Exclusive News: सेल चेयरमैन सोमा मंडल और डायरेक्टर इंचार्ज अनिर्बान दासगुप्ता को नहीं मिला पीआरपी, बोकारो के अमरेंदु प्रकाश व दुर्गापुर के बीपी सिंह को मिली कम राशि

अज़मत अली, भिलाई। Exclusive News: परफॉर्मेंस रिलेटेड पे-पीआरपी को लेकर अधिकारियों के चेहरे पर मुस्कान बिखरी हुई है। पिछले साल का पीआरपी भुगतान कर दिया गया है। लेकिन स्टील अथॉरिटी ऑफ इंडिया लिमिटेड-सेल की मुखिया सोमा मंडल, भिलाई स्टील प्लांट के डायरेक्टर इंचार्ज अनिर्बान दासगुप्ता को भी पीआरपी अब तक नहीं मिल सका है।

पीआरपी की राशि को लेकर जहां अधिकारी वर्ग खुश है। वहीं, कर्मचारी वर्ग बकाया एरियर का भुगतान नहीं होने से नाराज हैं। कर्मचारियों के निशाने पर सेल प्रबंधन है। सोशल मीडिया पर भड़ास निकाली जा रही है। इसी बीच एक ऐसी खबर सामने आ गई है, जिससे हर कोई हैरान होने वाला है। तकनीकी कारणों से सेल चेयरमैन सोमा मंडल, बीएसपी के डायरेक्टर इंचार्ज अनिर्बान दासगुप्ता को अब तक पीआरपी का भुगतान नहीं किया गया है।

सेल के स्पोर्ट्स समर कैंप से हजारों को मिली नौकरी, क्रिकेटर राजेश चौहान, अमनदीप खरे व ओलंपियन राजेंद्र प्रसाद भी कैंप की उपज

वहीं, बोकारो स्टील प्लांट के डायरेक्टर इंचार्ज अमरेंदु प्रकाश और दुर्गापुर स्टील प्लांट एवं इस्को बर्नपुर के डायरेक्टर इंचार्ज बीपी सिंह को भी अपने पद का पीआरपी नहीं मिला है। सेल कारपोरेट आफिस के सूत्रों ने बताया कि अमरेंदु प्रकाश को सितंबर 2021 तक का ही पीआरपी मिला है। उन्हें बतौर सीजीएम का ही पीआरपी मिला है। वह सीजीएम से डायरेक्टर इंचार्ज बने हैं।

इसी तरह बीपी सिंह को भी बतौर ईडी का ही पीआरपी मिला है, क्योंकि वह भिलाई स्टील प्लांट से दुर्गापुर तक ईडी ही रहे। पिछले दिनों ही वह डायरेक्टर इंचार्ज का कार्यभार संभाले हैं। इसलिए उन्हें ईडी का ही पीआरपी मिला है।

इधर, बीएसपी आफिसर्स एसोसिएशन के एक पदाधिकारी ने बताया कि भिलाई स्टील प्लांट के अधिकारी वर्ग को एवरेज से भी कम दिया गया है। इंटीग्रेटेड स्टील प्लांट में बीएसपी चौथे स्थान पर है। राउरकेला, बोकारो, दुर्गापुर के बाद बीएसपी का नंबर आया है। वहीं, सेल कारपोरेट आफिस, सेलम, सीएमओ, अलॉय स्टील प्लांट, रांची ट्रेनिंग सेक्टर को एवरेज पीआरपी दिया गया है। जबकि बीएसपी के साथ न्याय नहीं किया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!