सेल के राउरकेला स्टील प्लांट ने उत्पादन में लगाई छलांग, प्रोडक्ट की बढ़ती जा रही मांग

सूचनाजी न्यूज, भिलाई। सेल-राउरकेला इस्पात संयंत्र के हॉट स्ट्रिप मिल-2 ने उत्पादन के क्षेत्र में अपनी ताकत का एहसास करा दिया है। लगातार उत्पादन रिकॉर्ड कायम कर रहा है। कंपनी को बेहतर नतीजे दे रहा है। अपनी सफलता को जारी रखते हुए 2000 मिमी चौड़ाई और 5 मिमी मोटाई (सेल में अद्वितीय) के साथ सेलकोर, एमसी40, एपीआई एक्स70 और 1680 मिमी चौड़ाई के साथ व्यापक एलपीजी कॉइल के रोलिंग का परीक्षण सफलतापूर्वक किया है।

Bhilai Steel Plant: टीएंडडी के 192 कर्मचारियों को मिला प्रमोशन, जानिए किस पॉलिसी से मिली तरक्की, इंटक ले रहा श्रेय

इसने आरएसपी के उत्पाद टोकरी को काफी हद तक समृद्ध किया है और विभिन्न आला बाजार क्षेत्रों में इसके प्रवेश की संभावनाओं को मजबूत किया है। 1250 मिमी चौड़ाई और 1.8 मिमी मोटाई के साथ कॉइल के रोलिंग को स्थिर करने के बाद, मिल अब 1.2 मिमी तक पतले गेज कॉइल के उत्पादन को रोलिंग और स्थिर करने की प्रक्रिया में है। डाउनस्ट्रीम रोलिंग मिलों को एचएसएम-2 द्वारा आपूर्ति किए गए इनपुट कॉइल न केवल उनके उत्पाद बढ़ाने में मदद कर रहे हैं, बल्कि उनके प्रमुख स्वीकृति स्तरों में भी सुधार कर रहे हैं।

ये खबर भी पढ़ें: सांसद विजय बघेल के खिलाफ बीएसपी आफिसर्स एसोसिएशन ने खोला मोर्चा, कहा-अधिकारी-कर्मचारी करें बहिष्कार, पूछा-खुद की संपत्ति पर कब्जा करने वालों का सांसद कराएंगे व्यवस्थापन

जून के महीने में मिल ने 1,28,500 टन स्लैब रोल किया, जो उसके लक्ष्य से कहीं अधिक है और 1,00,000 टन से अधिक एचआर कॉइल्स का प्रेषण किया, जो स्थापना के बाद से अब तक का सर्वाधिक आंकड़ा है। टीम एचएसएम-2 अब रैंप अप प्रक्रिया में अपनी मात्रा को अधिकतम करते हुए नई चुनौतियों को स्वीकार करने के लिए तैयार है। बता दें कि डायरेक्टर इंचार्ज अतनु भौमिक लगातार कार्मिकों का हौसला बढ़ा रहे हैं ताकि उत्पादन के मामले में लंबी छलांग लगाई जा सके। इसका असर भी अब दिख रहा है।

ये खबर भी पढ़ें: इस्को की तर्ज पर किरायेदार बसाने वाले कर्मचारियों और अधिकारियों से एक-एक लाख की वसूली शुरू होते बीएसपी के 10 फीसद मकान हो जाएंगे खाली

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!