राउरकेला स्टील प्लांट ने भरा दम, कहा-ग्राहकों को राजा स्वरूप मानेंगे हम, खर्च करेंगे कम

आरएसपी के निदेशक प्रभारी अतनु भौमिक ने कहा- ‘बदलते समय के अनुरूप अनुकूलन सामंजस्य स्थापित कर आरएसपी को उकाब की नाई उड़ान भरने में मदद करें।’

सूचनाजी न्यूज, राउरकेला। 866वें सामूहिक संपर्क सभा को संबोधित करते हुए राउरकेला इस्पात संयंत्र (आरएसपी) के निदेशक प्रभारी अतनु भौमिक ने कहा, ‘बदलते समय और रुझान के अनुरूप अनुकूलन सामंजस्य स्थापित कर आरएसपी को उकाब की नई उड़ान भरने में मदद करें।’ 200 से अधिक कर्मचारियों को संबोधित करते हुए श्री भौमिक ने अप्रचलित तरीकों और प्रक्रिया को दूर करने और स्वामित्व के साथ समय की आवश्यकता के अनुसार नए कौशल, ज्ञान को अपनाने के लिए कहा। स्टील की प्रचलित विक्रेय कीमतों के संबंध में एनएसआर के नतीजों का जिक्र करते हुए डीआईसी ने फासले को दूर करने के तरीकों पर चर्चा की। जैसे कि अत्यधिक सुरक्षा के साथ उत्पादन की मात्रा में वृद्धि, शून्य ब्रेकडाउन और शून्य अपव्यय, राजा स्वरूप ग्राहकों के आधार को बनाए रखना और उनके आवश्यकतानुसार उत्पादों का उत्पादन करना तथा उत्पादन लागत को कम करना।

ये खबर भी पढ़ें: क्रेडिट सोसाइटी के आप भी बन सकते हैं मालिए, बस करना होगा ये काम

आरएसपी कर्मीसमूह में विश्वास जताते हुए, निदेशक प्रभारी ने लाभप्रद बने रहने के लिए हॉट स्ट्रिप मिल-2 जैसी अत्याधुनिक मिलों से उत्पादन और निष्‍पादन को अनुकूलित करने की अपील की। श्री भौमिक ने विभागों से इस संबंध में विशिष्ट तकनीकी-आर्थिक मापदंडों पर कार्य कर बेंचमार्क स्थापित करने एवं दुर्घटना मुक्त, गुणवत्तायुक्त इस्पात का उत्पादन करने और बेहतरीन गुणवत्तापूर्ण जीवन सुनिश्चित करने के साथ आर.एस.पी. को देश में सर्वश्रेष्ठ इस्पात संयंत्र बनाने का आग्रह किया।

ये खबर भी पढ़ें: भिलाई से लेह और लद्दाख तक पर्यावरण-जल संरक्षण का मंत्र देंगे सेल के चार कर्मचारी

राउरकेला के सभी ईडी ने ज्ञानवर्धक बातें की साझा

ईडी माइंस: कार्यपालक निदेशक (खान) एके.कुंडू ने सुरक्षा, गुणवत्ता और उत्पादन की लागत पर जोर दिया। उन्होंने ओडिशा ग्रुप ऑफ माइन्स के समग्र निष्‍पादन के बारे में बात की और संबंधित इकाइयों की कच्चे माल की जरूरतों को पूरा करने के लिए संभावित विस्तार और बढ़े हुए उत्पादन लक्ष्य के बारे में सदन को सूचित किया।
ईडी वर्क्स: कार्यपालक निदेशक (वर्क्‍स) एसआर.सूर्यवंशी ने अपने संबोधन में उत्पादन, निष्‍पादन, लाभप्रदता, लागत, सुरक्षा और ग्राहकों की संतुष्टि पर जोर दिया। उन्होंने टीम आर.एस.पी. के सामूहिक प्रयासों की सराहना की और आशा व्यक्त की कि समय पर उचित कदमों और रणनीतियों से संयंत्र को स्टील की घटती दरों के वर्तमान परिदृश्य में एनएसआर को बनाए रखने में मदद मिलेगी।
ईडी पीएंडए: कार्यपालक निदेशक (कार्मिक एवं प्रशासन) पीके.शतपथी ने आगामी रथ यात्रा के लिए अपनी शुभकामनाएं दी। और संयंत्र के कुछ मानव संसाधन पहलुओं जैसे ओडिशा ग्रुप ऑफ़ माइंस में हाल ही में सफल शांतिपूर्वक जन सुनवाई और आरएसपी द्वारा उठाए गए पीएफ नोमिनेशन और शिकायत निवारण प्रणाली पर प्रकाश डाला।
ईडी मेडिकल: कार्यपालक निदेशक (एमएंडएचएस) डॉ. बीके होता ने ओएचएससी द्वारा संचालित विभिन्न स्वास्थ्य जागरुकता कार्यक्रम की चर्चा करते हुए सराहा और विभिन्न धाराओं के तहत चिकित्सा विशेषज्ञता के साथ सुपर स्पेशियलिटी अस्पताल में उपलब्ध तत्काल जीवन रक्षक सुविधाओं पर प्रकाश डाला।

