनों ने भाव विभोर होकर रथ खींचा। सेन्ट्रल एवेन्यु में महाप्रभु के दर्शन व पूजा अर्चना हेतु हजारों की संख्या में श्रद्धालु सड़क के दोनों ओर खड़े थे। महाप्रभु का रथ सेन्ट्रल एवेन्यु में पहुंचते ही रथ खींचने व दर्शनार्थ भारी संख्या में लोग उमड़ पड़े।

अन्न व गजामूंग प्रसाद का वितरण

इस पूरे यात्रा के दौरान अन्न प्रसाद व गजामूंग के प्रसाद का वितरण किया गया। विभिन्न स्थानों पर अलग-अलग संस्थाओं व समाज द्वारा रथ का भव्य स्वागत किया। विभिन्न स्थानों पर पंडाल लगा कर श्रद्धालुओं को भोग व शर्बत आदि का वितरण किया गया। रथ का संचालन वृंदावन स्वांई व विदेशी बिस्वाल,संतोष दलाई, द्वारा किया गया। रथ यात्रा के विभिन्न पूजा कर्म पण्डित पितवास पाढ़ी, प्रकाश दास, रंजन महापात्र तथा विक्रम पाढ़ी द्वारा विधि विधान से सम्पन्न किया गया।

सहयोग व विशेष योगदान

इस उत्सव को सफल बनाने में जगन्नाथ समिति के पदाधिकारी बसंत प्रधान, अनाम नाहक, वृंदावन स्वांई, भीम स्वांई, त्रिनाथ साहू, प्रकाश स्वांई,सुशांत सतपथी, बीसी बिस्वाल, प्रकाश दास, कालू बेहरा, निरंजन महाराणा, डी त्रिनाथ, रंजन महापात्र, एस सी पात्रो, बीस केशन साहू, कवि बिस्वाल, रमेश कुमार नायक, सीमांचल बेहरा, सुदर्शन शांति, संतोष दलाई, शंकर दलाई,वी के होता, अध्यक्ष विरेन्द्र सतपथी व महासचिव सत्यवान नायक ने विशेष योगदान दिया। इस अवसर पर समिति के पदाधिकारी सहित गणमान्य नागरिक उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!