कब्जेदारों ने बीएसपी के 2 गार्ड पर किया जानलेवा हमला, धक्का-मुक्की में लगी दोनों पक्ष को चोट, भट्‌ठी थाने में अधिकारी-कर्मचारी को सुननी पड़ी गाली

सूचनाजी न्यूज, भिलाई। भिलाई टाउनशिप में कब्जेदारों की गुंडई बढ़ती जा रही है। लगातार कार्रवाई से बौखलाए कब्जेदारों ने अब मारपीट शुरू कर दी है। मुर्गा चौक पर रास्ता जाम कर कब्जा जमाए ठेला संचालकों ने गुंडई दिखाई है। रास्ते को जाम कर ठेला लगाने वालों को वहां से हटाने के लिए बीएसपी इंफोर्समेंट डिपार्टमेंट के एरिया इंस्पेक्टर ने कहा। किसी ने ध्यान नहीं दिया। कार्रवाई करते हुए ठेला संचालकों का माप-बाट जब्त किया जाने लगा। इससे बौखलाए ठेला संचालकों ने दो गार्ड लाल बहादुर सिंह व विजय सिंह पर हमला बोल दिया। गार्ड को कई थप्पड़ जड़ दिए। वहीं चाकू लेकर मारने के लिए दौड़ा लिया। किसी तरह रोका गया।

ये खबर भी पढ़ें:सेल कर्मचारियों को 60 नहीं 45 ग्राम मिलेगा तनिष्क का चांदी सिक्का

इसी बीच एक अन्य गार्ड से धक्का-मुक्की में तराजू की चेन से दोनों पक्षों के युवकों की अंगुली कट गई। मामूली रूप से जख्मी हुए। राहगीरों ने किसी तरह मामला शांत कराया। बीएसपी इंफोर्समेंट डिपार्टमेंट की टीम मामले की जानकारी देने के लिए नगर सेवाएं विभाग चली गई। इधर-आरोपित ठेला संचालक भट्‌ठी थाने पहुंच गए। पहले हाथापाई की, फिर थाने में जाकर एफआइआर के लिए तहरीर दे दी।

ये खबर भी पढ़ें:SAIL ED: बोकारो स्टील प्लांट ने नारी शक्ति को किया आगे, सेल ईडी का प्रमाण पत्र पत्नियों को सौंपा, देखें फोटो

पुलिस ने सक्रियता दिखाते हुए एफआइआर की प्रक्रिया तक शुरू कर दी। जानकारी लगते ही बीएसपी के अधिकारी-कर्मचारी थाने पहुंचे तो वहां गाली खाने को मिली। पुलिस का यह रूप देख बीएसपी आफिसर्स एसोसिएशन व मान्यता प्राप्त यूनियन इंटक के पदाधिकारियो का होश उड़ गया। तत्काल ही इसकी जानकारी उच्चाधिकारियों को दी गई। साथ ही यह भी चेतावनी दी गई है कि भट्‌ठी थाने की इस हरकत की शिकायत डीजीपी तक की जाएगी। इधर-भट्ठी थाना के टीआई का कहना है कि किसी के साथ गलत बर्ताव नहीं किया गया है। न ही अपशब्दों का प्रयोग हुआ है। दोनों पक्षों की तरफ से एफआइआर की तहरीर आई है। न्याय संगत कार्रवाई की जा रही है।

ये खबर भी पढ़ें:बीएसपी के नए ईडी पीएंडए के नाम है कीर्तिमानों की फेहरिस्त, रेल मिल और प्लेट मिल गवाह

इंफोर्समेंट डिपार्टमेंट के कर्मचारियों को भट्ठी थाना में बैठाए जाने की जानकारी लगते ही स्टील एग्जीक्यूटिव फेडरेशन ऑफ इंडिया-सेफी के चेयरमैन व बीएसपी आफिसर्स एसोसिएशन के अध्यक्ष एनके बंछोर थाने पहुंचे। बीएसपी आफिसर्स एसोसिएशन के महासचिव परविंदर सिंह भी अधिकारियों के साथ पहुंच गए। इसी बीच इंटक के अतिरिक्त महासचिव संजय साहू व श्रमिक नेता चंद्रशेखर बीएसपी के समर्थन में पहुंचे तो वहां का मंजर देखकर हैरान हो गए। संजय साहू ने बताया कि टीआई का बर्ताव बर्दाश्त करने वाला नहीं था। खुलेआम सबको गाली दी जा रही थी। ओए अध्यक्ष भी पुलिस के रवैये से खासा नाराज दिखे। वहीं, इंफोर्समेंट डिपार्टमेंट के कर्मचारियों ने थाना परिसर में ही कहा पुलिस कब्जेदारों को संरक्षण देने जैसा बर्ताव कर रही है। कब्जेदारों के खिलाफ कार्रवाई करने से पुलिस को भी तकलीफ हो रही है। शायद, इसीलिए एक तरफा कार्रवाई करते हुए एफआइआर की प्रक्रिया शुरू कर दी थी।

ये खबर भी पढ़ें:  बीएसपी के पांच सीजीएम बने ईडी, छह महीने के लिए तपन सूत्रधार है ईडी माइंस, फिर होगी नए की तलाश, नए ईडी पीएंडए गद्रे की चुनौतियां बढ़ी

सड़क दुर्घटनाओं को रोकने में लगे इंफोर्समेंट विभाग के कर्मियों पर एफआईआर दर्ज करना गलत

बीएसपी वर्कर्स यूनियन के अध्यक्ष उज्जवल दत्ता ने कहा कि भिलाई इस्पात संयंत्र के इंफोर्समेंट विभाग के द्वारा सड़क के पर जबरन खड़े ठेलो को हटाया जाता है, जिससे बीएसपी कर्मियों को दुर्घटनाओं से बचाया जा सके। परंतु इस पर जबरन सड़क पर खड़े ठेले वाले बीएसपी के कर्मियों से दुर्व्यवहार करते हैं। और कर्मियों पर ही झूठा एफआईआर करते हैं। ऐसी परिस्थिति में अवैध निर्माण हटाने वाले बीएसपी कर्मियों के हौसले कम होंगे। अवैध निर्माण हटाने के काम में बाधा आएगी। बीएसपी वर्कर्स यूनियन बीएसपी कर्मियों के साथ है और किसी कीमत पर कर्मियों का अपमान बर्दास्त नहीं करेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!