ये खबर भी पढ़ें: सेल के कर्मचारियों को नहीं मिलेगा एक जनवरी 2017 से 17 नवंबर 2021 तक के पर्क्स का एरियर, अधिकारियों को मिला है 18 माह का एरियर

कर्मचारियों को राहत देने आया ‘कर्मी मित्र’ एप

समारोह के दौरान निदेशक प्रभारी ने नए एंड्रॉइड मोबाइल एप ‘कर्मी मित्र’ लांच किया। यह एप कर्मीसमूह की सुविधा के लिए सीएंडआईटी विभाग द्वारा सहायक महाप्रबंधक (सीएंडआईटी) वीपी.आर्य एवं सीएंडआईटी की टीम और कार्मिक विभाग की डिजिटल रोड मैप कमेटी की मदद से संयोजक के रूप में उप महाप्रबंधक (कार्मिक) एस.बडपंडा के संयुक्त प्रयास के साथ विकसित किया गया है। मास्टर तकनीशियन (ई. एंड ए.) अडाबर कृष्णा गुरु को सर्वोश्रेष्ठ नाम सुझाव करने हेतु पुरस्कृत किया गया।

ये खबर भी पढ़ें: लंबित मुद्दों पर तिलमिलाए नेताजी बोले-1985 में चेयरमैन-जीएम को करा चुके सस्पेंड, न्याय नहीं मिला तो सेल चेयरमैन के चेंबर पर करेंगे चढ़ाई

जनसंपर्क विभाग ने दिखाई ‘श्रेष्ठ’ लघु फिल्म

प्रारंभ में जनसंपर्क विभाग द्वारा बनाई गई ‘श्रेष्ठ’ नामक एक लघु फिल्म प्रदर्शित की गई, जिसमें उकाब की उपमा के साथ, पिछले वित्त वर्ष में आरएसपी के उत्पादन और वित्तीय प्रदर्शन, लक्ष्य, प्रशंसा और उपलब्धियों और टाउनशिप में नई सुविधाएं शामिल की गई थी। पिछले सामुहिक संपर्क सभा में कार्यस्थल से संबंधित कर्मचारियों द्वारा दिए गए सुझावों और मुद्दों पर एक स्थिति रिपोर्ट भी दिखाई गई। बाद में, विचार-विमर्श सत्र के दौरान, कर्मचारियों ने उत्पादन, उत्पादकता, रखरखाव और सुरक्षा के मुद्दों से संबंधित सुझाव दिए। सत्र का समापन कर्मचारियों और वरिष्ठ अधिकारियों द्वारा आर.एस.पी. को हर दृष्टि से सर्वश्रेष्ठ बनाने का संकल्प लेने के साथ हुआ। कार्यक्रम का संचालन वरिष्ठ इंस्‍ट्रक्‍टर (एचआरडी) समिता मिश्र ने किया।

ये खबर भी पढ़ें: SAIL चेयरमैन से लेकर बोकारो के डायरेक्टर इंचार्ज तक आए कर्मचारियों के राडार पर, सड़क पर मुर्दाबाद के लगे नारे…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!