दुर्गापुर स्टील प्लांट में फिर बवाल, ईडी वर्क्स कार्यालय का घेराव, इधर-युवाओं ने की बगावत, सामूहिक इस्तीफे की आई बात

0
sail bonus protest in durgapur steel plant
सीटू, एचएमएस, बीएमएस के पदाधिकारियों को चार्जशीट दिए जाने से आक्रोशित यूनियनें कर रही विरोध-प्रदर्शन।
AD DESCRIPTION

सेल-बोनस को लेकर दुर्गापुर स्टील प्लांट में चल रहा विरोध-प्रदर्शन। सातों यूनियन के बैनर तले किया जा रहा प्रोटेस्ट।

सूचनाजी न्यूज, दुर्गापुर। सेल बोनस आंदोलन में शामिल ट्रेड यूनियन के चार पदाधिकारियों को चार्जशीट दिए जाने के खिलाफ एक बार फिर विरोध-प्रदर्शन शुरू हो गया है। ईडी वर्क्स कार्यालय के बाहर सातों यूनियन के पदाधिकारी जुट चुके हैं। प्रबंधन के फैसले के खिलाफ नारेबाजी की जा रही है। तत्काल चार्जशीट को वापस लेने की मांग की गई है। दोपहर तक प्रोटेस्ट करने की बात कही जा रही है।

ये खबर भी पढ़ें… गोधन न्याय योजना: पशुपालकों, महिला समूहों और गौठान समितियों के खाते में 6 को आएगा 8 करोड़ 13 लाख, सीएम बघेल के हाथों ऑनलाइन जारी होगी रकम

AD DESCRIPTION AD DESCRIPTION

सीटू, इंटक, एचएमएस, एटक, तृणमूल ट्रेड यूनियन आदि के पदाधिकारियों ने ईडी वर्क्स कार्यालय को घेर लिया है। दूसरी तरफ युवा कर्मचारियों के एक गुट ने बोनस प्रदर्शन से खुद को किनारे कर बगावत का बिगुल बजा दिया है। बकायदा वाट्सएप ग्रुप बनाया गया है, जिसमें करीब डेढ़ सौ युवा कर्मचारी हैं। ये सभी अपनी-अपनी यूनियनों के नाराज हैं। इन लोगों का कहना है कि बोनस विरोध-प्रदर्शन के नाम पर खिलवाड़ हो रहा है।

ये खबर भी पढ़ें… राज्यपाल अनुसुईया उइके और सीएम भूपेश बघेल रंगे आस्था के रंग में, शस्त्र पूजा कर की सुख-समृद्धि की कामना

प्रबंधन के साथ साठगांठ की गई है। यही वजह है कि गेट नंबर-1 जब जाम किया गया तो गेट नंबर-2 से कर्मचारियों को ड्यूटी जाने दिया गया। प्रबंधन ने खुद वाट्सएप मैसेज में लिखा कि बात हो गई है, आप लोग गेट नंबर-2 से ड्यूटी आइए। सीजीएम स्तर के एक अधिकारी के मैसेज का स्क्रिन शॉट युवाओं को एकजुट कर रहा है।

ये खबर भी पढ़ें… छत्तीसगढ़ राज्य अलंकरण प्रभु राम के ननिहाल की दिलाएगा याद, माता कौशल्या के नाम समेत दिए जाएंगे तीन नए पुरस्कार…

इनका समर्थन ट्रांसफर की मार झेल रहे सेल के कर्मचारी भी कर रहे हैं। मार्गदर्शन मिलने से उत्साहित दुर्गापुर की यूनियनों से नाराज कर्मचारियों ने यहां तक बोल दिया है कि अगर, 45 हजार से कम में किसी ने बोनस एग्रीमेंट किया तो यूनियनों का विरोध-प्रदर्शन किया जाएगा। उसी दिन अपनी-अपनी यूनियनों से कर्मचारी इस्तीफा दे देंगे। सामूहिक रूप से इस्तीफा दिया जाएगा।

ये खबर भी पढ़ें… Bonus आंदोलन: नेताओं को चार्जशीट थमाने का मामला गरमाया, CITU ने SAIL चेयरमैन सोमा मंडल को लिखी चिट्‌ठी, कहा-शांति कायम कराएं अशांति नहीं…

खास बात यह कि जो यूनियन 45 हजार से कम में साइन नहीं करेगी, उस यूनियन की सदस्यता ग्रहण की जाएगी। फिलहाल, दुर्गापुर में नई सियासत शुरू हो चुकी है। भिलाई स्टील प्लांट में चुनाव से पहले जिस तरह युवा एकजुट हुए थे, उसी तर्ज पर दुर्गापुर में दांव खेला जा रहा है। बीएसपी चुनाव के बाद युवाओं में ही आक्रोश बढ़ चुका है। फिलहाल, दुर्गापुर के गर्म तावे पर रोटी सेकने की कोशिश की जा रही है।

ये खबर भी पढ़ें…बोनस न मिलने का गुस्सा बीएमएस के केंद्रीय नेता डीके पांडेय पर उतरा, गमछा-बनियान में ही पदाधिकारियों ने घेरा, देखिए वायरल वीडियो

AD DESCRIPTION AD DESCRIPTION

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here