दिव्यांग कर्मचारी से रिसाली मेंटेनेंस आफिस का लगवाया चक्कर, मरम्मत न होने से मासूम बच्चे के पास गिरा छत का प्लास्टर, बची जान

0
bsp awas
रिसाली सेक्टर के आवास संख्या-122A में आरएमडी में कार्यरत दिव्यांग कर्मचारी मंटू कुमार परिवार सहित रहते हैं।
AD DESCRIPTION

बीएसपी कर्मचारियों का कहना है कि सारी समस्या की जड़ मेंटेनेंस आफिस में बैठे जिम्मेदार हैं। लापरवाही की वजह से आयेदिन कर्मचारियों की जान खतरे में डाली जा रही है।

सूचनाजी न्यूज, भिलाई। भिलाई टाउनशिप में जर्जर आवास की समस्या समाधान नहीं हो पा रहा है। एक के बाद एक मकान का प्लास्टर टूटकर गिरता जा रहा है। जर्जर आवासों में कर्मचारी और उनका परिवार रह रहा है। गुरुवार रात रिसाली सेक्टर में बीएसपी कर्मी का परिवार बाल-बाल बच गया। छोटा बच्चा घर में खेल रहा था, तभी छत का प्लास्टर टूटकर गिर गया। बच्चा यह देख रोने लगा और चीखते हुए मां से लिपट गया।

ये खबर भी पढ़े …ए जी सुनते हो…! बोनस से रानी-हार की बनवाई का खर्च आया, 50 ग्राम सोना क्यों नहीं दिलाया

AD DESCRIPTION AD DESCRIPTION

इस मंजर परिवार के सदस्यों को झकझोर दिया। आक्रोशित परिवार ने मेंटेनेंस आफिस पर गुस्सा उतारना शुरू कर दिया है। रिसाली सेक्टर के आवास संख्या-122A में आरएमडी में कार्यरत दिव्यांग कर्मचारी मंटू कुमार परिवार सहित रहते हैं। पैर से दिव्यांग कर्मचारी लगातार मेंटेनेंस आफिस का चक्कर लगाता रहा। मेंटेनेंस आफिस में बैठे जिम्मेदार अधिकारियों के रवैये से हर कोई परेशान है।

ये खबर भी पढ़े …सेल के ठेका मजदूरों को दोयम दर्ज का समझने की भूल न करे प्रबंधन, बोकारो में क्रमिक अनशन जारी

ये खबर भी पढ़े …RINL को बिकने से बचाने की लड़ाई पहुंची भारत जोड़ो यात्रा तक, आधे घंटे तक Rahul Gandhi ने सुनी दास्तां, कहा-बचाएंगे PSU

वहीं, बीएसपी कर्मचारियों का कहना है कि सारी समस्या की जड़ मेंटेनेंस आफिस में बैठे जिम्मेदार हैं। लापरवाही की वजह से आयेदिन कर्मचारियों की जान खतरे में डाली जा रही है। मेंटेनेंस आफिस की ढिलाई की वजह से कंपनी की छवि तक खराब हो रही है। शिकायतों का निपटारा तत्काल करने के बजाय टालने की आदत पड़ चुकी है।

ये खबर भी पढ़े … बोनस फॉर्मूला बनने से ही नूरा कुश्ती होगी बंद, दान नहीं पीबीटी के 5% का दें अधिकार

AD DESCRIPTION AD DESCRIPTION

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here