भारत और विश्व के विकास में मैथिल ब्राम्हणों के योगदान को बयां कर रहा ‘सगर्भय संस्तव’

सूचनाजी न्यूज, दुर्ग। मैथिल ब्राम्हणों की भारत एवं विश्व के विकास में योगदान पर लिखित पुस्तक “सगर्भय संस्तव” का रायपुर के होटल में विमोचन किया गया। विशिष्टजनों का सम्मान, गोष्ठी, कवि सम्मेलन, सांस्कृतिक कार्यक्रम इंडियन ऑयल कारपोरेशन लिमिटेड के सहयोग से सम्पन्न हुआ, जिसमें प्रसिद्ध इतिहासकार डॉ. रमेंद्रनाथ मिश्र द्वारा रचित एवं मनीष झा द्वारा संपादित पुस्तक का अत्यंत गरिमामय समारोह में लोकार्पण हुआ। समारोह में मुख्य अतिथि विकास उपाध्याय को छत्तीसगढ़ मैथिल अकादमी की स्थापना और समाज के प्रांतीय भवन निर्माण के लिए दस हज़ार वर्गफीट जमीन न्यूनतम दर पर प्रदान की मांग की गई। छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को संबोधित मांग पत्र विधायक को सौंपा गया।

वैवाहिक वेब साइट मैथिल ब्राह्मण विवाह बंधन का ऑनलाइन उद्घाट किया गया। इस कार्यक्रम के मुख्य अतिथि संसदीय सचिव छत्तीसगढ़ राज्य शासन और रायपुर पश्चिम विधायक विकास उपाध्याय, अध्यक्षता डॉ.बुद्धिनाथ मिश्र प्रसिद्ध कवि, साहित्यकार देहरादून तथा समाजशास्त्र के प्रोफेसर डॉ.शशांक शेखर ठाकुर जबलपुर, मिथिला सांस्कृतिक संगम प्रयागराज के अध्यक्ष डॉ. अवधेश झा, समाजसेवी कृष्णमोहन झा भोपाल, प्रफ्फुल मिश्र, अवनींद्र ठाकुर,छत्तीसगढ़ रेल कॉरिडोर प्रोजेक्ट के सीईओ जेएन झा, रायपुर वनमण्ड़ल अधिकारी विश्वेश राय, वित्त कंट्रोलर शंकर झा, वरिष्ठ भाजपा नेता अशोक चौधरी, छत्तीसगढ़ राज्य वित्त आयोग के पूर्व अध्यक्ष वीरेंद्र पांडे, पंडित नर्मदा प्रसाद मिश्र के विशेष आतिथ्य में सम्पन्न हुआ।

इस अवसर पर छत्तीसगढ़, मध्यप्रदेश,विदर्भ, उत्तरप्रदेश, दिल्ली,राउरकेला, पटना से बड़ी संख्या में सैकड़ों लोग शामिल हुए। समारोह में मैथिल ब्राह्मण सभा के सचिव नितिन झा,सभा की पूर्व अध्यक्ष डॉं.सुमन मिश्रा, प्रांताध्यक्ष डां.पूर्णप्रकाश झा, आचार्य डॉ.आशुतोष झा, कवि संजीव ठाकुर, महेंद्र कुमार ठाकुर, डॉ. किशोर झा, डॉ. कौशलेन्द्र ठाकुर, विष्णुकांत ठाकुर, कार्तिकेश झा, रमाकांत झा, भगीरथ चौधरी, मुकेश मिश्रा, सुशील झा, अभिषेक झा, डॉ.ऋचा ठाकुर, स्वप्निल कर्महे, सुषमा झा, अल्पना झा, आशा ठाकुर, कल्पना झा, नीता झा, रितु झा,आराधना झा,आशा झा, प्रीति झा, प्रीति ठाकुर, अर्चना झा, मीरा झा आदि मौजूद रहे।

समाज के अनेक क्षेत्रों में उत्कृष्ट कार्य के लिए मैथिल युवा गौरव, मैथिल गौरव, मैथिल शिरोमणि, विद्यापति वाचस्पति, छत्तीसगढ़ गौरव, संस्थाओ में युवा पहल, वर्ल्ड ब्राह्मण फेडरेशन, सर्व ब्राह्मण समाज, मैथिल समाज विकास समिति, रायपुर एवं छत्तीसगढ़ हिंदी साहित्य परिषद सहित छत्तीसगढ़ राज्य और दूसरे राज्यों के सभी लोगों को मिलाकर 100 लोगो का सम्मान विभिन्न अलंकरण से किया गया। ईशा झा ने कार्यक्रम के शुरुआत में गणेश वंदना के साथ भारतनाट्यम नृत्य प्रस्तुत किया। भिलाई निवासी उमेश झा की पुत्री ने गायन के क्षेत्र में अनेक कार्यक्रमों में उत्कृष्ट सफलता हासिल कर छत्तीसगढ़ राज्य गीत अरपा पैरी के धार का गायन कर सबको मंत्रमुग्ध कर दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!