2022 में ही डिप्लोमा इंजीनियर पदनाम हासिल करने का संकल्प पारित, यूनियनों को चेतावनी, कर्मियों में भरा दम

जूनियर इंजीनियर पदनाम को लेकर डिप्लोमा इंजीनियर्स की सेल स्तरीय बैठक भिलाई में आज, राउरकेला, बर्नपुर, बोकारो, दुर्गापुर के पदाधिकारी कर रहे प्लांट का दौरा

सूचनाजी न्यूज, भिलाई। जूनियर इंजीनियर पदनाम की मांग को लेकर लंबे समय से आंदोलन चल रहा है। पांच साल पूर्व तत्कालीन इस्पात मंत्री चौधरी बीरेंद्र सिंह ने पदनाम की घोषणा की थी, लेकिन आज तक अमल नहीं हो सका। स्टील अथॉरिटी ऑफ इंडिया लिमिटेड-सेल इकाइयों के डिप्लोमा इंजीनियर्स की संस्था डेफी ने भिलाई में संकल्प पारित किया है कि 2022 में ही जूनियर इंजीनियर पदनाम लेकर रहेंगे। इसके लिए हर कोशिश की जाएगी। साथ ही ट्रेड यूनियनों को चेतावनी भी दी गई है। वहीं, कर्मचारियों का हौसला बढ़ाते हुए डेफी के पदाधिकारियों ने कहा कि जूनियर इंजीनियर पदनाम का आंदोलन शांत नहीं हुआ है। जब तक पदनाम हासिल नहीं होता, तब तक आंदोलन चलता रहेगा।

डिप्लोमा इंजीनियर्स फेडरेशन ऑफ इस्पात की राष्ट्रीय कार्यकारणी के सदस्यों का तीन दिवसीय भिलाई प्रवास शुरू हो चुका है। सभी यूनिट के पदाधिकारी मिलकर जूनियर इंजीनियर पदनाम, कॅरियर ग्रोथ सहित अन्य दूसरे मुद्दों पर चर्चा कर रहे हैं। कार्यक्रम की थीम भिलाई डायलॉग रखा गया है। जहां नवगठित कार्यकारिणी के पदाधिकारी अब तक हुई प्रगति, प्रमुख दिक्कतों व आगे की रणनीति पर विचार विमर्श किया। बीएसपी आफिसर्स एसोसएिशन के प्रगति भवन में शाम छह बजे से ढाई घंटे तक मंथन किया गया।

इससे पूर्व डिप्लोमा इंजीनियर्स एसोसिएशन के पदाधिकारियों ने बीएसपी का दौरा किया। यूनिवर्सल रेल मिल सहित कई शॉप और मिल में उत्पादन प्रक्रिया को करीब से देखा। इसमें इस्को बर्नपुर से एल.कुमार मन्ना, अंजन कुंडू, बोकारो से संदीप कुमार, एम. तिवारी, राउरकेला स्टील प्लांट से तन्मय कुमार, नरेंद्र नाथ दास, दुर्गापुर स्टील प्लांट से नंद किशोर घोष बैराग्य, एस. तिवारी और गौरव शर्मा शामिल रहे।

ये खबर भी पढ़ें: जहां जूनियर मैनेजर बनकर आए, वहीं विभाग प्रमुख पद से रिटायर हुए जीए राव

बीएसपी से सेवानिवृत्त होने वाले डिप्लोमा इंजीनियर्स का सम्मान

डिप्लोमा इंजीनियर्स के कार्यक्रम में संस्था से लंबे समय से जुड़े डिप्लोमा इंजीनियर व संस्था को अपना मार्गदर्शन देने वाले सत्यवान नायक (वरिष्ठ प्रबंधक-जनसंपर्क विभाग) को बीएसपी से सेवानिवृत्त होने पर उनके सम्मान में एक कार्यक्रम भी आयोजित किया गया। संस्था से जुड़े सभी नए व पुराने डिप्लोमा इंजीनियर को आमंत्रित किया गया। डेफी की पूरी टीम द्वारा सत्यवान नायक को पौधे व शाल देकर सम्मानित किया गया। सत्यवान नायक ने डेब/डेफी की टीम को खड़ा करने व संघर्षों को याद किया। साथ ही डिप्लोमा इंजीनियर्स का सेल में उपयोगिता व उनका सुरक्षा व उत्पादन में आवश्यक भूमिका पर प्रकाश डाला।

