राउरकेला स्टील प्लांट लेगा मरीजों का हालचाल, सेवा बेहतर करने ‘आईजीएच फीडबैक’ एप लांच

इस्पात जनरल अस्पताल में रोगी सेवा गुणवत्ता में सुधार लाने और "मुस्कान भरी सेवा" के आदर्श को मजबूत करने के उद्देश्य से आईजीएच फीडबैक एप लांच किया गया है।

सूचनाजी न्यूज, राउरकेला। राउरकेला इस्पात संयंत्र इस्पात जनरल अस्पताल में रोगी सेवा गुणवत्ता में सुधार लाने और “मुस्कान भरी सेवा” के आदर्श को मजबूत करने के उद्देश्य से, एक आईजीएच फीडबैक एप लांच किया गया है, जो एंड्रॉइड मोबाइल एप “संपर्कसेलरस्प” की एक अतिरिक्त विशेषता होगी।

एप को निदेशक प्रभारी अतनु भौमिक लांच किया। उन्नत एप अस्पताल में भर्ती रोगियों और उनके रिश्तेदारों को आईजीएच के बारे में प्रतिक्रिया देने में सक्षम बनाएगा। इस अवसर पर मुख्य चिकित्सा अधिकारी प्रभारी (स्वास्थ्य एवं चिकित्सा) डॉ. बीके होता, मुख्य चिकित्सा अधिकारी (स्वास्थ्य एवं चिकित्सा) डॉ. एनपी साहू, मुख्य महाप्रबंधक (सीएंडआईटी) के. सेनगुप्ता, महाप्रबंधक प्रभारी (कार्मिक एवं प्रशासन) बीके कुल्लू और अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

ये खबर भी पढ़ें:Recruitment Drive-2022: बोकारो स्टील प्लांट ने पहले कराया आईटीआई, अब बजाज, टाटा, टीवीएस सहित इन कंपनियों में मिलेगा जॉब

इस फीडबैक प्रणाली में, इंडोर रोगी के रूप में भर्ती व्यक्तियों (कर्मचारियों, उनके आश्रितों, पूर्व कर्मचारियों और गैर हकदार मरीज) को गुगल प्‍ले स्‍टोर (Google Play Store) से एंड्रॉइड एप ‘संपर्कसेलआरएसपी’ डाउनलोड करना होगा और अपने मोबाइल नंबर के साथ भर्ती के दौरान प्रदान की गई पंजीकरण संख्या से लॉग इन कर फीडबैक सुविधा में जाकर फीडबैक जमा करना होगा।

ये खबर भी पढ़ें:सेक्टर-9 हॉस्पिटल में 15 और डाक्टरों की होगी भर्ती, ऑनलाइन होगी मेडिकल रिपोर्ट और प्रतिपूर्ति का भुगतान भी

प्राप्त फीडबैक का आईजीएच प्रशासन द्वारा विश्लेषण किया जाएगा और तदनुसार आईजीएच में स्वास्थ्य देखभाल सुविधाओं में सुधार के लिए कदम उठाए जाएंगे। पहले इनडोर रोगियों से फीडबैक एक कागजी रूप में लेकर संकलित किया जाता था और कार्रवाई की जाती थी, जिसमें समय लगता था और बहुत सारे कागजी कार्य होते थे। यह पेपरलेस और यूजर फ्रेंडली सिस्टम तत्काल प्रतिक्रिया प्राप्त करने और स्वास्थ्य सुविधा में सुधार के लिए त्वरित कार्रवाई करने के लिए तैयार किया गया है।

Rourkela Steel Plant: खेल की पाठशाला में निखार रहे एक-एक बच्चे को, भारतीय हॉकी टीम में शामिल होने का चढ़ा जुनून

प्रणाली को सीएंडआईटी विभाग की टीम द्वारा विकसित किया गया है। इसे सहायक महाप्रबंधक (सीएण्‍डआईटी) वीपी.आर्य के नेतृत्व में कार्मिक विभाग की डिजिटल रोड मैप कमेटी की मदद से किया गया है, जिसके संयोजक उप महाप्रबंधक (कार्मिक) एस.बडपंडा रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!