सेल बोनस प्रोटेस्ट अब राउरकेला स्टील प्लांट पहुंचा, केंद्रीय नेताओं की बातों को नज़र-अंदाज कर बीएमएस भी कूदा, देखिए फोटो

0
bonus protest in rsp 5
राउरकेला स्टील प्लांट की करीब 12 यूनियनों ने प्रदर्शन में हिस्सा लिया। जल्द से जल्द बोनस भुगतान की मांग की गई।
AD DESCRIPTION

दुर्गापुर स्टील प्लांट से निकली चिंगारी, भिलाई, बोकारो, इस्को बर्नपुर, सेल आयरन ओर और कोल माइंस तक पहुंच चुकी है।

सूचनाजी न्यूज, राउरकेला। स्टील अथॉरिटी ऑफ इंडिया लिमिटेड-सेल के कर्मचारियों का बोनस विवाद अब राउरकेला स्टील प्लांट तक पहुंच चुका है। 16 में से 12 यूनियनों ने एकजुटता दिखाई। बिसरा चौक पर हाथों में हाथ डाले और अपनी-अपनी यूनियन का झंडा लिए नारेबाजी की। महिला कर्मचारियों ने भी प्रदर्शन में हिस्सा लिया। बोनस की मांग को लेकर दुर्गापुर स्टील प्लांट से निकली चिंगारी, भिलाई, बोकारो, इस्को बर्नपुर, सेल आयरन ओर और कोल माइंस में विरोध-प्रदर्शन का दौर जारी है। इस फेहरिस्त में शुक्रवार सुबह साढ़े 7 बजे राउरकेला स्टील प्लांट भी जुड़ गया।

ये खबर भी पढ़ें…क्या आप जानते हैं बाघों के गर्भ से पोस्टमार्टम तक की ये बातें, व्हाइट टाइगर से जुड़े हर सवालों का जवाब पढ़ें टाइगर मैन डाक्टर जीके दुबे की ज़ुबानी

AD DESCRIPTION AD DESCRIPTION

हर किसी की नजर बीएमएस से संबद्ध राउरकेला इस्पात कारखाना कर्मचारी संघ पर टिकी रही। बीएमएस के केंद्रीय नेता विरोध-प्रदर्शन के खिलाफ बयान दे रहे हैं। विज्ञप्ति जारी कराई जा रही है। वहीं, यूनिट स्तर पर केंद्रीय नेताओं की बातों को हवा में उड़ाकर बीएमएस के पदाधिकारी विरोध-प्रदर्शन में शामिल हो रहे हैं। गुरुवार को इस्को बर्नपुर में भी बीएमएस ने हिस्सा लिया था।

ये खबर भी पढ़ें….Coal India Bonus: कोल इंडिया ने 77 हजार बोनस के लिए रिजर्व रखी थी रकम,यूनियन ने 76,500 में किया एग्रीमेंट, ढाई लाख कर्मियों को 500-500 की चपत!

प्रदर्शन में इंटक, सीटू, एचएमएस, बीएमएस, एटक, एआइयूटीयूसी, एआइसीसीटीयू, जीएमएम, एसईएआर आदि यूनियन के पदाधिकारियों ने अपने विचार भी व्यक्त किए। राउरकेला इस्पात कारखाना कर्मचारी संघ का कहना है कि जमीन पर हम लोग रहते हैं। कर्मचारियों की अपेक्षाओं पर खरा उतरना हमारी जिम्मेदारी है। कर्मचारियों की भावनाओं का आदर कर रहे हैं। सभी यूनियन ने एकजुटता दिखाई है। कर्मचारियों के मुद्दे पर हम सब एक साथ हैं।

ये खबर भी पढ़ें…. 50th SAIL AGM: भारतीय कंपनियों के एलीट क्लब में सेल भी, 50 प्रतिशत से ज्यादा कारोबार में छलांग

संयुक्त यूनियन के नेताओं ने कहा कि पिछले वित्तीय वर्ष में जहां सेल ने 1 लाख करोड़ के टर्नओवर के साथ 12015 करोड़ रुपए कमाए। वहीं, इस साल के वार्षिक बोनस का भुगतान नहीं किया गया है। जबकि अधिकारियों को 60,000 से लेकर लाखों पीआरपी दिए जाएंगे। श्रमिक संघों ने केवल 63,000 की मांग की। अंतत: 45 हजार की पेशकश के बाद सेल ने 26 हजार तक सीमित कर लिया। इसके बाद समझौता संभव नहीं है।

ये खबर भी पढ़ें…. Coal India Bonus: कोल इंडिया के ढाई लाख कर्मचारियों का बढ़ा 4 हजार बोनस, सैलरी के साथ ही आएगा 76500

ये खबर भी पढ़ें…. NMDC में एक लाख 50 हजार 800 रुपए बोनस घोषित, एक अक्टूबर तक खाते में आ सकती है राशि

एनजेसीएस की अगली बोनस बैठक 10 अक्टूबर को है। 39 माह का बकाया, त्योहारी एरियर का भुगतान, तत्काल एनजेसीएस की बैठक बुलाने की मांग की गई। ग्रेच्युटी सीलिंग वापस लेने, नियमित कर्मचारियों को 20% बोनस की मांग की गई।

AD DESCRIPTION AD DESCRIPTION

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here