पानी की मेन पाइपलाइन पर स्पेशल ढलाई, मरौदा में भरपूर पानी के लिए बीएसपी ने की भलाई

सूचनाजी न्यूज, भिलाई। भीषण गर्मी में मरौदा सेक्टर के रहवासियों को कई दिनों तक पानी नसीब नहीं होने की नौबत आ गई थी। प्यास बुझाना मुश्किल हो जाता, लेकिन कर्मचारियों की मेहनत ने गुल खिलाया और हजारों लोगों के घरों तक भरपूर पानी पहुंचना शुरू हो गया। नगर सेवाएं विभाग के पीएचई के कर्मचारियों ने असंभव को संभव करके दिखाया है। मेन पाइपलाइन टूटने से पानी का प्रेशर डाउन हो चुका था। इसे जोड़ना मुश्किल था। इसलिए पूरी पाइपलाइन को ही बदलने का रास्ता बचा था। कर्मचारियों ने टूटी हुई पाइपलाइन के ऊपर मोटी पाइप को चढ़ाकर वेल्डिंग किया और फिर इसके गैप को भरने के लिए लेड से ढलाई की। इस तरह पूरी पाइप को सुरक्षित कर लिया गया और मजबूत भी। यह कार्य होते ही मरौदा सेक्टर में प्रेशर के साथ पानी पहुंचना शुरू हो गया।

ये खबर भी पढ़ें: Bhilai Steel Plant Incident: स्टील मेल्टिंग शॉप-2 में धमाका, क्रेन से छुटा 120 टन हॉट मेटल के लेडल का हुक, चार कर्मी झुलसे, देखें तस्वीरें

पीएचई के अधिकारियों का कहना है कि पिछले पांच दिन से प्रेशर डाउन हो चुका था। लीकेज पकड़ में आ चुका था। जमीन से रिसाव शुरू हो चुका था। पाइप टूट चुकी थी, इस वजह से अधिक पानी बह रहा था। गुरुवार को क्लैंपिंग करके बंद किया गया था। इसके बाद स्थाई व्यवस्था के तहत लेड को पिघलाकर उसकी ढलाई की गई ताकि पानी सप्लाई बहाल हो सके।

ये खबर भी पढ़ें: सेल-बोकारो स्टील प्लांट ने 169% मुनाफ के साथ सबसे ज्यादा रिकॉर्ड बनाया और तोड़ा 2021-22 में, आप भी जानिए आंकड़े

सीआई पाइप की वेल्डिंग नहीं की जा सकती है। 200 एमएम की कास्ट आयरन पाइप बीच से टूटी थी। खास यह कि लेड पोरिंग यानी ढलाई चार्जमैन एमएस वर्मा ने खुद की। भीषण गर्मी में खुले आसमान के नीचे इस तरह का जॉब करने वाले कर्मचारियों का प्रबंधन ने हौसला बढ़ाया है।

ये खबर भी पढ़ें: ड्यूटी जा रहा सेल कर्मचारी सड़क हादसे का शिकार, वाहन ने मारी ठोकर, मौके पर मौत, दो साल बचा था रिटायरमेंट

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!