10 मिनट में तीन लाख तक इमरजेंसी और आधे घंटे में लीजिए 10 लाख का सामान्य लोन

सोसाइटी का सदस्य बनने के बाद तीन माह की वेतन पर्ची, पांच चेक, दो गारंटर की आवश्यकता पड़ती है। इसके अलावा बीमा पॉलिसी को मॉडगेज कराकर संस्था में जमा करना पड़ता है। इसके बाद सोसाइटी द्वारा दस लाख रुपए का लोन अदा कर दिया जाता है।

अज़मत अली, भिलाई। अगर, आप लोन के लिए परेशान हो रहे हैं। इमरजेंसी लोन के लिए भटक रहे…। पैसे का इंतजाम नहीं हो रहा तो टेंशन मत लीजिए। 10 मिनट में तीन लाख तक इमरजेंसी लोन और आधे घंटे के भीतर 10 लाख रुपए का सामान्य लोन आपको मिल जाएगा। लोन लेने का तरीका आपको सूचनाजी.कॉम बता रहा है। सेल-भिलाई स्टील प्लांट के कर्मचारियों और अधिकारियों की इस्पात कर्मचारी-को-ऑपरेटिव क्रेडिट सोसाइटी लिमिटेड सेक्टर-6 में आपको चाय की चुस्की लेते समय तक लोन देने की व्यवस्था है। इंतजार कराए बगैर लोन दिया जा रहा है। लोन लेने का सही तरीका क्या है, किस तरह आप सदस्य बन सकते हैं और लाभांश हासिल करें, ये सब जानकारी साझा की जा रही है।

ये खबर भी पढ़ें: डिप्लोमा इंजीनियर्स को साथ लेकर खदान का सेफ्टी रूल्स प्लांट में लागू करे सेल, वर्कमैन इंस्पेक्टर से थम जाएंगे हादसे

आप भी जानिए सहकारी समिति से लोन कैसे लें

सोसाइटी के प्रबंधक एम. मुरलीधर ने बताया कि इस्पात कर्मचारी को-ऑपरेटिव क्रेडिट सोसाइटी लिमिटेड सेक्टर-6 द्वारा एक फॉर्म दिया जाता है। इस पर आवेदक का नाम, पदनाम, डिपार्टमेंट, लोन का उद्देश्य, मोबाइल नंबर, पता लिखना होगा। इमरजेंसी लोन के फॉर्म के साथ तीन माह का वेतन पर्ची और चार कैंसिल चेक जमा करना होगा। एक सिंगल पेज का फॉर्म है। इसके बाद सदस्य की नियमित कटौती होने पर लोन दिया जाता है।

अधिकतम 80 किस्तों में अदा कर कर सकते हैं राशि

सोसाइटी के अध्यक्ष बृजबिहारी मिश्र बताते हैं कि इमरजेंसी लोन लेने के लिए न्यूनतम की कोई सीमा नहीं है। अधिकतम तीन लाख तक लोन लिया जा सकता है। इसकी अदायगी 80 सामान्य किस्तों में की जा सकती है। सदस्य सोसाइटी का अंशधारक है। लाभ कमाने पर सोसाइटी का लाभांश भी मिलता है। खास यह कि आप सूदखोरी के चंगुल से बच सकते हैं। अगर, कोई सदस्य तय समय से पहले राशि को अदा करना चाहे तो इस पर सोसाइटी ब्याज की छूट देती है। जब तक लोन है, तभी तक ब्याज वसूली होती है। सोसाइटी इसी अवधि तक का ब्याज लेती है न कि पूरी अवधि का। पूरी अवधि का अनुबंध करने वाले धारक को समय से पहले राशि लौटाने पर फायदा है।

ब्याज की गणना में पादर्शिता

सोसाइटी का पैसा जितने समय तक सदस्य अपने पास रखता है, उतने समय तक का ही ब्याज की गणना की जाती है। शेष अनुबंध समय का ब्याज नहीं लिया जाता है। वहीं, प्राइवेट बैंकों में कम से कम एक साल तक लोन की अदायगी नहीं कर सकते हैं और करते हैं तो उस पर आपको पेनाल्टी देना पड़ेगा।

10 लाख का लोन लेने का तरीका

सोसाइटी का सदस्य बनने के बाद तीन माह की वेतन पर्ची, पांच चेक, दो गारंटर की आवश्यकता पड़ती है। इसके अलावा बीमा पॉलिसी को मॉडगेज कराकर संस्था में जमा करना पड़ता है। इसके बाद सोसाइटी द्वारा दस लाख रुपए का लोन अदा कर दिया जाता है।

क्रेडिट सोसाइटी का सदस्य बनने की प्रक्रिया

एक आवेदन फॉर्म भरने के साथ ही पांच रुपए की रशीद कटवानी पड़ती है। हर माह न्यूनतम 225 रुपए वेतन से कटवाना पड़ेगा। फिर इस फॉर्म को सोसाइटी द्वारा बीएसपी के वेजेस सेक्शन भेज दिया जाता है। वहां से वेतन से पहली कटौती होते ही सदस्य कर्मचारी लोन लेने का पात्र हो जाता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!