सेफी चेयरमैन बनने पर नरेंद्र बंछोर का अभिनंदन

सेफी अध्यक्ष बनने पर नरेंद्र बंछोर का अभिन्नदन डिप्लोमा इंजीनियर्स के राष्ट्रीय सम्मेलन में किया गया। डिप्लोमा इंजीनियर्स फेडरेशन ऑफ इस्पात ने उन्हें सम्मानित किया। डेफी के कार्यकारणी सदस्यों में प्रमुख रूप से अध्यक्ष नरेन नाथ दास (आरएसपी), महासचिव नंदकिशोर घोष बैराग्य (डीएसपी), कार्यकारी अध्यक्ष राजेश शर्मा (बीएसपी), उपमहासचिव संदीप कुमार (बीएसएल), अभिषेक सिंह (बीएसपी), एम. तिवारी (एडमिन सचिव), कोषाध्यक्ष लब कुमार मन्ना (आईएसपी), सचिव मीडिया गौरव शर्मा (डीएसपी), मोहम्मद रफी (बीएसपी), जोनल सचिव तन्मय कुमार, पवन साहू, अंजन कुंडू आदि उपस्थित थे। कार्यक्रम में उपाध्यक्ष घनश्याम साहू, शिवशंकर तिवारी, उषाकर चौधरी, उपमहासचिव सुदर्शन ठाकुर, कोषाध्यक्ष रमेश कुमार, जोनल सेक्रेटरी रवि आरसे, सौरभ सुमन, सोनू मेहता, विश्वनाथ, तारकेश्वर, नवीन मिश्रा, लुमेश कुमार, संदीप कुमार, सूरज, त्रिभुवन, विनय उत्तम, निरंजन, धर्म सिंह, आनंद मिश्र ब्रजेश, निशांत आदि उपस्थित थे।

ये खबर भी पढ़ें: पेंशन नहीं टेंशन का सर्कुलर सेल ने किया जारी, बदलाव कर्मचारियों के खिलाफ, ब्याज पर नहीं कर सकते क्लेम, घाटे में बंद होगा अंशदान

भिलाई संगठन में नवऊर्जा का संचार हुआ

अध्यक्ष राजेश शर्मा ने बताया कि भिलाई में डेफी की सेल स्तरीय बैठक होने से भिलाई संगठन में नवऊर्जा का संचार हुआ है। पदनाम व कॅरियर ग्रोथ हमेशा से ही हमारा लक्ष्य रहा है, जिसके कारण ही ट्रेनिंग अवधि का सेवाकाल में जुड़ना, जूनियर ऑफिसर परीक्षा की न्यूनतम योग्यता एस-8 की जगह एस-6 करवाना कर्मचारी से अधिकारी वर्ग में प्रमोशन के लिए रुकी हुई परीक्षा शुरू करवाना प्रमुख है। इन सभी मुद्दों का निराकरण डिप्लोमा इंजिनियर्स संगठन द्वारा किया गया है। संस्था का प्रयास है कि जल्द ही जूनियर इंजीनियर पदनाम का भी निराकरण कर डिप्लोमा इंजीनियर्स की इस लंबित मांग को भी पूरा करवाया जा सके।

ये खबर भी पढ़ें: टाउनशिप में कब्जे की राजनीति के खिलाफ भड़का बीएसपी आफिसर्स एसोसिएशन, गठित की कमेटी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!