Rourkela Steel Plant ने क्रूड टार में बनाया रिकॉर्ड, कोल केमिकल की बिक्री से 56 करोड़ की कमाई, प्रबंधन ने खिलाई मिठाई

0
raurkela steel plant record
सेल- राउरकेला इस्पात संयंत्र के कोल केमिकल विभाग द्वारा अब तक का सर्वश्रेष्ठ क्रूड टार प्रेषण दर्ज।माह का सबसे अच्छा क्रूड टार प्रेषण दर्ज ।
AD DESCRIPTION

वित्तीय वर्ष 2022-23 की पहली छमाही में सीसीडी द्वारा कुल एनएसआर मूल्य 245 करोड़ रुपये है, जो पिछले वर्ष की इसी अवधि की तुलना में 48 प्रतिशत की वृद्धि है जिसमें 165 करोड़ रूपए हासिल की गयी थी।

सूचनाजी न्यूज, राउरकेला। सेल-राउरकेला इस्पात संयंत्र के कोल केमिकल विभाग ने सितंबर-2022 में 8429 टन क्रूड टार प्रेषित कर रिकॉर्ड बनाया है। किसी भी माह का अब तक का सबसे अच्छा मासिक क्रूड टार प्रेषण दर्ज कर एक और नई उपलब्द्धि हासिल की है। इसके अलावा इसी अवधि में कंपनी को विभाग के कोयला रसायनों की बिक्री के जरिए लगभग 56 करोड़ रुपये का अब तक का सर्वाधिक मासिक राजस्व भी प्राप्त हुआ है। यह सितंबर 22 में विपणन के माध्यम से आरएसपी के लिए उत्पन्न कुल राजस्व का लगभग एक-तिहाई हिस्सा है।

ये खबर भी पढ़ें…भिलाई स्टील प्लांट के 8 होनहार कार्मिक बने कर्म शिरोमणि, जानिए नाम

AD DESCRIPTION AD DESCRIPTION

वित्तीय वर्ष 2022-23 की पहली छमाही में सीसीडी द्वारा कुल एनएसआर मूल्य 245 करोड़ रुपये है, जो पिछले वर्ष की इसी अवधि की तुलना में 48 प्रतिशत की वृद्धि है जिसमें 165 करोड़ रूपए हासिल की गयी थी।

ये खबर भी पढ़ें…शेयर मार्केट: सेल, कोल इंडिया, जेएसडब्ल्यू और अडानी ग्रुप के शेयर ने लगाई लंबी छलांग, कमाई का बेहरीन मौका

कार्यपालक निदेशक (वर्क्स) एसआर सूर्यवंशी ने विभाग का दौरा किया और इस उपलब्द्धि को हासिल करने के लिए टीम को बधाई दी। उन्होंने उनके साथ बातचीत की और सभी से इस गति को बनाए रखने और हर मामले में सर्वश्रेष्ठ बनने की दिशा में प्रयास करने का आग्रह किया। बदले में कर्मचारियों ने प्रबंधन को संयंत्र को एक लाभदायक इकाई बनाने के प्रति अपनी प्रतिबद्धता का आश्वासन दिया। इस अवसर पर मुख्य महाप्रबंधक (सीओ-सीओसीसी) तुलाराम बेहरा, महाप्रबंधक प्रभारी (सीसीडी) बीके तिवारी और कई अन्य मुख्य महाप्रबंधक उपस्थित थे।

ये खबर भी पढ़ें…भिलाई स्टील प्लांट के कास्टर-6 ने उत्पादन के रचे नए कीर्तिमान

AD DESCRIPTION AD DESCRIPTION

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here